Friday, July 23, 2021
Homeराजनीतिअब ठुमके लगाने वाली BJP के लिए वोट लाएगी: दिग्विजय की टिप्पणी से महिला...

अब ठुमके लगाने वाली BJP के लिए वोट लाएगी: दिग्विजय की टिप्पणी से महिला आयोग नाराज़

दिग्विजय ने सपना चौधरी के गानों व नृत्य को अश्लील बताते हुए कहा कि यह हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं है।

जननायक जनता पार्टी के नेता दिग्विजय चौटाला ने सपना चौधरी के भाजपा में शामिल होने को लेकर तंज कसा है। हरियाणा की मशहूर गायिका और नृत्यांगना सपना चौधरी ने मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति में रविवार (जुलाई 7, 2019) को भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। सपना चौधरी दिल्ली में भाजपा के ताज़ा सदस्यता अभियान के तहत पार्टी में शामिल होने वाली पहली सदस्य थीं। इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान ख़बर आई थी कि सपना कॉंग्रेस में शामिल होने वाली हैं लेकिन बाद में उन्होंने इसका खंडन किया। जेजेपी नेता दिग्विजय चौटाला ने सपना पर तंज कसते हुए कहा:

“अब ठुमके लगाने वाली भाजपा के लिए वोट लाएगी।”

दिग्विजय चौटाला हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे ओम प्रकाश चौटाला के पौत्र हैं और उनके पिता अजय सिंह चौटाला भी सांसद रह चुके हैं। उनके भाई दुष्यंत चौटाला भी सांसद रह चुके हैं। राजनीतिक परिवार से आने के बावजूद महिलाओं के प्रति बयान को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने गुस्सा जताया। महिला आयोग ने भी मामले का संज्ञान लेते हुए उन्हें नोटिस जारी किया है। आयोग ने उनकी टिप्पणी को महिलाओं के लिए अपमानजनक बताया।

दिग्विजय ने सपना चौधरी के गानों व नृत्य को अश्लील बताते हुए कहा कि यह हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं है। हालाँकि, हरियाणा भाजपा के प्रमुख सुभाष बराला ने सपना का बचाव करते हुए चौटाला की टिप्पणी को ग़लत बताया और कहा कि किसी भी कलाकार को राजनीति में आने का हक़ है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काशी विश्वनाथ मंदिर की हुई ज्ञानवापी मस्जिद की 1700 फीट जमीन

काशी विश्‍वनाथ मंदिर प्रशासन और ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष की ओर से पहले ही इस मामले पर सहमति बातचीत के दौरान बनी थी।

‘कौन है स्वरा भास्कर’: 15 अगस्त से पहले द वायर के दफ्तर में पुलिस, सिद्धार्थ वरदराजन ने आरफा और पेगासस से जोड़ दिया

इससे पहले द वायर की फर्जी खबरों को लेकर कश्मीर पुलिस ने उनको 'कारण बताओ नोटिस' जारी किया था। उन पर मीडिया ट्रॉयल में शामिल होने का भी आरोप है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,891FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe