Thursday, April 25, 2024
Homeराजनीतिकॉमनवेल्थ गोल्ड मेडलिस्ट नरसिंह यादव ने ACP पद पर रहते हुए कॉन्ग्रेस का किया...

कॉमनवेल्थ गोल्ड मेडलिस्ट नरसिंह यादव ने ACP पद पर रहते हुए कॉन्ग्रेस का किया प्रचार, FIR दर्ज

अम्बोली पुलिस ने सोमवार को जनप्रतिनिधि अधिनियम के तहत यादव के खिलाफ एक मामला दर्ज किया और जल्द ही नरसिंह को नोटिस जारी कर जवाब-तलाब किया जाएगा और साथ ही नरसिंह यादव को विभागीय कार्रवाई का सामना भी करना पड़ सकता है।

महाराष्ट्र पुलिस ने आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले में पहलवान नरसिंह यादव के खिलाफ FIR दर्ज किया है। नरसिंह यादव पर आरोप है कि उन्होंने महाराष्ट्र में सहायक पुलिस आयुक्त के रूप में सेवारत होते हुए 21 अप्रैल को कॉन्ग्रेस पार्टी का प्रचार किया था। बता दें कि, नरसिंह यादव स्पोर्टस कोटे से एसीपी के पद पर कार्यरत हैं और आदर्श आचार संहिता के मुताबिक, कोई भी सरकारी कर्मचारी किसी पार्टी के पक्ष में चुनाव प्रचार नहीं कर सकता। ऐसा करने पर उस व्यक्ति को नोटिस जारी किया जाता है।

अतंरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके पहलवान नरसिंह यादव पर आरोप है कि वह उत्तर मुंबई से कॉन्ग्रेस उम्मीदवार संजय निरुपम के लिए चुनावी प्रचार किया है। नरसिंह राव ने उनके साथ रैली में हिस्सा लिया था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि चुनाव कर्मियों ने राज्य के निर्वाचन कार्यालय में इस संबंध में रिपोर्ट भेजी, इसके बाद अम्बोली पुलिस ने सोमवार को जनप्रतिनिधि अधिनियम के तहत यादव के खिलाफ एक मामला दर्ज किया और जल्द ही नरसिंह को नोटिस जारी कर जवाब-तलाब किया जाएगा और साथ ही नरसिंह यादव को विभागीय कार्रवाई का सामना भी करना पड़ सकता है।

जानकारी के मुताबिक, नरसिंह यादव ने सार्वजनिक रूप से सभा को संबोधित नहीं किया, वो बस संजय निरूपम के मंच पर मौजूद थे। कॉन्ग्रेस के एक कार्यकर्ता ने इस बारे में कहा है कि नरसिंह यादव केवल संजय निरुपम को समर्थन देने के लिए आए थे। यहाँ पर कॉन्ग्रेस के संजय निरूपम का मुकाबला शिवसेना के गजानन कीर्तिकर से है। बता दें कि, नरसिंह यादव कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स के गोल्‍ड मेडलिस्‍ट हैं। उन्‍होंने 2010 के कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में गोल्ड मेडल जीता था। हालाँकि, बाद में 2016 के रियो ओलंपिक के समय उन्‍हें टीम में नहीं चुने जाने पर काफी विवाद हुआ था। उन पर चार साल का प्रतिबंध लगा दिया गया था। जिसकी वजह से वे रियो ओलंपिक में भाग नहीं ले सके थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस ही लेकर आई थी कर्नाटक में मुस्लिम आरक्षण, BJP ने खत्म किया तो दोबारा ले आए: जानिए वो इतिहास, जिसे देवगौड़ा सरकार की...

कॉन्ग्रेस का प्रचार तंत्र फैला रहा है कि मुस्लिम आरक्षण देवगौड़ा सरकार लाई थी लेकिन सच यह है कि कॉन्ग्रेस ही इसे 30 साल पहले लेकर आई थी।

मुंबई के मशहूर सोमैया स्कूल की प्रिंसिपल परवीन शेख को हिंदुओं से नफरत, PM मोदी की तुलना कुत्ते से… पसंद है हमास और इस्लामी...

परवीन शेख मुंबई के मशहूर स्कूल द सोमैया स्कूल की प्रिंसिपल हैं। ये स्कूल मुंबई के घाटकोपर-ईस्ट इलाके में आने वाले विद्या विहार में स्थित है। परवीन शेख 12 साल से स्कूल से जुड़ी हुई हैं, जिनमें से 7 साल वो बतौर प्रिंसिपल काम कर चुकी हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe