Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिपूर्व मंत्री तारिक़ अनवर ने मोदी के वंश पर उठाए सवाल, कॉन्ग्रेस MLA ने...

पूर्व मंत्री तारिक़ अनवर ने मोदी के वंश पर उठाए सवाल, कॉन्ग्रेस MLA ने बताया नामर्द

भाजपा ने कहा कि तारिक़ अनवर का बयान कॉन्ग्रेसी नेताओं की सामूहिक वंशवादी मानसिकता को दर्शाता है जो केवल एक परिवार की ही गुलामी करना जानते हैं।

नरेंद्र मोदी द्वारा वंशवाद को लेकर लिखे गए ब्लॉग प्रकाशित होने के बाद कॉन्ग्रेसी नेता बौखला गए हैं और उन्होंने प्रधानमंत्री को लेकर व्यक्तिगत और आपत्तिजनक टिप्पणियाँ करनी शुरू कर दी हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री तारिक़ अनवर ने नरेंद्र मोदी पर व्यक्तिगत छींटाकशी करते हुए कहा कि वे इस तरह बोल रहे हैं क्योंकि उनका कोई वंश ही नहीं रहा है। उन्होंने पूछा कि जिसका कोई वंश ही न हो, वो कैसे ये बातें कह सकता है? उन्होंने कहा कि चूँकि मोदीजी को आगे भी अपना वंश बढ़ाना नहीं है, इसीलिए इस तरह की बातें कर रहे हैं। तारिक़ अनवर के इस बयान की निंदा करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने इसे ‘बिलकुल घिनौना बयान’ करार दिया। अनवर पाँच बार लोकसभा और 2 बार राज्यसभा के सांसद रह चुके हैं।

भाजपा ने कहा कि तारिक़ अनवर का बयान कॉन्ग्रेसी नेताओं की सामूहिक वंशवादी मानसिकता को दर्शाता है जो केवल एक परिवार की ही गुलामी करना जानते हैं। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने अनवर के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि देश के 130 करोड़ लोग ही मोदी के परिवार हैं। ये भाजपा में ही है, जहाँ एक बूथ स्तरीय कार्यकर्ता पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकता है। उन्होंने नितिन गडकरी और अमित शाह का उदाहरण देते हुए ऐसा कहा। प्रसाद ने प्रधानमंत्री के उस बयान की याद दिलाई, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन पर फेंके जाने वाले गलियों के पत्थर से वे आगे बढ़ने के लिए सीढ़ी बना लेते हैं।

उधर कर्णाटक कॉन्ग्रेस के विधायक बी नारायण राव ने भी पीएम पर ओछी टिप्पणी करते हुए उन्हें नामर्द बताया। विधायक ने कहा कि जो लोग शादी कर सकते हैं लेकिन बच्चे नहीं पैदा कर सकते, वे नामर्द हैं। उन्होंने कहा कि मोदी झूठ बोलने वाले प्रधानमंत्री हैं, काम करने वाले नहीं। नारायण कर्णाटक के बसवकल्याण से विधायक हैं। बीदर लोकसभा क्षेत्र के भीतर आने वाले बसवकल्याण से बी नारायण ने 2018 में कॉन्ग्रेस के टिकट पर जीत दर्ज की थी।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ब्लॉग में कॉन्ग्रेस और वंशवादी राजनीति पर करारा वार किया है। पीएम ने लिखा कि 2014 के जनादेश को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि तब भारत के इतिहास में पहली बार किसी गैर वंशवादी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिला था। उन्होंने लिखा, ‘तब आम चुनाव में देशवासियों ने भ्रष्टाचार में डूबी उस सरकार से मुक्ति पाने और एक बेहतर भविष्य के लिए मतदान किया था। जब कोई सरकार ‘फैमिली फर्स्ट’ की बजाए ‘इंडिया फर्स्ट’ की भावना के साथ चलती है तो यह उसके काम में भी दिखाई देता है। यह हमारी सरकार की नीतियों और कामकाज का ही असर है कि बीते 5 वर्षों में भारत दुनिया की शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो गया है।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ब्लॉग को शब्दशः पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,090FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe