Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस को टुकड़े-टुकड़े गिरोह बता साथियों समेत BJP में शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली:...

कॉन्ग्रेस को टुकड़े-टुकड़े गिरोह बता साथियों समेत BJP में शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली: कहा – देश के लिए काम कर रही भाजपा, कॉन्ग्रेस को न अपनी चिंता है न भारत की

उन्होंने कहा कि एक लंबा काफिला है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष JP नड्डा को धन्याद दिया।

दिल्ली में कॉन्ग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली अब भाजपा में शामिल हो गए हैं। प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के कुछ ही दिनों बाद शनिवार (4 मई, 2024) को उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। उन्होंने AAP (आम आदमी पार्टी) से कॉन्ग्रेस के गठबंधन से नाराज़गी जताते हुए पार्टी छोड़ दी थी। कॉन्ग्रेस पार्टी द्वारा कन्हैया कुमार और उदित राज को उम्मीदवार बनाए जाने के खिलाफ भी पार्टी में अंदरूनी कलह हो रही है। लवली के साथ पूर्व कॉन्ग्रेस विधायक राजकुमार चौहान, नसीब सिंह, नीरज बसोया, यूथ कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष रहे अमित मलिक भी भाजपा में आए।

55 वर्षीय अरविंदर सिंह लवली 2013-15 के बीच भी दिल्ली कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं। 1998 में मात्र 29 वर्ष की उम्र में वो पूर्वी दिल्ली के गाँधीनगर विधानसभा क्षेत्र से विधायक बन गए थे। उन्होंने यहाँ से लगातार 4 चुनाव जीते, 17 वर्षों तक वो यहाँ से कॉन्ग्रेस पार्टी के विधायक रहे। शीला दीक्षित के मुख्यमंत्रित्व काल में उन्होंने कई बड़े मंत्रालय भी सँभाले। उन्होंने DU के SGTB खालसा कॉलेज से राजनीतिक विज्ञान में स्नातक किया है।

वो छात्र राजनीति में भी सक्रिय रहे हैं। भीमराव आंबेडकर कॉलेज में वो छात्र संघ के अध्यक्ष चुने गए, फिर 1990 में दिल्ली में यूथ कॉन्ग्रेस के जनरल सेक्रेटरी बने। 1992-96 में वो कॉन्ग्रेस के NSUI के जनरल सेक्रेटरी रहे। बताते चलें कि दिल्ली का पहला मेट्रो स्टेशन गाँधीनगर उनके ही इलाके में खुला था। 2001-02 में उन्हें दिल्ली विधानसभा द्वारा सर्वश्रेष्ठ विधायक का ख़िताब भी मिला। 2003 में ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ (TOI) और ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ (HT) ने उन्हें सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाला MLA चुना।

भाजपा में शामिल होने के बाद अरविंदर सिंह लवली ने कहा कि अपने तमाम साथियों से उन्होंने बातचीत की, दिल्ली की सभी 70 विधानसभाओं में उनसे जुड़े कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी कहा कि आपको घर नहीं बैठना है। उन्होंने बताया कि उन्होंने इस्तीफा देने के बाद सक्रिय न रहने का सोचा था, लेकिन दिल्ली के लोगों की लड़ाई लड़ने की सलाह उनके साथियों ने दी। उन्होंने कहा कि एक लंबा काफिला है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष JP नड्डा को धन्याद दिया।

अरविंदर सिंह लवली इससे पहले भी भाजपा में आए थे, कुछ समय बाद फिर वो चले गए थे। इस पर उन्होंने कहा कि वो 18 वर्ष की उम्र में ही कॉन्ग्रेस में शामिल हो गए थे, उस समय ये बताया गया कि इंदिरा गाँधी ने अपने भाषण में कहा था कि उनके खून का कतरा-कतरा देश के नाम है। बकौल अरविंदर सिंह लवली, अब कॉन्ग्रेस पार्टी कतरे-कतरे से टुकड़े-टुकड़े तक पहुँच गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा देश के लिए लड़ रही है, ऐसी पार्टी को हमें सशक्त करेंगे। उन्होंने कहा कि उनके कई अन्य साथी भी भाजपा में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस आलाकमान को न अपनी पार्टी की चिंता है, न देश की।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -