Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीति'कॉन्ग्रेस नेता ने बेटी को बनाया बंधक' - मंत्री के सामने माँ-बेटी ने थप्पड़-चप्पलों...

‘कॉन्ग्रेस नेता ने बेटी को बनाया बंधक’ – मंत्री के सामने माँ-बेटी ने थप्पड़-चप्पलों से पीटा: भाग कर खाया जहर

"युवा कॉन्ग्रेस नेता ओनिमेश सिन्हा ने बड़ी बेटी को बंधक बनाया था। मोहल्ले में घुस कर गाली-गलौच और मारपीट कर चुका है।"

कॉन्ग्रेस नेताओं की चुनौतियाँ ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं, चाहे राजनीतिक हों या सामाजिक। ऐसी ही एक घटना हुई छत्तीसगढ़ स्थित अंबिकापुर के सरगुजा में, जहाँ एक महिला ने अपनी दो बेटियों के साथ मिल कर युवा कॉन्ग्रेस नेता ओनिमेश सिन्हा को थप्पड़ मारा और चप्पल से पिटाई की। घटना के वक्त सरगुजा जिले के प्रभारी मंत्री और नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहेरिया भी मौजूद थे।

इस घटना के बाद कॉन्ग्रेस नेता ने जहर खा लिया। जहर खाने से पहले ओनिमेश सिन्हा ने फेसबुक पर एक पोस्ट भी किया था, जिसमें उन्होंने लिखा था, “मैं जा रहा हूँ साथियों भोलेनाथ के पास, अलविदा! मेरे जाने के बाद सत्य की जीत होगी अलविदा।”

फ़िलहाल युवा कॉन्ग्रेस नेता ओनिमेश सिन्हा को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है और पुलिस ने मामले की जाँच शुरू कर दी है। इस घटना की वजह से कॉन्ग्रेस के छत्तीसगढ़ नेतृत्व में खलबली मची हुई है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक़ सरगुजा स्थित शंकरगढ़ क्षेत्र की निवासी महिला ने आरोप लगाया था कि युवा कॉन्ग्रेस नेता ओनिमेश सिन्हा ने उनकी बड़ी बेटी को बंधक बनाया था। महिला ने इस घटना की शिकायत कोतवाली में की थी। इस मामले पर कोई कार्रवाई नहीं होने पर पीड़िता की माँ ने आईजी से भी शिकायत की थी।

26 जनवरी के मौके पर ओनिमेश सिन्हा छत्तीसगढ़ की कॉन्ग्रेस सरकार में मंत्री शिव डहेरिया से मिलने सरगुजा सर्किट पहुँचे। पीड़िता की माँ को इस बात की जानकारी मिली तो वह अपनी दो बेटियों के साथ वहाँ पहुँच गईं। पहुँचते ही उन्होंने युवा कॉन्ग्रेस नेता को सभी के सामने थप्पड़ जड़ दिया। उनके तेवर देख कर ओनिमेश को वहाँ से भागना पड़ा।

इस घटना की जानकारी मिलते ही एसपी टीआर कोशिमा मौके पर पहुँचे और उन्होंने हालात सामान्य कराए। इस बात से निराश होकर ओनिमेश ने गुरूवार की सुबह जहर खा लिया। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टर्स का कहना है कि वह फ़िलहाल ख़तरे से बाहर हैं लेकिन उन्हें आईसीयू में रखा गया है। 

कॉन्ग्रेस के अन्य नेताओं का कहना है कि ये वारदात ओनिमेश का राजनीतिक करियर ख़त्म करने की साजिश है। ये कॉन्ग्रेस नेता की छवि धूमिल करने और उन्हें साज़िश में फँसाने के लिए किया गया है।

आरोप लगाने वाली महिला ने ओनिमेश सिन्हा की शिकायत मंत्री शिव डहेरिया से भी की। उन्होंने आरोप लगाया कि ओनिमेश उनके मोहल्ले में घुस कर गाली-गलौच और मारपीट कर चुका है। उन पर पहले से ही तमाम आपराधिक मामले दर्ज हैं। महिला की सारी बातें सुनने के बाद शिव डहेरिया ने कहा कि इस मामले की निष्पक्ष जाँच कराई जाएगी।  

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe