Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीतिसफूरा जरगर के ऑनलाइन 'चरित्र हनन' पर दिल्ली महिला आयोग सक्रिय, स्वाति मालीवाल ने...

सफूरा जरगर के ऑनलाइन ‘चरित्र हनन’ पर दिल्ली महिला आयोग सक्रिय, स्वाति मालीवाल ने पुलिस से माँगे जवाब

पत्र में कहा गया है कि सफूरा जरगर को लेकर आपत्तिजनक भाषा लिखने वालों की पहचान की जाए और उन्हें गिरफ्तार किया जाए। साथ ही सोशल मीडिया से इस तरह के पोस्ट को डिलीट करवाने की भी बात कही गई है। स्वाति मालीवाल ने पुलिस से 10 मई तक इस पर जवाब माँगा है।

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय की छात्रा सफूरा जरगर को ‘बदनाम’ करने के मुद्दे पर दिल्ली महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। सफूरा जरगर दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के दौरान हिंसा के आरोप में तिहाड़ जेल में बंद है और प्रेगनेंट है। 

दिल्ली महिला आयोग ने इस पर स्वत: संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने इस बाबत पुलिस को एक पत्र लिखा है। इसमें आयोग ने सफूरा जरगर के खिलाफ सोशल मीडिया पर भद्दी टिप्पणियाँ किए जाने के मामले में दर्ज एफआईआर को लेकर जानकारी मॉंगी है।

पत्र में कहा गया है कि सफूरा को लेकर आपत्तिजनक भाषा लिखने वालों की पहचान की जाए और उन्हें गिरफ्तार किया जाए। साथ ही सोशल मीडिया से इस तरह के पोस्ट को डिलीट करवाने की भी बात कही गई है। स्वाति मालीवाल ने पुलिस से 10 मई तक इस पर जवाब माँगा है।

जामिया कोऑर्डिनेशन कमेटी की सदस्य सफूरा जरगर को फरवरी 2020 में उत्तर-पूर्व दिल्ली के जाफराबाद इलाके में प्रदर्शन को लेकर पिछले महीने गिरफ्तार किया गया था। बाद में सांप्रदायि​क हिंसा के संबंध में उसके खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था और उसे तिहाड़ जेल भेज दिया गया।

सफूरा को सोशल मीडिया पर उनके बच्चे के पिता को लेकर ट्रोल किया जा रहा है। ट्विटर पर लोग भद्दी टिप्पणियाँ कर रहे हैं और उनकी शादी एवं प्रेगनेंसी पर सावल उठा रहे हैं। आयोग की ओर ने कहा गया है कि सफूरा के खिलाफ सोशल साइट्स पर हल्के कमेंट, गाली-गलौच और चरित्र हनन की कोशिशों की कई शिकायत मिली हैं। इसके बाद दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस के साइबर अपराध प्रकोष्ठ को गर्भवती सफूरा जरगर को शर्मनाक तरीके से अपमानित करने को लेकर नोटिस जारी किया है ।

स्वाति मालीवाल ने पुलिस को नोटिस जारी करते हुए लिखा है, “सोशल मीडिया पर उसके और उसके अजन्मे बच्चे के खिलाफ एक निंदनीय अभियान चलाया जा रहा है और भद्दी टिप्पणियाँ की जा रही हैं। उसकी गरिमा को प्रभावित करने वाले और उसके परिवार को धमकी देने वाली कई टिप्पणियाँ भी की गई हैं।” उन्होंने दिल्ली पुलिस से कहा है कि वो सफूरा के खिलाफ ऑनलाइन अभद्र टिप्पणियॉं करने वालों के खिलाफ जल्द से जल्द मामला दर्ज करें।

ज्ञात रहे कि दिल्ली में हिंदू विरोधी दंगों में मीरान हैदर के साथ सफूरा जरगर को साजिश करने के आरोप में आरोपित बनाया गया है। दंगों में 50 से ज्यादा लोग मारे गए थे। दिलबर नेगी जैसों के हाथ-पाँव काटकर नृशंस हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया था और आईबी के अंकित शर्मा को सुनियोजित ढंग से मारा गया था।

इससे पहले जामिया कोऑर्डिनेशन कमेटी के सदस्य मीरान हैदर को भी दिल्ली पुलिस ने 2 अप्रैल को गिरफ्तार किया था। उसको उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुए हिन्दू विरोधी दंगों के संबंध में षड्यंत्र रचने के आरोपों के अंतर्गत गिरफ्तार किया गया था। मीरान हैदर राष्ट्रीय जनता दल की यूथ विंग की दिल्ली शाखा का अध्यक्ष है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe