Tuesday, September 28, 2021
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेसी CM, बेटी के ससुराल का मेडिकल कॉलेज और विधानसभा से बिल पास: धोखाधड़ी,...

कॉन्ग्रेसी CM, बेटी के ससुराल का मेडिकल कॉलेज और विधानसभा से बिल पास: धोखाधड़ी, ₹125 करोड़ का कर्ज – आरोप ही आरोप

छत्तीसगढ़ के चंदूलाल चंद्राकर मेमोरियल मेडिकल कॉलेज के अधिग्रहण के लिए विधेयक को विधानसभा से पास करा लिया गया। बीजेपी ने इसका कड़ा विरोध भी किया। CM बघेल की बेटी के ससुराल से संबंधित यह कॉलेज...

छत्तीसगढ़ के दुर्ग स्थित चंदूलाल चंद्राकर मेमोरियल मेडिकल कॉलेज के अधिग्रहण का रास्ता अब साफ हो गया है। प्रदेश की कॉन्ग्रेस सरकार ने गुरुवार (29 जुलाई 2021) को कॉलेज अधिग्रहण विधेयक को विधानसभा से पास करा लिया। बीजेपी ने इसका कड़ा विरोध भी किया है। जबकि, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने इसे लोकहित का कार्य करार दिया है।

चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज अधिग्रहण विधेयक-2021 को स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने सदन में पेश किया। उन्होंने इस विधेयक को पेश करने का मुख्य उद्देश्य छात्रों के हितों की रक्षा करना बताया है। मंत्री ने कहा कि सामान्यतया एक मेडिकल कॉलेज के निर्माण में 3-4 साल का समय लगता है, लेकिन उनके अनुसार इस कॉलेज के बुनियादी ढाँचे पर काम शुरू कर सकते हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने खुलासा किया है कि इस संस्था को चलाने के लिए हर साल करीब 140 करोड़ रुपए खर्च करने होंगे। इसके साथ ही उन्होंने दुर्ग और बिलासपुर में मेडिकल कॉलेज को लेकर कहा कि इन दोनों कॉलेजों का खर्च प्रतिवर्ष 200-200 करोड़ रुपए है। उन्होंने ये भी कहा कि जय-वीरू की जोड़ी साथ है तो आपको तकलीफ हो रही है। इस पर पलटवार करते हुए बीजेपी नेता शिवरतन सिंह ने कहा, “मैं आपको जय-वीरू की जोड़ी बोलूँ या वीरू-गब्बर की। पता है न, जय का क्या हाल होता है?”

साभार: नई दुनिया

नई दुनिया की रिपोर्ट के मुताबिक, सदन में चर्चा के दौरान मुख्य विपक्षी बीजेपी ने इस पर संशोधन के लिए मतदान की माँग की थी, लेकिन विपक्ष का संशोधन प्रस्ताव 16 के मुकाबले 56 मतों से गिर गया।

कर्ज में डूबे कॉलेज का अधिग्रहण क्यों?

इस विधेयक को लेकर भूपेश बघेल सरकार पर निशाना साधते हुए पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह ने पूछा कि जब बजट से ये स्पष्ट हो गया है कि राज्य की आर्थिक हालत खस्ता है तो फिर कर्ज में डूबे मेडिकल कॉलेज के अधिग्रहण की योजना कैसे बनी? उन्होंने कहा कि इसमें कहीं भी छात्रहित नहीं दिख रहा है। इस मेडिकल कॉलेज पहले ही धोखाधड़ी के आरोप लगे हैं और इस पर 125 करोड़ रुपए का कर्ज भी है।

गौरतलब है कि चंदूलाल चंद्राकर मेमोरियल मेडिकल कॉलेज दुर्ग के संबंध में विवाद इसलिए हो रहा है, क्योंकि कॉलेज का मालिकाना हक उस परिवार के पास है, जिसमें बघेल की बेटी की शादी हुई है। सीएम भूपेश बघेल की बेटी दिव्या की शादी मंगल प्रसाद चंद्राकर के भतीजे क्षितिज चंद्राकर से हुई है। क्षितिज ‘ऑल इंडिया प्रोफेसनल कॉन्ग्रेस’ की छत्तीसगढ़ यूनिट के अध्यक्ष भी हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe