बीजेपी सत्ता में आई, तो यूपी की तरह आप सिर नहीं उठा पाएँगे: TMC नेता की मुस्लिम दंगाइयों को सीख

"विरोध करना चाहते हैं तो ममता बनर्जी की रैली में शामिल हों। लोकतांत्रिक, सामाजिक तरीके से CAB और NRC के ख़िलाफ़ विरोध करें। बंगाल के लोग आहत हो रहे हैं और दिल्ली के अमित शाह इस पर हँस रहे हैं।"

शनिवार को, कोलकाता के मेयर और सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस के नेता फ़रहाद हकीम ने मुस्लिम दंगाई भीड़ से राज्य में दंगा न करने और सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान नहीं पहुँचाने की अपील की। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी पहले ही घोषणा कर चुकी हैं कि राज्य में NRC और CAA लागू नहीं किया जाएगा, इसलिए उन्हें चिंता करने की ज़रूरत नहीं है।

हकीम ने कहा कि बंगाल के लोगों को अपने ही राज्य के अन्य लोगों को नुक़सान नहीं पहुँचाना चाहिए। हमें बंगाल के लोगों की सार्वजनिक सम्पत्ति को नुक़सान नहीं पहुँचाना चाहिए। अगर ऐसा किया जाएगा तो फिर वो लोग अमित शाह का समर्थन करना शुरू कर देंगे। अगर उनमें से 70% लोग अमित शाह का समर्थन करते हैं, तो जब बीजेपी यहाँ सत्ता में आ जाएगी तो आप अपना सिर नहीं उठा सकेंगे जैसा वो (बीजेपी) उत्तर प्रदेश में करते हैं। तब कोई भी सड़कों पर नहीं आएगा।

उन्होंने कहा, “विरोध करना चाहते हैं तो ममता बनर्जी की रैली में शामिल हों। लोकतांत्रिक, सामाजिक तरीके से CAB और NRC के ख़िलाफ़ विरोध करें। हम अपराधी नहीं हैं कि हम बसों को जलाएँ और अराजकता फैलाएँ। मैं उन भाइयों से अनुरोध करता हूँ जो इन विरोध-प्रदर्शनों में समझदारी से विचार कर रहे हैं। बंगाल के लोग आहत हो रहे हैं और दिल्ली के अमित शाह इस पर हँस रहे हैं।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

मुस्लिम दंगाई पश्चिम बंगाल में उग्र रूप से फैल गए हैं और राज्य सरकार ने अब तक उनसे सख़्ती से पेश नहीं आई है। बसों को जला दिया गया है, गाड़ियों में आग लगा दी गई है और राज्य से सार्वजनिक सम्पत्ति को भारी नुकसान हुआ है।

बंगाल में लगातार तीसरे दिन हिंसा: अकरा रेलवे स्टेशन पर दंगाइयों का उत्पात, टॉयलेट में छिप कर्मचारियों ने बचाई जान

ओवैसी के डर से बंगाल में दंगाइयों को खुली छूट दे रही हैं ममता!

ममता के बंगाल में जुमे की नमाज के बाद मुसलमानों ने योजना बनाकर की जमकर हिंसा, पत्थरबाजी, आगजनी

बंगाल: BJP सांसद अर्जुन सिंह की कार पर फेंका बम, विजयवर्गीय बोले- इन्हें खदेड़ने के लिए NRC जरूरी

‘10000 मुसलमानों ने बेलदांगा में BDO का दफ्तर घेरा, लगाई आग, पत्नी ने किसी तरह बचाई जान’


शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शरजील इमाम
शरजील इमाम वामपंथियों के प्रोपेगंडा पोर्टल 'द वायर' में कॉलम भी लिखता है। प्रोपेगंडा पोर्टल न्यूजलॉन्ड्री के शरजील उस्मानी ने इमाम का समर्थन किया है। जेएनयू छात्र संघ की काउंसलर आफरीन फातिमा ने भी इमाम का समर्थन करते हुए लिखा कि सरकार उससे डर गई है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,507फैंसलाइक करें
36,393फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: