Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिफेस मास्क और सैनिटाइजर के दाम तय: मोदी सरकार के फैसले के बाद लाइन...

फेस मास्क और सैनिटाइजर के दाम तय: मोदी सरकार के फैसले के बाद लाइन में आई कंपनियाँ, घटाई कीमतें

2 और 3 प्लाई मास्क में इस्तेमाल होने वाले फैब्रिक की कीमत वही रहेगी, जो 12 फरवरी 2020 को थी - मतलब 2 प्लाई मास्क की खुदरा कीमत 8 रुपए/मास्क और 3 प्लाई की कीमत 10 रुपए/मास्क से अधिक नहीं होगी।

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव में प्रयुक्त होने वाले फेस मास्क और सेनिटाइजर की कीमतों में हो रही अनाप-शनाप वृद्धि पर सख्त रुख अपनाते हुए उसके दाम तय करने की घोषणा की। केंद्रीय उपभोक्ता और खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने शुक्रवार (20 मार्च 2020) को यह जानकारी दी। केंद्रीय मंत्री ने अपने ट्वीट में कहा कि 200 मिली सेनिटाइजर की कीमत अबसे 100 रुपए से ज्यादा नहीं होगी और अन्य आकार की बोतलों की कीमत भी इसी अनुपात में रहेंगी। ये कीमतें 30 जून 2020 तक पूरे देश में लागू रहेंगी।

इस ट्वीट के तुरंत बाद देश की बड़ी एफएमसीजी यानी फ़ास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर ने अपने प्रोडक्टस के दाम घटाने की घोषणा कर दी। उसने अपने प्रॉडक्ट्स – लाइफ ब्वॉय सेनिटाइजर, लिक्विड हैंड वॉश और फर्स क्लीनर के दाम 15 फीसदी तक कम कर दिए हैं।

केंद्रीय उपभोक्ता और खाद्य मंत्री रामविलास पासवान के अनुसार कोरोना वायरस के फैलने के बाद से बाजार में विभिन्न फेस मास्क और इनके निर्माण में लगने वाली सामग्री तथा हैंड सेनिटाइजर की कीमतों में अप्रत्याशित वृद्धि देखी गई है। जिसके चलते सरकार ने इस मामले की गंभीरता समझ इनकी कीमतें तय कर दी हैं। एक और ट्वीट में उन्होंने कहा, आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत 2 और 3 प्लाई मास्क में इस्तेमाल होने वाले फैब्रिक की कीमत वही रहेगी, जो 12 फरवरी 2020 को थी – मतलब 2 प्लाई मास्क की खुदरा कीमत 8 रुपए/मास्क और 3 प्लाई की कीमत 10 रुपए/मास्क से अधिक नहीं होगी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe