Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिदिल्ली: शाहीन बाग के सामाजिक कार्यकर्ता शहजाद अली BJP में शामिल, कहा- CAA पर...

दिल्ली: शाहीन बाग के सामाजिक कार्यकर्ता शहजाद अली BJP में शामिल, कहा- CAA पर साथ मिलकर करेंगे काम 

शहजाद अली कुछ दिनों पहले तक भाजपा के मुखर विरोधी थे और शाहीन बाग में सरकार के खिलाफ बुलंद आवाज करने वालों में से एक थे। शाहीन बाग में धरना खत्म होने के बाद से ही उनका रुख बदला-बदला नजर आ रहा था। उन्होंने सोशल मीडिया पर सरकार का पक्ष लेना शुरू कर दिया था।

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन और विरोध का मुख्य केंद्र रहे शाहीन बाग के सामाजिक कार्यकर्ता शहजाद अली रविवार (अगस्त 16, 2020) को बीजेपी में शामिल हो गए। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और श्याम जाजू ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। 

इस मौके पर शहजाद अली ने कहा, “मैं भाजपा में शामिल हुआ हूँ, ताकि हमारे समुदाय के उन लोगों को गलत साबित किया जा सके, जो सोचते हैं कि भाजपा हमारी दुश्मन है। हम सीएए के मुद्दे पर साथ मिलकर बैठकर बात करेंगे।”

आदेश गुप्ता ने कहा, “आज सैकड़ों भाई इस बात को महसूस करने के बाद पार्टी में शामिल हुए हैं कि हमारे साथ कोई भेदभाव नहीं है और हम उन्हें विकास की मुख्यधारा में लाना चाहते हैं। मैं उन सभी महिलाओं को बधाई देना चाहता हूँ, जिन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ट्रिपल तालक मामले में उठाए गए कदमों को देखने के बाद पार्टी में शामिल हुई हैं।”

वहीं श्याम जाजू ने कहा, “जब सीएए के बारे में बात की गई थी, तो कुछ राजनीतिक दलों ने समुदाय विशेष को गुमराह करने की कोशिश की थी। लेकिन अब देश के हर मुस्लिम भाई को पता चल गया है कि कुछ भी साबित करने की आवश्यकता नहीं है। किसी को भी वोट और राष्ट्रीयता के अधिकार से वंचित नहीं किया जाएगा। यह महसूस करने के बाद कि उन्हें इस पार्टी के माध्यम से ही न्याय मिलेगा, शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन में उपस्थित भारी संख्या में इस्लाम को मानने वाले आज पार्टी में शामिल हुए हैं।”

बता दें कि शहजाद अली कुछ दिनों पहले तक भाजपा के मुखर विरोधी थे और शाहीन बाग में सरकार के खिलाफ बुलंद आवाज करने वालों में से एक थे। शाहीन बाग में धरना खत्म होने के बाद से ही उनका रुख बदला-बदला नजर आ रहा था। उन्होंने सोशल मीडिया पर सरकार का पक्ष लेना शुरू कर दिया था।

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश भर में विरोध हो रहा था। इस दौरान शाहीन बाग इस विरोध का केंद्र बनकर सामने उभरा था। यहाँ महिलाओं ने लगभग 3 महीने तक धरना दिया। इस दौरान पूरे देश से इसका विरोध करने वाले यहाँ जुटते रहे। शहजाद अली भी काफी ऐक्टिव थे और सीएए के विरोध में अपनी बात रखते थे। इससे पहले भी वह बीजेपी और आरएसएस के खिलाफ बोलते रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इधर आतंकी गोली मार रहे, उधर कश्मीरी ईंट-भट्टा मालिक मजदूरों के पैसे खा रहे: टारगेट किलिंग के बाद गैर-मुस्लिम बेबस

कश्मीर घाटी में गैर-कश्मीरियों को टारगेट कर हत्या करने के बाद दूसरे प्रदेशों से आए श्रमिक अब वापस लौटने को मजबूर हो रहे हैं।

कश्मीर को बना दिया विवादित क्षेत्र, सुपरमैन और वंडर वुमेन ने सैन्य शस्त्र तोड़े: एनिमेटेड मूवी ‘इनजस्टिस’ में भारत विरोधी प्रोपेगेंडा

सोशल मीडिया यूजर्स इस क्लिप को शेयर कर रहे हैं और बता रहे हैं कि कैसे कश्मीर का चित्रण डीसी की इस एनिमेटिड मूवी में हुआ है और कैसे उन्होंने भारत को बुरा दिखाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,884FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe