गिरिराज सिंह ने ममता बनर्जी की तुलना किम जोंग उन से करते हुए कही ये बड़ी बातें

गिरिराज सिंह ने कहा कि कि ममता बनर्जी जिस तरह से शासन चला रही हैं उसे देखकर ऐसा लगता है कि जैसे उनको संविधान में विश्वास ही नहीं हैं।

गुरुवार (जून 7, 2019) को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के द्वारा भाजपा के विजय जुलूस पर प्रतिबंध लगाए जाने पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने शुक्रवार (जून 7, 2019) को अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की। इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी की तुलना उत्तर कोरिया के तानाशाह नेता किम जोंग उन से कर दी। गिरिराज सिंह ने कहा कि ममता बनर्जी अपने राजनीतिक विरोधियों का दमन करने के लिए उसी तरह की क्रूरता पर उतर आई हैं, जैसा कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन करते हैं। उन्होंने कहा कि वो (ममता) किम जोंग उन का किरदार निभा रही हैं, जो भी आवाज उठाता है, उसकी हत्या कर दी जाती है। किसी को ‘विजय यात्रा’ निकालने की अनुमति नहीं मिलती है। जनता उनकी उल्टी गंगा का जुलूस निकाल देगी। उनके श्राद्ध का जुलूस निकाल देगी।

गिरिराज सिंह ने कहा कि कि ममता बनर्जी जिस तरह से शासन चला रही हैं उसे देखकर ऐसा लगता है कि जैसे उनको संविधान में विश्वास ही नहीं हैं। वो प्रधानमंत्री को भी प्रधानमंत्री नहीं मानती हैं, लोकतंत्र में विश्वास नहीं करती हैं, वो सिस्टम में नहीं आना चाहतीं। मगर अब लोग विकास चाहते हैं और उनकी (ममता) उल्टी गिनती शुरू हो गई है।

गौरतलब है कि, इससे पहले ममता बनर्जी ने नीति आयोग को लेकर अपनी नाराजगी प्रकट की थी। उन्होंने 15 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की होने वाली बैठक में शिरकत करने से इनकार करते हुए इसे निरर्थक बताया था और कहा कि नीति आयोग के पास कोई वित्तीय अधिकार नहीं है और ना ही आयोग के पास राज्य की योजनाओं को समर्थन देने अधिकार है ऐसे में उनका बैठक में भाग लेना बेकार है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

नितिन गडकरी
गडकरी का यह बयान शिवसेना विधायक दल में बगावत की खबरों के बीच आया है। हालॉंकि शिवसेना का कहना है कि एनसीपी और कॉन्ग्रेस के साथ मिलकर सरकार चलाने के लिए उसने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,096फैंसलाइक करें
22,561फॉलोवर्सफॉलो करें
119,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: