Tuesday, February 27, 2024
Homeराजनीति'शशि थरूर नेता नहीं, वह गेस्ट आर्टिस्ट बनकर कॉन्ग्रेस में आए थे और आज...

‘शशि थरूर नेता नहीं, वह गेस्ट आर्टिस्ट बनकर कॉन्ग्रेस में आए थे और आज भी गेस्ट आर्टिस्ट ही हैं’

"शशि थरूर नेता नहीं हैं। वे 2009 में कॉन्ग्रेस में गेस्ट आर्टिस्ट बनकर आए थे। आज भी वे गेस्ट आर्टिस्ट जैसे ही हैं। वे ग्लोबल सिटीजन हो सकते हैं। उनके पास काफी जानकारी है लेकिन उनका रवैया बताता है कि राजनीतिक रूप से वे अपरिपक्व हैं।"

सोनिया गॉंधी के एक बार फिर अंतरिम अध्यक्ष चुने जाने के बावजूद पार्टी का आंतरिक कलह थमता नहीं दिख रहा। पार्टी नेता एक-दूसरे पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे। लोकसभा में कॉन्ग्रेस के मुख्य सचेतक के सुरेश ने तिरुवनंतपुरम से पार्टी सांसद शशि थरूर पर निशाना साधा है।

के सुरेश ने शुक्रवार (28 अगस्त, 2020) को कहा, “शशि थरूर नेता नहीं हैं। वे 2009 में कॉन्ग्रेस में गेस्ट आर्टिस्ट बनकर आए थे। आज भी वे गेस्ट आर्टिस्ट जैसे ही हैं। वे ग्लोबल सिटीजन हो सकते हैं। उनके पास काफी जानकारी है लेकिन उनका रवैया बताता है कि राजनीतिक रूप से वे अपरिपक्व हैं।”

इससे पहले थरूर ने ट्वीट कर कहा था, ‘‘मैं कॉन्ग्रेस में हाल की घटनाओं पर चार दिन से चुप था, क्योंकि जब एक बार कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष ने कह दिया कि यह अब कोई मुद्दा नहीं रह गया है, तो हम सभी का कर्तव्य है कि हम साथ मिलकर पार्टी के हित में काम करें। मैं अपने सभी साथियों से इस सिद्धांत को बरकरार रखने और बहस को समाप्त करने का अनुरोध करता हूँ।’’

गौरतलब है कि कॉन्ग्रेस में तत्काल सांगठनिक बदलाव की माँग करते हुए 23 वरिष्ठ नेताओं ने सोनिया गाँधी को पत्र लिखा था। बताया जाता है कि यह पत्र लिखने का फैसला एक डिनर में हुआ था जिसे थरूर ने पार्टी नेताओं के लिए आयोजित किया था। इस पत्र की टाइमिंग को लेकर राहुल गॉंधी ने भी सवाल उठाए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आर्टिकल 370 ने बॉक्स ऑफिस पर गाड़ा झंडा, लेकिन खाड़ी के मुस्लिम देशों में लग गया बैन, जानिए क्या है पूरा मामला

आर्टिकल फिल्म ने शुरुआती तीन दिनों में ही करीब 26 करोड़ का बिजनेस कर लिया। इस बीच, खबर सामने आ रही है कि खाड़ी देशों के 6 देशों में से 5 देशों ने आर्टिकल 370 फिल्म पर बैन लगा दिया है।

‘हालेलुइया… मैं गरीब थी अब MLA बन गई हूँ’: जो पादरी रेप के आरोप में हुआ था गिरफ्तार, उसके पैरों में झुकी कॉन्ग्रेस की...

छत्तीसगढ़ की कॉन्ग्रेस विधायक कविता प्राण लहरे का रेप के आरोपित पादरी बजिंदर सिंह को 'पप्पा जी' कहने और पैर छूने का वीडियो वायरल

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe