Saturday, May 18, 2024
Homeराजनीतिमल्लिकार्जुन खड़गे और उनके परिवार की हत्या होगी? कर्नाटक चुनाव से पहले कॉन्ग्रेस पगलाई,...

मल्लिकार्जुन खड़गे और उनके परिवार की हत्या होगी? कर्नाटक चुनाव से पहले कॉन्ग्रेस पगलाई, चलाई अंजान रिकॉर्डिंग

सुरजेवाला ने मीडिया में आरोप लगाते हुए कहा, कर्नाटक की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को नकार दिया है और कॉन्ग्रेस पर अपना प्यार लुटा रही है। यह बात बीजेपी को हजम नहीं हो रही है। इसलिए वह कॉन्ग्रेस अध्यक्ष और उनके परिवार की हत्या की साजिश रच रहे हैं।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले कॉन्ग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाया है कि वह कॉन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और उनके परिवार की हत्या की साजिश रच रहे हैं। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इस संबंध में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहा कि भाजपा इतना गिर गई कि कॉन्ग्रेस अध्यक्ष की हत्या कराना चाहती है।

सुरजेवाला ने मीडिया में कहा, कर्नाटक की जनता कॉन्ग्रेस पर अपना प्यार लुटा रही है और भारतीय जनता पार्टी को उन्होंने नकार दिया है। यही बात पार्टी को हजम नहीं हो रही है। इसलिए वह कॉन्ग्रेस अध्यक्ष और उनके परिवार की हत्या की साजिश रच रहे हैं।

अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक रिकॉर्डिंग चलाई और दावा किया कि ये चित्तापुर से भाजपा प्रत्याशी की आवाज है। सुरजेवाला ने कहा कि ये शख्स पीएम मोदी और सीएम बसवराज बोम्मई दोनों का करीबी है। उन्होंने कहा कि एक तरह की केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार में कर्नाटक के बेटे मल्लिकार्जुन खड़गे को लेकर एक नफरत है। भाजपा यह बर्दाश्त नहीं कर पा रही है कि आखिर एक दलित परिवार में पैदा हुए गरीब फैक्ट्री मजदूर मल्लिकार्जुन खड़गे कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद तक पहुँचे।

उन्होंने कहा कि 27 फरवरी 2023 को कर्नाटक ने देखा था कि कैसे पीएम मोदी ने मल्लिकार्जुन खड़गे का अपमान किया। इसके बाद 2 मई को भाजपा विधायक मदन दिलावर ने मल्लिकार्जुन के निधन की कामना यह कहकर की कि कॉन्ग्रेस अध्यक्ष 80 साल के हैं, भगवान उन्हें कभी भी बुला सकता है। इसके बाद सुरजेवाला ने जोर देकर कहा कि भाजपा कॉन्ग्रेस अध्यक्ष और उनकी बीवी उनके परिवार को मारने की साजिश रच रही है। उन्होंने कहा, “भाजपा की कुंठा और नफरत खतरनाक मुकाम पर पहुँच गई है।”

बता दें कि कर्नाटक चुनाव से पहले राज्य में कॉन्ग्रेस और भाजपा के बीच टकरार बढ़ गई है। मतदान 10 मई को होना है और नतीजे 13 मई को आएँगे। इससे पहले ओपिनियन पोल्स ने अपने अनुमान बता दिए हैं। किसी पोल में जहाँ भारतीय जनता पार्टी को सबसे बड़ी पार्टी बनता दिखाया गया है तो किसी में कहा गया है कि कॉन्ग्रेस बाजी मार सकती है। पिछले दिनों राज्य में कॉन्ग्रेस के घोषणा पत्र के बाद बवाल हुआ था। उसमें उन्होंने बजरंग दल पर बैन की बात कही थी। हालाँकि बाद में आकर कॉन्ग्रेस नेता ही ये कहने लगे कि राज्य सरकार ऐसा नहीं कर सकती हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘AAP झूठ की बुनियाद पर बनी पार्टी, इसकी विश्वसनीयता शून्य नहीं, माइनस में’ – BJP के साथ स्वाति मालीवाल मुद्दे पर जेपी नड्डा का...

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल लंबे समय से भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और उनके ही इशारे पर ये साजिश रची गई।

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -