Monday, July 4, 2022
Homeराजनीति'राज्य में उत्तर भारत के छात्र फैला रहे कोरोना': तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री का...

‘राज्य में उत्तर भारत के छात्र फैला रहे कोरोना’: तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री का विवादित बयान, हिंदी भाषी छात्रों को किया टारगेट

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य भर में सर्वेक्षण के दौरान चेन्नई और चेंगलपेट में कोरोना के 88 फीसदी मामले पाए गए हैं।

तमिलनाडु के स्‍वास्‍थ्‍य में मंत्री ने उत्तर भारतीय छात्रों को लेकर एक विवादित बयान दिया है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मा सुब्रमण्‍यम ने तमिलनाडु में कोरोना वायरस केस बढ़ने के लिए उत्तर भारत के हिंदी भाषी छात्रों को जिम्‍मेदार ठहराया है।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री मा सुब्रमण्यम ने कहा कि उत्तर भारतीय छात्र तमिलनाडु में कोरोना वायरस फैला रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि केलमबक्कम वीआईटी कॉलेज और सत्यसाई कॉलेज के छात्र हॉस्टल और कक्षाओं में कोविड से प्रभावित हुए हैं। कुछ उत्तर भारतीय राज्यों में कोविड के मामले अभी भी बढ़ रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री का बयान ऐसे समय में आया है जब केलमबक्कम में वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (VIT) के 42 छात्रों का कोरोना टेस्ट मंगलवार (31 मई 2022) को पॉजिटिव आया है। इसके साथ ही कैंपस में कुल मामलों की संख्या 74 हो गई। इस संस्थान में छात्रों की संख्या 5000 है। 30 मई तक इसमें 33 छात्र कोरोना पॉजिटिव आए थे। रिपोर्टों के अनुसार, स्वास्थ्य विभाग ने कॉलेज के अधिकारियों को एक अलग मंजिल पर आइसोलेट करने और उनका सैचुरेशन टेस्ट करने का निर्देश दिया है। इसके अनुसार 1200 छात्रों के सैंपल जाँच के लिए भेजे गए हैं।

31 मई को, तमिलनाडु के स्वास्थ्य सचिव राधाकृष्णन ने कहा था कि सरकार वायरस के प्रसार को रोकने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा, “जिसमें लक्षण पाया जाएगा, उनका पहले परीक्षण किया जाएगा और पॉजिटिव पाए जाने वाले छात्रों को आइसोलेट किया जाएगा।”

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य भर में सर्वेक्षण के दौरान चेन्नई और चेंगलपेट में कोरोना के 88 फीसदी मामले पाए गए हैं। VIT के अलावा, अन्ना विश्वविद्यालय, IIT मद्रास और श्री सत्यसाई मेडिकल कॉलेज और रिसर्च इंस्टीट्यूट के छात्र भी अप्रैल 2022 से फैले कोविड से पीड़ित हैं।

रिपोर्टों में उल्लेख किया गया है कि इन संस्थानों के रूप में, कई राज्यों से 14 मई को छात्रों के एक बैच के कैंपस में आने के बाद वीआईटी परिसर में एक साथ भारी संख्या में छात्र एकत्रित हुए। फ्लू जैसे लक्षण वाले छात्रों में से एक का 21 मई को कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया।

फिलहाल राज्य में 542 सक्रिय कोविड मामले हैं। मंगलवार (31 मई 2022) को, राज्य से 98 नए कोविड मामले सामने आए, जिनमें चेंगलपेट और चेन्नई में अधिकांश मामलों में क्रमशः 46 और 44 मामले दर्ज किए गए। पिछले 24 घंटों में कुल 12,356 सैंपल्स की टेस्टिंग की गई है। राज्य में मरने वालों की संख्या 38,025 है। हालाँकि इसमें पिछले 24 घंटों में हुई मौत की संख्या शामिल नहीं है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe