Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिमहाराष्ट्र: एक ही दिन में 5000 से ज्यादा कोरोना केस, स्वास्थ्य मंत्री संक्रमित- लॉकडाउन...

महाराष्ट्र: एक ही दिन में 5000 से ज्यादा कोरोना केस, स्वास्थ्य मंत्री संक्रमित- लॉकडाउन के साथ जारी हुईं नई गाइडलाइंस

यवतमाल में 10 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है, वहीं अमरावती में सप्ताहांत में लॉकडाउन रहेगा। बीएमसी ने राजधानी मुंबई के लिए नए कोविड -19 दिशानिर्देशों को भी नए सिरे से जारी किया है।

महाराष्ट्र सरकार ने बृहस्पतिवार (फरवरी 18, 2021) को कोरोनो वायरस मामलों में एक बार फिर उछाल आने के बाद राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में लॉकडाउन सहित नए कोरोना दिशानिर्देशों की घोषणा की। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

राजेश टोपे ने अपने कोरोना संक्रमित होने की जानकारी अपने ट्विटर अकाउंट से सोशल मीडिया पर दी है। उनका कहना है कि उनकी तबीयत पूरी तरह से ठीक है और वह जल्द ही कोरोना से ठीक हो जाएँगे।

उल्लेखनीय है कि मुंबई समेत महाराष्ट्र राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं। दो दिन पहले ही अकेले मुंबई में कोरोना संक्रमण के 700 नए मरीज सामने आए थे। इसके बाद महाराष्ट्र में सख्ती बढ़ा दी गई है।

यवतमाल में 10 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है, वहीं अमरावती में सप्ताहांत में लॉकडाउन रहेगा। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने राजधानी मुंबई के लिए नए कोविड -19 दिशानिर्देशों को भी नए सिरे से जारी किया है। सुरक्षा दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा।

बीएमसी ने सार्वजनिक रूप से मास्क के बिना पाए जाने पर लोगों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है। जिम और अन्य प्रतिष्ठानों के खिलाफ कोरोना दिशानिर्देशों का पालन ना करने पर कार्रवाई की जाएगी।

अमरावती और यवतमाल, ये दोनों ही विदर्भ में आते हैं। इस इलाके में फरवरी माह की शुरुआत से ही कोविड -19 मामलों में लगातार वृद्धि दर्ज हो रही हैं। सख्ती बढ़ाने का फैसला ऐसे समय में लिया गया जब एक ही दिन में महाराष्ट्र में 5,427 नए कोविड -19 मामलों की जानकारी सामने आई। आँकड़ों में यह उछाल लगभग दो महीने से अधिक समय बाद देखा गया है।

यवतमाल जिले में प्रशासन ने दस दिनों के लिए सार्वजनिक मीटिंग्स पर रोक लगाने के साथ ही हाल ही में खुले स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है। यवतमाल कलेक्टर डीएम सिंह ने कहा कि यवतमाल जिले के स्कूल (कक्षा 5 से 9 के छात्रों के लिए), कॉलेजों और कोचिंग क्लासेस 28 फरवरी तक बंद रहेंगे, जबकि 50 लोगों को ही शादी समारोहों में शामिल होने की अनुमति होगी। हालाँकि, उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थल खुले रहेंगे लेकिन कोविड -19 प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू किया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माँ का किडनी ट्रांसप्लांट, खुद की कोरोना से लड़ाई: संघर्ष से भरा लवलीना का जीवन, ₹2500/माह में पिता चलाते थे 3 बेटियों का परिवार

टोक्यो ओलंपिक में मेडल पक्का करने वाली लवलीना बोरगोहेन के पिता गाँव के ही एक चाय बागान में काम करते थे। वो मात्र 2500 रुपए प्रति महीने ही कमा पाते थे।

फ्लाईओवर के ऊपर ‘पैदा’ हो गया मज़ार, अवैध अतिक्रमण से घंटों लगता है ट्रैफिक जाम: देश की राजधानी की घटना

ताज़ा घटना दिल्ली के आज़ादपुर की है। बड़ी सब्जी मंडी होने की वजह से ये इलाका जाना जाता है। यहाँ के एक फ्लाईओवर पर अवैध मजार बना दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,105FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe