Thursday, May 26, 2022
Homeराजनीतिज्योतिरादित्य सिंधिया का कमलनाथ सरकार पर हमला: बाढ़ के सर्वे पर उठाए सवाल, कहा-...

ज्योतिरादित्य सिंधिया का कमलनाथ सरकार पर हमला: बाढ़ के सर्वे पर उठाए सवाल, कहा- मैं संतुष्ट नहीं

“मैंने नीमच जिले के खेतों में सीने तक पानी भरा देखा है। अन्नदाता की फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई है। मैं यह विश्वास दिलाता हूँ कि शासन-प्रशासन को मेरे अन्नदाताओं के साथ खड़े रहना ही होगा। मध्यप्रदेश कृषि प्रधान प्रदेश है, मैं हमेशा किसानों के साथ खड़ा हूँ।”

कॉन्ग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक बार फिर से इशारों ही इशारों में कमलनाथ सरकार पर हमला बोला है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार (सितंबर 24, 2019) को नीमच और मंदसौर में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों को दौरा किया। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार द्वारा कराए जा रहे सर्वे पर भी सवाल उठाए।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि प्रदेश सरकार (कमलनाथ सरकार) द्वारा किसानों के फसल को हुए नुकसान को लेकर जो प्राथमिक सर्वे कराए गए हैं, वो उससे संतुष्ट नहीं हैं। उन्होंने कहा कि एक-एक तहसीलदार, एक-एक पटवारी वापस से अपने क्षेत्र में जाए और फिर से सर्वे करवाए और उसका जो भी आकलन होगा, वो जिला कलेक्टर के पास ले जाए।

सिंधिया ने बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों का दौरा करने के दौरान नयागाँव में कहा, “मैंने नीमच जिले के खेतों में सीने तक पानी भरा देखा है। अन्नदाता की फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई है। मैं यह विश्वास दिलाता हूँ कि शासन-प्रशासन को मेरे अन्नदाताओं के साथ खड़े रहना ही होगा। मध्यप्रदेश कृषि प्रधान प्रदेश है, मैं हमेशा किसानों के साथ खड़ा हूँ।”

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रशासन पर निशाना साधते हुए कहा, “मैंने मंदसौर, नीमच के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है जहाँ फसलें पूर्णतया बर्बाद हो गई हैं। प्रदेश सरकार से मैंने सर्वे करवाकर शत-प्रतिशत मुआवजा, राशि और केन्द्र सरकार से विशेष मेगा राहत पैकेज की माँग की है।”

सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार को अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए जल्द ही एक-एक प्रभावित किसान के खाते में पैसे पहुँचाने शुरू करना चाहिए। साथ ही केंद्र सरकार को भी बाढ़ प्रभावित किसानों और लोगों के लिए जल्द ही राशि स्वीकृत कर उसे जारी कर देना चाहिए।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, “सिंधिया परिवार का सदैव इस मालवा और निमाड़ की माटी से जुड़ाव रहा है, और मैं आपके बीच किसी राजनेता के रूप में नहीं, बल्कि आपके परिवार के सदस्य होने के नाते आया हूँ। मैं आपको पूर्ण विश्वास दिलाता हूँ, आपके हक और न्याय की लड़ाई ज्योतिरादित्य सिंधिया लड़ेगा। फसल हानि के साथ जनहानि हो, पशुधन हानि हो, या मकान की हानि हो। हर एक व्यक्ति को पूर्ण रूप से मुआवजा दिलाना ही मेरा लक्ष्य रहेगा।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘संघी, भाजपा का आदमी, कट्टरपंथी’: जानिए कैसे अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी में हिंदू छात्र को इस्लामोफोबिक बता किया टॉर्चर

बेंगलुरु के अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी में हिंदू छात्र ऋषि तिवारी को संघी और भाजपा का आदमी कहकर उन्हें तरह-तरह से प्रताड़ित किया गया।

उइगर मुस्लिमों से कुरान और हिजाब छीन रहा चीन, भागने पर गोली मारने का आदेश: लीक दस्तावेजों से खुलासा- डिटेंशन कैंपों में कैद हैं...

इन दस्तावेजों से यह भी खुलासा हुआ है कि चीन मुस्लिमों से कुरान, हिजाब समेत सभी धार्मिक-मजहबी चीजें जब्त कर उनकी पहचान मिटा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,942FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe