Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेसी सुरजेवाला ने रसोई गैस की कीमत पर फैलाया झूठ, ₹247 की कमी को...

कॉन्ग्रेसी सुरजेवाला ने रसोई गैस की कीमत पर फैलाया झूठ, ₹247 की कमी को बताया ₹302 का इजाफा

बिना सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर की कीमतों में करीब 76 रुपए का इजाफा हुआ है। इसको लेकर सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि मई 2014 के मुकाबले कीमत में ₹302.50 का इजाफा हो चुका है। लेकिन, उनका यह दावा सरासर झूठ है। उन्होंने आरोप गढ़ने के लिए दो अलग-अलग कीमतों की तुलना की है।

मोदी सरकार को घेरने के लिए आँकड़ों को गलत तरीके से पेश कर झूठ फैलाने के हुनर का रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक बार फिर प्रदर्शन किया है। हालिया हरियाणा विधानसभा चुनाव में धूल चाटने वाले सुरजेवाला कॉन्ग्रेस के कम्युनिकेशन सेल के मुखिया हैं। उन्होंने घरेलू गैस यानी एलपीजी की कीमतों में इजाफे को लेकर सरकार की आलोचना करते हुए हेराफेरी की कोशिश की है। बिना सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर की कीमत में 76. 50 रुपए की वृद्धि की गई है। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की इंडेन ब्रांड एलपीजी सिलेंडर (14.2 किलोग्राम) की कीमत ₹605 से बढ़कर ₹681.50 रुपए हो गई है।

इस इजाफे को लेकर राहुल गॉंधी के करीबी सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि आज 14.2 किलोग्राम वाले LPG सिलेंडर की क़ीमत ₹716.50 है, जबकि 16 मई 2014 को इसकी क़ीमत ₹414.00 थी। यानी, तब से अब तक कीमतों में ₹302.50 का इजाफा हो चुका है। लेकिन, सुरजेवाला का यह दावा सरासर झूठ है। उन्होंने आरोप गढ़ने के लिए दो अलग-अलग कीमतों की तुलना की है।

मूल्य में यह अंतर बताने के लिए सुरजेवाला ने बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर की मौजूदा कीमत की तुलना सब्सिडी वाले सिलेंडर के 2014 की कीमत से की है। लेकिन, यदि बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर की आज की कीमत की तुलना 2014 से की जाए तो पता चलता है कि कीमतों में कमी आई है। IOCL की वेबसाइट पर सूचीबद्ध क़ीमतों के अनुसार, दिल्ली में 1 मई 2014 को ग़ैर-सब्सिडी वाले LPG की क़ीमत ₹928.50 थी और उसी साल जनवरी में इसकी क़ीमत ₹1241.00 थी। मौजूदा कीमत (₹681.50) से तुलना करें तो पता चलता है कि 2014 से यह ₹247.00 सस्ती है न कि ₹302.50 महॅंगी, जैसा सुरजेवाला ने दावा किया है।

LPG prices in 2014

2014 में LPG की क़ीमत

ग़ौर करने वाली बात यह है कि यूपीए सरकार के दौरान सालाना सब्सिडी वाले 9 सिलेंडर मिलते थे जिसे मोदी सरकार ने बढ़ाकर 12 कर दिया है। डीबीटीएल योजना के तहत, LPG खरीदने के लिए पूरे पैसे का भुगतान करना होता है और सब्सिडी की राशि सीधे उपभोक्ताओं के बैंक खाते में आ जाती है।

अन्य सभी पेट्रोलियम उत्पादों की तरह LPG की क़ीमतें भी बाज़ार पर निर्भर है। वैश्विक आधार पर तेल की क़ीमतें ऊपर-नीचे होती हैं। पेट्रोल और डीजल के विपरीत, LPG पर केवल 5% GST लागू होता है। इसलिए, ग़ैर-रियायती मूल्य पर सरकार का थोड़ा नियंत्रण है। लेकिन सरकार सब्सिडी राशि बदलती रहती है ताकि उपभोक्ताओं को रसोई गैस के लिए बहुत अधिक भुगतान न करना पड़े।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चक दे इंडिया: ओलंपिक के 60 मिनट और भारतीय महिला हॉकी टीम ने रचा इतिहास

यह पहली बार हुआ है कि भारतीय महिला हॉकी टीम ने सबको हैरान करते हुए इस तरह जीत हासिल की। 1980 के मॉस्को ओलंपिक में टीम को चौथा स्थान मिला था।

JNU का छात्र-AISA से लिंक, छात्राओं के यौन शोषण में घिरा: अश्लील तस्वीरें भी वायरल की, स्कॉलरशिप पर जा रहा रूस

JNU के छात्र केशव कुमार पर दो छात्राओं के साथ यौन शोषण के आरोप लगे हैं। वो AISA से जुड़ा रहा है। यौन हिंसा व तस्वीरें वायरल करने के भी आरोप।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,557FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe