Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीतिदुर्घटना में घायल पिता के लिए 'नजदीकी' अखिलेश यादव से मदद की गुहार... लेकिन...

दुर्घटना में घायल पिता के लिए ‘नजदीकी’ अखिलेश यादव से मदद की गुहार… लेकिन आगे आई योगी सरकार

प्रतीक्षा यादव के पिता सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गए। वो भी सैफई से मात्र 7 किलोमीटर दूर, जहाँ समाजवादी पार्टी का गढ़ है। प्रतीक्षा ने शायद यही सोच कर अखिलेश यादव से मदद की गुहार लगाई लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। तभी CM योगी के सूचना सलाहकार ने...

उत्तर प्रदेश में दुर्घटनाग्रस्त एक व्यक्ति की बेटी ने मदद के लिए गुहार तो लगाई अखिलेश यादव से, लेकिन मदद के लिए योगी आदित्यनाथ की सरकार आगे आई। दरअसल, प्रतीक्षा यादव प्रीत के पिता सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गए थे। उन्होंने अखिलेश यादव से गुहार लगाई कि उनके ही क्षेत्र (सैफई से मात्र 7 किलोमीटर दूर स्थित करहाल) में एक अदद चिकित्सक की व्यवस्था नहीं हो पाई, जिससे उनके दुर्घटनाग्रस्त पिता का इलाज हो पाए। उन्होंने बताया कि उनके पिता पूरे दिन बदहाल स्थिति में रहे।

प्रतीक्षा ने बताया कि उनके पिता की इतनी बुरी स्थिति है कि आगरा ले जाया जा रहा है, स्थानीय डॉक्टर लगभग जवाब दे चुके हैं। उन्होंने अखिलेश यादव से गुहार लगाई कि वो उनकी आर्थिक मदद भी करें और आगरा के डॉक्टर आरसी मिश्रा से भी संपर्क करें, ताकि उनके पिता का ठीक से इलाज चल सके। अखिलेश यादव या समाजवादी पार्टी द्वारा पीड़ित परिवार की सुध लेना तो दूर, किसी ने उनके ट्वीट पर रिप्लाई तक देने की जहमत नहीं उठाई।

ऐसे समय में योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने पीड़ित परिवार से संपर्क किया और उनकी मदद की। उनसे वार्ता के बाद उन्होंने आगरा के जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह को पूरे मामले की जानकारी दी और साथ ही CMO की तरफ से उन्हें यथासंभव मदद के लिए निर्देश दिया गया। शलभ मणि त्रिपाठी ने लिखा, “हम सब की यही कामना है कि आपके पिताजी जल्द स्वस्थ हों।” लोगों ने उनके इस कदम के लिए उनकी तारीफ की।

आगरा प्रशासन की तरफ से बताया गया है कि ‘रेनबो हॉस्पिटल’ के राकेश आहूजा ने मरीज की स्थिति के बारे में जानकारी दी है और साथ ही आश्वासन दिया है कि उनके इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम पूरी कोशिश करेगी। उन्होंने हर प्रकार की मदद और डॉक्टरों द्वारा देखभाल का आश्वासन दिया। आगरा के डीएम ने कहा कि हम उनके जल्द ठीक होने की कामना करते हैं। प्रतीक्षा ने इससे पहले अखिलेश यादव के लगभग हर ट्वीट पर मदद माँगी और कहा था कि नेताजी (मुलायम सिंह) की सैफई के हर घर में पूजा होती है।

बता दें कि सपा के शीर्ष यादव परिवार का गृह ग्राम सैफई ही है, जो मुलायम सिंह यादव की कर्मभूमि भी रही है। ये गाँव जसवंत नगर विधानसभा और मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र में पड़ता है, जहाँ से मुलायम सिंह जीतते रहे हैं। यहाँ से मुलायम सिंह अब तक 7 बार और उनके भाई शिवपाल यादव 5 बार विधायक बन चुके हैं। मैनपुरी से भी मुलायम 5 बार सांसद रह चुके हैं। ऐसे में ये पूरा इलाका पिछले 5 दशक से उनका गढ़ रहा है।

इसी तरह एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें देखा जा सकता था कि बुलंदशहर में कुछ दुकानदार खुलेआम पटाखे बेच रहे थे, जिन पर खुर्जा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 6 दुकानदारों को हिरासत में लिया और पटाखे जब्त कर लिए। इस दौरान एक बच्ची पुलिस से अपने पिता को छोड़ने की गुहार लगाती रही। योगी सरकार ने तुरंत हरकत में आकर न सिर्फ पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की, बल्कि अधिकारीगण बच्ची के घर पहुँचे और उन्हें सहायता मुहैया कराई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe