Tuesday, September 21, 2021
Homeराजनीतियूपी में कॉन्ग्रेस का 'त्याग', सपा-बसपा-रालोद के बड़े नेताओं के लिए छोड़ी 7 सीटें

यूपी में कॉन्ग्रेस का ‘त्याग’, सपा-बसपा-रालोद के बड़े नेताओं के लिए छोड़ी 7 सीटें

कॉन्ग्रेस पहले तो सपा-बसपा पर हमलावर रही लेकिन ताज़ा ऐलान जनता के लिए काफ़ी भ्रामक है क्योंकि कॉन्ग्रेस ने महागठबंधन के बड़े नेताओं व उनके परिवार की सीटों पर उम्मीदवार न उतारने का निर्णय लिया है।

उत्तर प्रदेश में महागठबंधन और कॉन्ग्रेस के बीच आँख-मिचौली का खेल जारी है। पहले कॉन्ग्रेस, सपा और बसपा के साथ लड़ने की ख़बर आ रही थी लेकिन अखिलेश यादव और मायावती ने कॉन्ग्रेस पार्टी को दरकिनार कर सीटों का समझौता कर लिया। पत्रकारों द्वारा बार-बार पूछने के बावजूद अखिलेश कहते रहे कि उनके गठबंधन में कॉन्ग्रेस शामिल है और 2 सीटों पर लड़ रही है।

यूपी महगठबंधन ने गाँधी परिवार की पारम्परिक लोकसभा सीटों पर प्रत्याशी न उतारने का फ़ैसला किया है। कॉन्ग्रेस पहले तो सपा-बसपा पर हमलावर रही लेकिन ताज़ा ऐलान जनता के लिए काफ़ी भ्रामक है क्योंकि कॉन्ग्रेस ने महागठबंधन के बड़े नेताओं व उनके परिवार की सीटों पर उम्मीदवार न उतारने का निर्णय लिया है। इस घोषणा के अनुसार सपा का गढ़ कहे जाने वाले मैनपुरी, कन्नौज और फ़िरोज़ाबाद सीट छोड़ने का निर्णय लिया है।

मैनपुरी से सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव चुनाव लड़ने वाले हैं। कन्नौज से पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव सपा से ताल ठोकेंगी। वहीं फ़िरोज़ाबाद से वरिष्ठ सपा नेता रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव को टिकट दिया गया है। हालाँकि, चर्चा है कि सपा से अलग हो चुके मुलायम के भाई शिवपाल यादव के भी चुनाव लड़ने की संभावना है। ऐसे में, सपा का पारिवारिक कलह एक बार फिर सतह पर आता दिख रहा है। फिलहाल कॉन्ग्रेस ने इन तीनों सीटों पर उम्मीदवार नहीं उतारने का निर्णय लिया है। इसके अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाक़ों में प्रभाव रखने वाले रालोद संस्थापक अजीत सिंह जिस भी सीट से चुनाव लड़ेंगे, कॉन्ग्रेस वहाँ अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी

चौधरी अजीत सिंह के बेटे जयंत सिंह के ख़िलाफ़ भी कॉन्ग्रेस उम्मीदवार नहीं उतारेगी। बसपा अध्यक्ष मायावती के ख़िलाफ़ भी कॉन्ग्रेस उम्मीदवार नहीं खड़ा करेगी। उत्तर प्रदेश कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने ऐलान किया कि पीलीभीत और गोंडा सीटों को अपना दल के लिए छोड़ दिया जाएगा। इसके अलावा कॉन्ग्रेस ने जान अधिकार पार्टी व महान दल के साथ भी गठबंधन का ऐलान किया।

कॉन्ग्रेस ने अब तक यूपी में अपने 35 प्रत्याशियों के नाम जारी कर दिए हैं। प्रियंका गाँधी ने लखनऊ पहुँच कर कार्यकर्ताओं के साथ मुलाक़ातों का दौर शुरू कर दिया है। उन्होने प्रदेश की जनता से एक पत्र के माध्यम से कॉन्ग्रेस को वोट देने की अपील की। प्रियंका 18 से 20 मार्च तक प्रयागराज, भदोही, मिजार्पुर और वाराणसी के दौरे पर रहेंगी। इसका कार्यक्रम पहले ही जारी हो चुका है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe