घर के बाहर भाजपा का झंडा दिखा तो दिन में तारे दिखा दूँगा: कॉन्ग्रेस MLA

राकांपा-कॉन्ग्रेस गठबंधन से बड़े नेता लगातार भाजपा-शिव सेना गठबंधन की ओर जा रहे हैं। 2019 लोकसभा चुनाव के बाद इस दलबदल की शुरुआत कॉन्ग्रेस नेता और विधानसभा के नेता विपक्ष राधाकृष्ण विखे पाटिल से हुई थी।

महाराष्ट्र कॉन्ग्रेस के नेता सुनील केदार ने अपने क्षेत्र के लोगों को भाजपा के झंडे लगाने पर हिंसा की धमकी दी है। केदार का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब महाराष्ट्र में आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारियाँ ज़ोर पकड़ रहीं हैं।

पार्टी में टूट रोकने का यह है तरीका?

टाइम्स नाउ के मुताबिक केदार ने यह बयान उस समय दिया जब वह नागपुर में अपनी पार्टी के नेताओं और जनप्रतिनिधियों के बीच पार्टी छोड़ने की भगदड़ रोकने की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने अपने क्षेत्र के एक गाँव में कहा, “अगर मैंने भाजपा का झंडा तुम्हारे घर के बाहर देखा, तो दिन में तारे दिखा दूँगा।”

गौरतलब है कि राकांपा-कॉन्ग्रेस गठबंधन से बड़े नेता लगातार भाजपा-शिव सेना गठबंधन की ओर जा रहे हैं। 2019 लोकसभा चुनाव के बाद इस दलबदल की शुरुआत कॉन्ग्रेस नेता और विधानसभा के नेता विपक्ष राधाकृष्ण विखे पाटिल से हुई थी। उनके पहले उनके बेटे सुजय को भाजपा के टिकट पर अहमदनगर से सफलता मिल चुकी थी। राधाकृष्ण को जून में पार्टी में शामिल होने के बाद फडणवीस ने राज्य सरकार में काबीना मंत्री बनाया है। उसके बाद जुलाई में 7 बार के MLA कालीदास कोलंबकर ने जुलाई में, और हर्षवर्धन पाटिल ने हाल में कॉन्ग्रेस छोड़कर भगवा पार्टी का दामन थामा है

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी हत्याकांड
आपसी दुश्मनी में लोग कई बार क्रूरता की हदें पार कर देते हैं। लेकिन ये दुश्मनी आपसी नहीं थी। ये दुश्मनी तो एक हिंसक विचारधारा और मजहबी उन्माद से सनी हुई उस सोच से उत्पन्न हुई, जहाँ कोई फतवा जारी कर देता है, और लाख लोग किसी की हत्या करने के लिए, बेखौफ तैयार हो जाते हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

107,076फैंसलाइक करें
19,472फॉलोवर्सफॉलो करें
110,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: