Monday, January 17, 2022
Homeराजनीतिचुनाव अयोग ने कॉन्ग्रेस नेता कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा छीना: प्रचार ने...

चुनाव अयोग ने कॉन्ग्रेस नेता कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा छीना: प्रचार ने दौरान BJP महिला नेता को कहा था ‘आइटम’

आयोग ने आदेश जारी करते हुए कहा कि कमलनाथ को स्टार प्रचारक के रूप में प्राधिकारियों द्वारा कोई अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा, "अब से यदि कमलनाथ द्वारा कोई चुनाव प्रचार किया जाता है तो यात्रा, ठहरने और दौरे से संबंधित पूरा खर्च पूरी तरह से उस उम्मीदवार द्वारा वहन किया जाएगा जिसके निर्वाचन क्षेत्र में वह चुनाव प्रचार करेंगे।"

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ चुनाव आयोग ने बड़ी कार्रवाई की है। चुनाव आयोग ने उनसे स्टार प्रचारक का दर्जा छीन लिया है। यह कार्रवाई चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के कई मामले सामने आने के बाद की गई है।

राज्य में आगामी उपचुनावों में कॉन्ग्रेस पार्टी के प्रचार के दौरान कमलनाथ ने अपने शब्दों को चुनने में लापरवाही बरती थी। चुनाव आयोग ने एक महिला उम्मीदवार के लिए ‘आइटम’ शब्द के इस्तेमाल के लिए कमलनाथ को फटकारा था और कहा था कि एक महिला के लिए उक्त शब्द का इस्तेमाल आयोग द्वारा जारी किए गए निर्देशों का उल्लंघन है।

चुनाव आयोग ने कमलनाथ की खिंचाई करते हुए उपचुनावों के लिए चुनाव प्रचार के दौरान एक महिला को संबोधित करने के लिए ‘आइटम’ जैसे अपमानजनक शब्दों का उपयोग करने के लिए उन्हें जमकर लताड़ा था।

यह एकमात्र उदाहरण नहीं है जब कमलनाथ पर मॉडल कोड को तोड़ने और सार्वजनिक जगहों पर अनुचित शब्दों का उपयोग करने का आरोप लगाया गया था। मध्य प्रदेश के वर्तमान सीएम शिवराज सिंह चौहान पर हमला करते हुए, उन्होंने सीएम को नौटंकी कलाकार भी कहा था। कमलनाथ ने कहा था कि वे मुंबई जाकर एक्टिंग करें। इसके साथ ही उन्होंने शिवराज सिंह चौहान पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि आपके भगवान तो वह माफिया हैं जिससे आपने मध्यप्रदेश की पहचान बनाई है। आपके भगवान वो मिलावटखोर हैं।

आयोग ने आदेश जारी करते हुए कहा कि कमलनाथ को स्टार प्रचारक के रूप में प्राधिकारियों द्वारा कोई अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा, “अब से यदि कमलनाथ द्वारा कोई चुनाव प्रचार किया जाता है तो यात्रा, ठहरने और दौरे से संबंधित पूरा खर्च पूरी तरह से उस उम्मीदवार द्वारा वहन किया जाएगा जिसके निर्वाचन क्षेत्र में वह चुनाव प्रचार करेंगे।”

इस आदेश में आगे कहा गया है कि चुनाव से पहले चुनाव प्रचार के दौरान सभी राजनीतिक दलों की सहमति के साथ नैतिक और सम्मानजनक व्यवहार को बनाए रखने के लिए आदर्श आचार संहिता कई दशकों से विकसित हुई है।

कमलनाथ की अपमानजनक और आपत्तिजनक टिप्पणियों ने मध्य प्रदेश की राजनीति में हलचल मचा दी थी। भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक महिला नेता के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करने के लिए तीखी प्रतिक्रिया भी व्यक्त की थी।

गौरतलब है कि चुनाव प्रचार के दौरान कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भारतीय जनता पार्टी की महिला प्रत्याशी इमरती देवी के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए उन्हें ‘आइटम’ कह डाला था।

पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने आमसभा को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी एवं कैबिनेट मंत्री श्रीमती इमरती देवी के बारे में कहा था, “आप तो उसे मुझसे ज्यादा पहचानते हैं, आपको मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, ये क्या आइटम है।” (इतना कहने के बाद श्री कमलनाथ ने जनता की तरफ देखा, खिलखिला कर हँसे, फिर दोहराया ये क्या आइटम है, और मुस्कुराए, उनके समर्थकों ने तालियाँ बजाई और ठहाके लगाए।)

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘रेप कैपिटल बन गया है राजस्थान’: अलवर मूक-बधिर बच्ची से गैंगरेप मामले में पुलिस का यू-टर्न, गहलोत सरकार ने की CBI जाँच की सिफारिश

अलवर में रेप की शिकार मूक-बधिर बच्ची के मामली की जाँच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीबीआई को सौंप दी है। सरकार का काफी विरोध हो रहा है।

CM योगी का UP: 2000 Cr का अवैध साम्राज्य ध्वस्त, ढेर हुए 140 अपराधी, धर्मांतरण और गोकशी पर शिकंजा, महिलाएँ सुरक्षित हुईं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया। गोकशी-धर्मांतरण पर प्रहार किया। उत्तर प्रदेश में माफिया राज खत्म हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,693FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe