Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीति'यह व्यवस्था का मजाक है': कर्नाटक के पूर्व CM कुमारस्वामी के बेटे की शादी...

‘यह व्यवस्था का मजाक है’: कर्नाटक के पूर्व CM कुमारस्वामी के बेटे की शादी में लॉकडाउन की उड़ी धज्जियाँ

कुमारस्वामी के बेटे निखिल ने शुक्रवार को रेवती के साथ शादी की। समारोह से पहले पूर्व सीएम ने कहा था कि सोशल डिस्‍टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए शादी का कार्यक्रम फार्महाउस पर रखा गया है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से समारोह में नहीं आने की अपील की थी।

देशव्यापी लॉकडाउन में तमाम बंदिशों के बीच कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और जनता दल सेक्युलर के नेता एचडी कुमारस्वामी के बेटे निखिल कुमारस्वामी शुक्रवार को शादी के बंधन में बँध गए। निखिल ने राज्य के पूर्व आवास मंत्री और कॉन्ग्रेस नेता एम कृष्णप्पा की भतीजी रेवती से शादी की। ये शादी कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू से करीब 28 किमी दूर रामनगर स्थित फॉर्महाउस में हुई। 

कुमारस्वामी के बेटे की शादी समारोह की जो तस्वीरें और वीडियो सामने आए हैं उससे साफ है कि इस दौरान लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के कायदों का ख्याल नहीं रखा गया। इस संबंध में राज्य के उपमुख्यमंत्री ए. नारायण ने कहा, “मैंने रामनगर के डिप्टी कमिश्नर से रिपोर्ट मॉंगी है। मैं पुलिस अधीक्षक से बात करूॅंगा। कार्रवाई किए जाने की जरूरत है। यह व्यवस्था का मजाक है।”

कर्नाटक में ‘बड़ी शादियों’ का प्रचलन है। समारोह कई दिनों तक चलता है। लेकिन, राज्य के दो राजनीतिक परिवारों ने इस तरह का आयोजन ऐसे वक्त में किया है जब देश कोरोना महामारी की चपेट में हैं। संक्रमण पर काबू पाने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन है। लोगों के जुटान और समारोहों पर रोक है। इस स्थिति में लोगों को अपनी शादी तक रद्द करनी पड़ी है। लेकिन, मुख्यमंत्री रह चुके एक शख्स ने अपने बेटे की ही शादी में इसका ख्याल नहीं रखा।

लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिग का ख्याल नहीं

एक ओर जहाँ पूरे देश में सार्वजनिक स्थान पर 4 लोगों के इकट्ठा होने पर भी पाबंदी लगी हुई है। वहीं इस शादी में एक जगह 60 से 70 लोगों के इकट्ठा होने की खबर है। बताया जा रहा है कि इस समारोह में सभी परंपराओं का पालन किया गया और सभी रीति-रिवाज निभाए गए। मगर किसी ने भी वहाँ न मास्क पहने न ग्लव्स। इसके अतिरिक्त शादी में सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं हुआ।

उल्लेखनीय है कि शादी से पहले कुमारस्वामी ने कहा था,”अगर कार्यक्रम घर पर आयोजित किया जाता है तो सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करना मुश्किल होगा। यही कारण है कि हम अपने फार्महाउस में कार्यक्रम का आयोजन कर रहे हैं। मैं अपने कार्यकर्ताओं-शुभचिंतकों से इस कार्यक्रम में भाग नहीं लेने का अनुरोध करता हूँ।” 

कुमारस्वामी के बेटे की शादी पर क्या बोले डिप्टी सीएम

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री ए. नारायण ने इस शादी पर कहा कि कुमारस्वामी ने सार्वजनिक तौर पर कहा था कि दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा। वे जनप्रतिनिधि हैं। लंबे समय से सार्वजनिक जीवन में हैं। उन्हें दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए। वे कर्नाटक के मुख्यमंत्री थे। रामनगर से विधायक हैं। इसलिए दिशा-निर्देशों का पालन किया जाना चाहिए था। कोई बहाना नहीं होना चाहिए। वह यह नहीं कह सकते कि लोग बिना निमंत्रण के आए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

6 साल के जुड़वा भाई, अगवा कर ₹20 लाख फिरौती ली; फिर भी हाथ-पैर बाँध यमुना में फेंका: ढाई साल बाद इंसाफ

मध्य प्रदेश स्थित सतना जिले के चित्रकूट में दो जुड़वा भाइयों के अपहरण और हत्या के मामले में 5 दोषियों को आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई गई है।

‘अपनी मौत के लिए दानिश सिद्दीकी खुद जिम्मेदार, नहीं माँगेंगे माफ़ी, वो दुश्मन की टैंक पर था’: ‘दैनिक भास्कर’ से बोला तालिबान

तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि दानिश सिद्दीकी का शव युद्धक्षेत्र में पड़ा था, जिसकी बाद में पहचान हुई तो रेडक्रॉस के हवाले किया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,381FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe