Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिबीजेपी में ज्योतिरादित्य: कहा- अब नहीं रही वह कॉन्ग्रेस, कमलनाथ राज में रोजगार नहीं...

बीजेपी में ज्योतिरादित्य: कहा- अब नहीं रही वह कॉन्ग्रेस, कमलनाथ राज में रोजगार नहीं भ्रष्टाचार के अवसर हुए पैदा

नड्डा ने सिंधिया के बीजेपी में आने पर इसे पार्टी की बड़ी सफलता करार दिया। साथ ही सिंधिया परिवार के बीजेपी और देश के लिए योगदान को भी याद किया। उन्होने सिंधिया को भरोसा दिलाया कि उनको मुख्यधारा में काम करने का मौका मिलेगा।

राजनीतिक गलियारों में चल रहे तमाम चर्चाओं को विराम लगाते हुए बुधवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल हो गए। उन्होंने मंगलवार को कॉन्ग्रेस से इस्तीफा दिया था। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। सदस्यता लेने के बाद सिंधिया ने कॉन्ग्रेस को जमकर सुनाई। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस अब पहले जैसी नहीं रही। वह वास्तविकता से इनकार करती है। वहॉं जड़ता का माहौल है। नए लोगों को मौका नहीं मिल रहा।

सिंधिया ने पार्टी में शामिल करने के लिए नड्डा, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का शुक्रिया अदा किया। मध्य प्रदेश में कॉन्ग्रेस के नेतृत्व में चल रही कमलनाथ सरकार को लेकर कहा, “मेरे गृह राज्य के लिए हमने एक सपना पिरोया था। 2018 में वहॉं सरकार बनी, लेकिन 18 महीनों में वे सपने बिखर गए। किसानों से 10 दिन में कर्ज माफी की बात कही गई थी। लेकिन 18 महीनों में नहीं हो पाया। बोनस नहीं मिल पाया, ओलावृष्टि की क्षतिपूर्ति नहीं हो पाई। किसान त्रस्त हैं। युवाओं के लिए रोजगार के अवसर नहीं। रोजगार की जगह भ्रष्टाचार के अवसर पैदा हुए।”

इससे पहले नड्डा ने सिंधिया के बीजेपी में आने पर इसे पार्टी की बड़ी सफलता करार दिया। साथ ही सिंधिया परिवार के बीजेपी और देश के लिए योगदान को भी याद किया। नड्डा ने कहा कि राजमाता विजय राजे सिंधिया का भारतीय जनसंघ और भाजपा की स्थापना में बड़ा योगदान रहा है। राजमाता हमारी आदर्श और दृष्टि रही हैं। उनके पोते के पार्टी में शामिल होने की उन्हें खुशी है। उन्होंने कहा कि सिंधिया का पार्टी में शामिल होना परिवार में शामिल होने जैसा है। उन्हें पार्टी की मुख्यधारा में काम करने का मौका मिलेगा।

सिंधिया ने इस दौरान कहा कि मेरे जीवन में दो बार कठिन दौर आया। पहला 30 सितंबर 2001 जब पिता जी मृत्यु हुई। दूसरा 10 मार्च 2020 को कि जब जीवन में एक नया मोड़ आया। वहीं सिंधिया ने कहा कि मोदी, शाह और नड्डा ने उन्हें अपने परिवार में शामिल होने का आमंत्रण दिया। वे इन नेताओं के दिखाए रास्ते पर चल कर भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य राजनीति के माध्यम से जनसेवा करना है। कॉन्ग्रेस में रहकर उन्होंने 18 साल देश और प्रदेश की सेवा की। लेकिन अब वह पूरे विश्वास से कह सकते हैं कि कॉन्ग्रेस संगठन के माध्यम से वे ऐसा नहीं कर पा रहे थे।

पीएम मोदी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा, “मैं अपना सौभाग्य मानता हूॅं कि मोदी और नड्डा जी ने मुझे वह मंच उपलब्ध कराया है कि हम जनसेवा के रास्ते पर आगे बढ़ पाएँ। देश में ऐसा जनादेश किसी को नहीं मिला है जैसा मोदी जी को मिला है। वह बेहद सक्रिय, क्षमतावान और पूर्णरूप से समर्पित होकर काम करते हैं, उन्होंने देश का नाम बढ़ाया है।

बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद सिंधिया ने करीब 15 मिनट मीडिया को संबोधित किया। इसे आप नीचे दिए गए लिंक पर जाकर सुन सकते हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CPI(M) सरकार ने महादेव मंदिर पर जमाया कब्ज़ा, ताला तोड़ घुसी पुलिस: केरल में हिन्दुओं का प्रदर्शन, कइयों ने की आत्मदाह की कोशिश

श्रद्धालुओं के भारी विरोध के बावजूद केरल की CPI(M) सरकार ने कन्नूर में स्थित मत्तनूर महादेव मंदिर का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है।

राम ‘छोकरा’, लक्ष्मण ‘लौंडा’ और ‘सॉरी डार्लिंग’ पर नाचते दशरथ: AIIMS वाले शोएब आफ़ताब का रामायण, Unacademy से जुड़ा है

जिस वीडियो को लेकर विवाद है, उसे दिल्ली AIIMS के छात्रों ने शूट किया है। इसमें रामायण का मजाक उड़ाया गया है। शोएब आफताब का NEET में पहला रैंक आया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe