Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिकर्नाटक: येदियुरप्पा ने साबित किया बहुमत, विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने तत्काल प्रभाव से...

कर्नाटक: येदियुरप्पा ने साबित किया बहुमत, विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने तत्काल प्रभाव से सौंपा इस्तीफा

कर्नाटक विधानसभा में मुख्यमंत्री येदियुरप्पा सरकार को बहुमत प्राप्त हो गया है। इस दौरान विपक्ष ने मत विभाजन की माँग नहीं की।

कर्नाटक में लंबे समय से चल रहे सियासी संकट पर आज विराम लग गया है। कर्नाटक विधानसभा में मुख्यमंत्री येदियुरप्पा सरकार को बहुमत प्राप्त हो गया है। इस दौरान विपक्ष ने मत विभाजन की माँग नहीं की। इसी के साथ सरकार अपने आगे के कामकाज में जुट गई है। राज्य में फ़िलहाल, 207 विधायकों वाली विधानसभा है, जिसमें बहुमत के लिए 104 का आंकड़ा चाहिए था और बीजेपी के पास 105 विधायक हैं।

सदन में मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कहा कि वो किसी के ख़िलाफ़ बदले की राजनीति के साथ काम नहीं करते हैं, आगे भी नहीं करेंगे। उन्होंने कहा, “हमारी सरकार किसानों के लिए काम करना चाहती है, इसलिए मैं सभी से अपील करता हूँ कि सरकार के विश्वास मत प्रस्ताव का समर्थन करें।”

इससे पहले जेडीएस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने सदन में बोलते हुए कहा, “मैं 14 महीने तक सरकार में रहा। मुझे आपके (बीएस येदियुरप्पा) सवालों के जवाब देने की कोई बाध्यता नहीं है। मुझे अपनी अंतरात्मा की आवाज का जवाब देने की जरूरत है। पिछले 14 महीनों से सब कुछ दर्ज किया जा रहा था। लोग जानते हैं कि मैंने क्या काम किया है।”

वहीं, सिद्धरमैया ने कहा, “हमें उम्मीद है कि आप (बीएस येदियुरप्पा) मुख्यमंत्री होंगे, लेकिन इसकी कोई गारंटी नहीं है। आप बागियों के साथ हैं, क्या आप एक स्थिर सरकार दे सकते हैं? यह नामुमकिन है, मैं इस अविश्वास प्रस्ताव का विरोध करता हूँ क्योंकि इसका कारण सरकार का असंवैधानिक और अनैतिक होना है।”

एक और नाटकीय घटनाक्रम में कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष रमेश कुमार ने तत्काल प्रभाव से अपना इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे के बाद उन्होंने सदन के सभी सदस्यों और कर्मचारियों का धन्यवाद किया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

डीजल डाल कर जला दिया दलित लखबीर का शव, चेहरा तक नहीं देखने दिया परिजनों को: ग्रामीणों ने किया बहिष्कार

डीजल डाल कर मोबाइल की रोशनी में दलित लखबीर सिंह के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। शव से पॉलीथिन नहीं हटाया गया। परिजन चेहरा तक न देख पाए।

पश्चिम बंगाल में दुर्गा विसर्जन से लौट रहे श्रद्धालुओं पर बम से हमला, कई घायल, पुलिस ने कहा – ‘हमलावरों की अभी तक पहचान...

हमलावर मौके से फरार हो गए। सूचना पाकर पहुँची पुलिस ने लोगों की भीड़ को हटाकर मामला शांत किया और घायलों को अस्पताल भेजा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,199FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe