Thursday, August 5, 2021
Homeराजनीतिचिन्मयानंद से ₹5 करोड़ मॉंगने का मामला: ​रेप पीड़िता गिरफ्तार, 7 अक्टूबर तक जेल...

चिन्मयानंद से ₹5 करोड़ मॉंगने का मामला: ​रेप पीड़िता गिरफ्तार, 7 अक्टूबर तक जेल भेज गया

पीड़िता पर अपने दो भाइयों और दोस्त के साथ मिलकर चिन्मयानंद से फिरौती माँगने का आरोप है। एसआईटी ने पिछले हफ्ते इस मामले में पीड़ित छात्रा के दोस्त संजय सिंह, उसके चचेरे भाई विक्रम और मौसेरे भाई सचिन सेंगर को गिरफ्तार किया था।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता चिन्मयानंद पर बलात्कार और यौन शोषण का आरोप लगाने वाली 23 वर्षीय कानून की छात्रा को बुधवार (सितंबर 25, 2019) विशेष जाँच टीम (SIT) ने ब्लैकमेलिंग के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। एसआईटी ने छात्रा को उसके घर से गिरफ्तार किया।

पीड़िता पर अपने दो भाइयों और दोस्त के साथ मिलकर चिन्मयानंद से 5 करोड़ की फिरौती माँगने का आरोप है। उत्‍तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (DGP) ओपी सिंह ने बताया कि चिन्मयानंद पर बलात्कार और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाले लॉ की छात्रा को एसआईटी ने कथित तौर पर रंगदारी माँगने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। एसआईटी ने पिछले हफ्ते इस मामले में पीड़ित छात्रा के दोस्त संजय सिंह, उसके चचेरे भाई विक्रम और मौसेरे भाई सचिन सेंगर को गिरफ्तार किया था।

मामले की जाँच कर रहे एसआईटी प्रमुख नवीन अरोड़ा ने हाल ही में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि चिन्मयानंद को ब्लैकमेल करने के मामले में पीड़ित छात्रा की भी संलिप्तता मिली है। सबूत मिलने पर उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। नवीन अरोड़ा ने बताया कि छात्रा से मंगलवार (सितंबर 24, 2019) को पूछताछ की गई थी। पुख्ता साक्ष्य मिलने के बाद उसे गिरफ्तार कर मेडिकल जाँच कराया जा रहा है। 

हालाँकि, पीड़िता के वकील ने छात्रा को हिरासत में लेने की खबर को गलत बताते हुए कहा था कि उन्हें इस बाबत कोई नोटिस नहीं प्राप्त हुआ है और न ही उनके खिलाफ किसी भी तरह की कार्रवाई की गई। उन्होंने पीड़िता की गिरफ़्तारी की खबर को भी गलत बताया था। बता दें कि, सोमवार (सितम्बर 23, 2019) को इलाहबाद हाई कोर्ट ने पीड़िता के वकील ने अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की थी। जिस पर 26 सितम्बर को सुनवाई होनी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

‘5 अगस्त की तारीख बहुत विशेष’: PM मोदी ने हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन और 370 हटाने का किया जिक्र

हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन, आर्टिकल 370 हटाने का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को बेहद खास बताया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,121FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe