Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीति'कॉन्ग्रेस MLA ने बार-बार किया मेरा उत्पीड़न': केरल की महिला स्कूल टीचर का आरोप,...

‘कॉन्ग्रेस MLA ने बार-बार किया मेरा उत्पीड़न’: केरल की महिला स्कूल टीचर का आरोप, कहा- मामला रफा-दफा करने के लिए ₹30 लाख की पेशकश और धमकी दी गई

महिला का आरोप है कि उसे कॉन्ग्रेस पार्टी पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं है कि वह कॉन्ग्रेस विधायक एलधोस कुन्नापिल्ली के खिलाफ कोई कार्रवाई करेगी। महिला ने आरोप लगाया कि दोनों ही एक-दूसरे को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। महिला का कहना है कि वह अकेली है और उसके लिए लड़ने वाला कोई नहीं है।

केरल के पेराम्बवूर (Perambvoor, Kerala) की एक महिला ने कॉन्ग्रेस विधायक एलधोस कुन्नापिल्ली (Eldhose Kunnappilly) पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत की है। पीड़िता का कहना है कि विधायक ने मामले को रफा-दफा करने के लिए 30 लाख रुपए की भी पेशकश की। महिला ने पुलिस पर कार्रवाई में देरी करने का भी आरोप लगाया।

पीड़िता ने इस संबंध में मीडिया से बात की और इस दौरान कॉन्ग्रेस विधायक का ऑडियो रिकॉर्डिंग भी सुनाया, जिसमें विधायक महिला के बारे में बोल रहे हैं। महिला ने बताया कि घटना 14 सितंबर की है। विधायक शराब के नशे में तिरुवनंतपुरम स्थित उसके आए और साथ देने के लिए कहा। जब उसने मना किया तो उसे बुरी तरह से पीटा गया और उसे विधायक के साथ जाने के लिए मजबूर किया गया।

स्कूल टीचर पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि कार में ले जाने के दौरान भी पेराम्बवूर से कॉन्ग्रेस विधायक कुन्नापिल्ली ने उसे मारा। जब लोगों ने ऐसा करते देखा तो पुलिस को सूचित किया। पुलिस आई तो विधायक ने कहा कि महिला उसकी पत्नी है और वह उसे लेकर चला गया। महिला का कहना है कि पिटाई के बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती होना पड़ा।

कॉन्ग्रेस विधायक से महिला की जान-पहचान साल 2016 के चुनाव से एक साल पहले हुई थी। वह अपने एक दोस्त के जरिए विधायक से मिली थी। पीड़िता की दोस्त विधायक के यहाँ नौकरी करती थी। महिला ने बताया कि इस जुलाई से विधायक के साथ उसकी नजदीकी बढ़ी थी। उसके बाद विधायक उसे कई जगह अपने साथ ले गया और उसे प्रताड़ित किया।

यौन शोषण के सवाल पर महिला ने मीडिया के सामने कुछ नहीं बोला और कहा कि उसने कोर्ट के सामने धारा 164 के तहत अपने बयान में सारी जानकारी दर्ज करा दी है। पीड़िता ने कहा कि घटना के बाद उसने FIR दर्ज कराने की कोशिश की, लेकिन मामला MLA का होने की वजह से शिकायत दर्ज नहीं की गई। इस पुलिस कमिश्नर से लेकर अन्य थानों तक दौड़ाया जाता रहा।

महिला ने आरोप लगाया कि विधायक ने एक बार फिर 9 अक्टूबर 2022 को उसके साथ मारपीट की। इसके बाद वह कन्याकुमारी चली गई और आत्महत्या की कोशिश करने लगी। इसी दौरान उसके दोस्त ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। पुलिस ने उसे खोज निकाला और उसने पुलिस को इसके बारे में जानकारी दी।

महिला का कहना है कि मामला जब सार्वजनिक हुआ तो सोशल मीडिया पर उसके खिलाफ आपत्तिजनक बातें कही जाने लगी। उसने कहा कि यहाँ तक कि कोवलम के CI ने उसकी पहचान और पता का भी खुलासा कर दिया। महिला का कहना है कि विधायक के खिलाफ कहने के लिए उसके पास बहुत कुछ है और उसे कोर्ट के सामने बताएगी।

महिला का आरोप है कि उसे कॉन्ग्रेस पार्टी पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं है कि वह कॉन्ग्रेस विधायक एलधोस कुन्नापिल्ली के खिलाफ कोई कार्रवाई करेगी। महिला ने आरोप लगाया कि दोनों ही एक-दूसरे को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। महिला का कहना है कि वह अकेली है और उसके लिए लड़ने वाला कोई नहीं है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -