Tuesday, June 18, 2024
Homeराजनीतिलेह चीन का हिस्सा, भारत का नहीं: ट्विटर को पड़ी लताड़, गलत नक्शे के...

लेह चीन का हिस्सा, भारत का नहीं: ट्विटर को पड़ी लताड़, गलत नक्शे के लिए मंत्रालय ने CEO को लिखा ‘कड़ा पत्र’

"ट्विटर की तरफ से किया गया यह प्रयास भारत की संप्रभुता और एकता का अपमान करता है और यह ट्विटर द्वारा दिखाए गए मानचित्र में साफ़ नज़र आता है। इसे किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं किया जा सकता है, यह ग़ैरक़ानूनी भी है।"

केंद्र सरकार ने ट्विटर को चेतावनी जारी की है और यह चेतावनी भारत का गलत मानचित्र प्रस्तुत करने के संदर्भ में दी गई है। सूचना प्रसारण मंत्रालय के सचिव अजय साव्हने ने इस मुद्दे पर ट्विटर के सीईओ जैक डोरसे को एक पत्र लिखा और पत्र के जरिए जम्मू कश्मीर को चीन का हिस्सा बताने पर कड़ी आपत्ति जताई है। पत्र में हर उन पहलुओं का उल्लेख है, जिनके आधार पर ट्विटर ने भारत का गलत मानचित्र पेश किया था। 

दरअसल हाल ही में ट्विटर ने लेह की ‘जियो लोकेशन’ जम्मू कश्मीर, पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ़ चाइना में दिखाई थी। सूत्रों के अनुसार सूचना प्रसारण मंत्रालय के सचिव अजय साव्हने ने पत्र में ट्विटर को लिखा कि लेह केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख का मुख्यालय है। इसके अलावा लद्दाख और जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और यह भारतीय संविधान के अंतर्गत आता है। लिहाज़ा जिस प्रकार का मानचित्र ट्विटर ने पेश किया, वह पूरी तरह अस्वीकार्य और आपत्तिजनक है।     

इसके अलावा उन्होंने पत्र में कई और बातें लिखीं। उन्होंने कहा कि ट्विटर को भारत के लोगों की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए। ट्विटर की तरफ से किया गया यह प्रयास भारत की संप्रभुता और एकता का अपमान करता है और यह ट्विटर द्वारा दिखाए गए मानचित्र में साफ़ नज़र आता है। इसे किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं किया जा सकता है, इतना ही नहीं यह ग़ैरक़ानूनी भी है।   

ट्विटर को कड़ी चेतावनी देते हुए मंत्रालय के सचिव ने लिखा कि इस तरह की हरकतों से सिर्फ और सिर्फ ट्विटर की छवि खराब होती है। इसके अलावा ट्विटर का यह रवैया उसकी निरपेक्षता पर भी सवाल खड़े करता है। कड़े शब्दों में यह कहा गया कि आने वाले समय में इस तरह की गलतियाँ स्वीकार नहीं की जाएँगी। यह सरासर गैर ज़िम्मेदाराना हरकत थी, जिसका सीधा प्रभाव लोगों की भावनाओं और देश की अखंडता पर पड़ता है। 

रविवार (अक्टूबर 18, 2020) को रक्षा विशेषज्ञ नितिन गोखले ने एक लाइव ब्रॉडकास्ट के जरिए दिखाया कि कैसे ट्विटर (Twitter) अपनी ‘लोकेशन’ में जम्मू कश्मीर को चीन का हिस्सा बता रहा था। वो लेह के लोकप्रिय युद्ध स्मारक ‘हॉल ऑफ फेम’ से लाइव थे और इसी दौरान उन्होंने ट्विटर (Twitter) की इस गड़बड़ी को पकड़ा। उन्होंने ट्विटर (Twitter) से पूछा कि आखिर वो जम्मू कश्मीर को भारत का हिस्सा न बता कर चीन का भाग क्यों बता रहा है? ‘इन्क्रेडिबल इंडिया’ वेबसाइट के अनुसार, कारगिल युद्ध में भारतीय सूरमाओं की गाथा सुनाने वाला ये ‘हाल आफ फेम पर्यटकों’ का सिर गर्व से ऊँचा कर देता है। 

सैनिकों द्वारा उनके परिवारों को लिखे गए पत्र इस क्षेत्र में लड़े गए युद्धों के दौरान ली गई तस्वीरें और कारगिल युद्ध पर 30 मिनट की डॉक्यूमेंट्री हमारे सैनिकों की शौर्य गाथा की याद दिलाते हैं। गोखले की ट्वीट के बाद कई यूजर्स ने अपने-अपने फोन में ट्विटर (Twitter) के लोकेशन में लेह को पिन किया और उनके भी वही परिणाम आए, जिसके बाद लोगों ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जवाब माँगना शुरू कर दिया। लोगों का कहना है कि ये न सिर्फ भारत के आधिकारिक नक़्शे का अपमान है, बल्कि भारतीय नियमों का उल्लंघन भी है। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तेजस्वी यादव के बगल में खड़े इस राजा को देखिए, वहीं के व्यवसायी को सुपारी देकर मरवाया जहाँ से माँ थी RJD उम्मीदवार: हत्या...

बिहार के पूर्णिया में 2 जून, 2024 को हुई एक व्यवसायी गोपाल यादुका की हत्या की सुपारी राजद नेता बीमा भारती के बेटे राजा ने दी थी।

चुनाव ब्रिटेन का और वोट ‘कश्मीर की आजादी’ के नाम पर माँग रहा सत्ताधारी दल का सांसद, हिंदू-भारत घृणा से भरा है चुनावी अभियान

कंजर्वेटिव पार्टी के नेता मार्को लोंगी ने पहले तो बकरीद की शुभकामनाएँ दी, उसके बाद भारत विरोधी आग उगलना शुरू किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -