Tuesday, June 25, 2024
Homeराजनीतिबंगाल: पेड़ से लटका मिला BJP कार्यकर्ता गणेश का शव, बेटे ने TMC पर...

बंगाल: पेड़ से लटका मिला BJP कार्यकर्ता गणेश का शव, बेटे ने TMC पर लगाया हत्या का आरोप

"आज हमारे मंडल सचिव गणेश रॉय की हत्या कर दी गई और उनके शव को पेड़ से लटका दिया गया, ऐसा हर रोज हो रहा है, सीपीएम अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदियों की हत्याकर उन्हें गाड़ दिया करती थी, टीएमसी उन्हें लटका देती है।"

पश्चिम बंगाल में तृणमूल कॉन्ग्रेस पर फिर से एक भाजपा कार्यकर्ता की हत्या करने का आरोप लगा है। गणेश रॉय (Ganesh Roy) का शव रविवार (सितम्बर 13, 2020) सुबह गोघाट स्टेशन (Goghat) के पास एक पेड़ से लटका हुआ मिला।

इसकी सूचना मिलते ही गोघाट पुलिस मौके पर पहुँची। इस घटना के कारण रविवार सुबह से ही गोघाट स्टेशन से सटे इलाकों के लोगों में दहशत है। रिपोर्ट्स के अनुसार, गणेश रॉय अपने इलाके में एक सक्रिय भाजपा कार्यकर्ता के रूप में जाने जाते थे। परिवार के सदस्यों का कहना है कि गणेश बाबू शनिवार (सितम्बर 12, 2020) दोपहर से ही लापता थे।

शव रविवार सुबह ही स्टेशन के पास एक पेड़ से लटका मिला। उनके बेटे ने आरोप लगाया कि उसके पिता की हत्या करने और शव को पेड़ पर लटकाने में तृणमूल कॉन्ग्रेस का हाथ है।

पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीष घोष ने कहा है कि मृतक गणेश रॉय भाजपा कार्यकर्ता था और उसकी हत्या सत्ताधारी टीएमसी के लोगों ने की है। टीएमसी पर हत्या का आरोप लगाते हुए दिलीप घोष ने कहा, “आज हमारे मंडल सचिव गणेश रॉय की हत्या कर दी गई और उनके शव को पेड़ से लटका दिया गया, ऐसा हर रोज हो रहा है, सीपीएम अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदियों की हत्याकर उन्हें गाड़ दिया करती थी, टीएमसी उन्हें लटका देती है।”

मृतक गणेश रॉय का परिवार गोघाट पुलिस स्टेशन में हत्या का मुकदमा दर्ज कराने जा रहा है। घटना के बाद इलाके में भाजपा कार्यकर्ता आक्रोशित हैं और उन्होंने आरामबाग-मेदिनीपुर जाने वाले मार्ग को अवरुद्ध कर दिया। पुलिस ने भी इस घटना पर अभी तक कोई बयान नहीं दिया है। हालाँकि, उन्होंने मौके पर जाँच के बाद पूरी घटना की छानबीन शुरू कर दी है।

बंगाल में जारी है भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या का सिलसिला

बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ हो रही गुंडागर्दी नई नहीं है। इसी स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने को लेकर हुगली के आरामबाग के नसीबपुर ग्राम पंचायत क्षेत्र में भी एक भाजपा पंचायत सदस्य की हत्या कर दी गई। इसके बाद भी इलाके में राजनीतिक तनाव फैल गया था।

अगले दिन, स्थानीय भाजपा नेतृत्व ने विरोध में गोघाट, आरामबाग में 12 घंटे के बंद का आह्वान किया और हत्या के लिए मुकदमा चलाने की माँग के बाद रविवार को गोगाट की इस घटना ने कि बंगाल में अभी भी कुछ नहीं बदला है।

इस घटना की निंदा करते हुए पश्चिम बंगाल में भाजपा के केंद्रीय पर्यवेक्षक कैलाश विजयवर्गीय ने ट्विटर पर लिखा था, “भय, आतंक, गुंडागर्दी, अराजकता और हिंसा जब किसी राजनीतिक दल की कार्यशैली का अधिकृत अंग हो जाए तो समझ लीजिए उसका अंत निकट है। उसका जनता के बीच जाने का साहस खत्म हो गया है। वो जनता को डराकर उन्हें दूर भगाना चाहती है। बंगाल का बच्चा-बच्चा बोल रहा है, ममता शासन डोल रहा है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

‘जिन्होंने इमरजेंसी लगाई वे संविधान के लिए न दिखाएँ प्यार’: कॉन्ग्रेस को PM मोदी ने दिखाया आईना, आपातकाल की 50वीं बरसी पर देश मना...

इमरजेंसी की 50वीं बरसी पर पीएम मोदी ने कॉन्ग्रेस पर निशाना साधा। साथ ही लोगों को याद दिलाया कि कैसे उस समय लोगों से उनके अधिकार छीने गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -