Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति'मेरे लिए काली मांस भक्षी, शराब वाली देवी': सिगरेट वाले पोस्टर पर बोलीं MP...

‘मेरे लिए काली मांस भक्षी, शराब वाली देवी’: सिगरेट वाले पोस्टर पर बोलीं MP महुआ मोइत्रा, TMC ने कहा – उनके निजी विचार, हम निंदा करते हैं

उन्होंने दावा किया कि कई जगहों पर देवी-देवताओं को व्हिस्की चढ़ाई जाती है। उन्होंने दावा किया कि हमारे पास इसकी स्वतंत्रता है कि हम हमारे देवी-देवताओं को किसी भी रूप में सोच सकते हैं।

पश्चिम बंगाल के कृष्णानगर से सांसद महुआ मोइत्रा ने माँ काली पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है। तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) सांसद ने माँ काली को मांस भक्षण करने वाली और शराब पीने वाली देवी बता दिया। हालाँकि, पार्टी ने खुद को इन बयानों से अलग कर लिया है। बता दें कि माँ काली को एक फिल्म के पोस्टर में सिगरेट पीते हुए और हाथ में LGBTQ का झंडा लिए दिखाया गया, जिससे हिन्दुओं की भावनाएँ आहत हुई हैं और वो आक्रोशित हैं।

इसी पोस्टर को लेकर महुआ मोइत्रा ने मंगलवार (5 जुलाई, 2022) को बयान दिया। उन्होंने कहा कि उनके लिए काली मांस खाने वाली और शराब को स्वीकार करने वाली देवी हैं। उन्होंने दावा किया कि कई जगहों पर देवी-देवताओं को व्हिस्की चढ़ाई जाती है। उन्होंने दावा किया कि हमारे पास इसकी स्वतंत्रता है कि हम हमारे देवी-देवताओं को किसी भी रूप में सोच सकते हैं। 2 दिवसीय ‘इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट 2022’ में बोलते हुए उन्होंने ये बातें कहीं।

बकौल महुआ मोइत्रा, सिक्किम में माँ काली को व्हिस्की चढ़ाई जाती है, जबकि किसी दूसरी जगह ये ईशनिंदा हो सकती है। उन्होंने कहा कि जैसे उत्तर प्रदेश में जाकर माँ काली को प्रसाद के रूप में व्हिस्की चढाने की बात की जाए तो वो इसे ईशनिंदा कहेंगे। महुआ मोइत्रा ने खुद को आलोचना करने की पक्षधर बताते हुए कहा कि इसमें और हिंसा भड़काने में अंतर है। उन्होंने कहा कि तारापीठ में साधु-संत स्मोकिंग करते हुए दिखते हैं।

वहीं TMC ने कहा कि महुआ मोइत्रा द्वारा दिए गए बयान और माँ काली को लेकर उनके द्वारा अभिव्यक्त किए गए विचार उनके निजी हैं और पार्टी किसी भी सूरत में या किसी भी रूप में इसका समर्थन नहीं करती। साथ ही पार्टी के आधिकारिक बयान में ये भी कहा गया कि ‘ऑल इंडिया तृणमूल कॉन्ग्रेस (AITC)’ ऐसे किसी भी बयान की पुरजोर निंदा करता है। इसके बाद महुआ मोइत्रा ने संघियों को ‘झूठा’ बताते हुए कहा कि उन्होंने किसी स्मोकिंग वाले पोस्टर का समर्थन नहीं किया है। हालाँकि, तारापीठ वाले बयान पर उन्होंने कायम होने की बात कही।

बताते चलें कि हिंदू देवी ‘काली’ को अपनी फिल्म में सिगरेट पीते हुए दिखाने वाली लीना के पुराने ट्वीट लगातार वायरल हैं। इन ट्वीट से पता चलता है कि वो हिंदूफोबिक मानसिकता से लंबे समय से ग्रसित हैं। उन्होंने श्रीराम भगवान से लेकर गणपति भगवान तक को गाली दी हुई है। एक ट्वीट में लीना मणिमेकलई ने कहा, “मैं हकीकत में उन देवताओं पर ट्वीट करते-करते थक गई हूँ जो अस्तित्व में हैं भी नहीं और धार्मिक घृणा व कट्टरता की घटिया राजनीति के कारण अस्तित्व में ला दिए जाते हैं।” अपने ट्वीट में लीना गणपति भगवान के लिए व उनकी आराधना करने वालों को गाली दे रही हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -