Wednesday, February 28, 2024
Homeराजनीति'बीजेपी सीएम की कुर्सी तो देगी नहीं, 5 साल के लिए बेटे को डिप्टी...

‘बीजेपी सीएम की कुर्सी तो देगी नहीं, 5 साल के लिए बेटे को डिप्टी सीएम बनवा लें उद्धव ठाकरे’

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भाजपा-शिवसेना गठबंधन को पूर्ण बहुमत है। 288 सीटों पर हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी की 105 और शिवसेना 56 सीटें आई हैं, जबकि कॉन्ग्रेस ने 44 और एनसीपी ने 54 सीटों पर जीत दर्ज की।

महाराष्ट्र में भाजपा से 2.5 साल के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी मॉंग रही शिवसेना को रामदास रामदास आठवले ने खरी-खरी सुनाई है। केंद्रीय मंत्री और रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) के प्रमुख अठावले ने कहा है कि ​​भाजपा मुख्यमंत्री का पद अपने सहयोगी को देगी नहीं, इसलिए शिवसेना को डिप्टी सीएम का पद स्वीकार लेना चाहिए। आरपीआई एनडीए का घटक है।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में भाजपा सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी है। हालॉंकि अपने दम पर वह बहुमत हासिल नहीं कर पाई है। नतीजों के बाद से ही उसकी सहयोगी शिवसेना 2.5 साल के लिए सीएम पद मॉंग रही है। वह इस मसले पर बकायदा लिखित आश्वासन चाहती है।

आठवले ने कहा, “बीजेपी रोटेशन आधारित सीएम पद के लिए सहमत नहीं होगी। उपमुख्यमंत्री का पद शिवसेना को दिया जा सकता है। आदित्य ठाकरे के लिए उपमुख्यमंत्री पद पर शिवसेना को मान जाना चाहिए। फडणवीस मुख्यमंत्री का पद सँभाले।”

आठवले ने कहा कि उनका कहना यह है कि भाजपा और शिवसेना को साथ आना चाहिए, क्योंकि जनता का जनादेश उनके साथ है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि निश्चित रूप से एनडीए (NDA) को उतनी सीटें नहीं मिलीं, जितनी अपेक्षित थीं, लेकिन फिर भी बहुमत है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पद पर निश्चित रूप से भाजपा का दावा बनता है। आठवले ने कहा कि वह दोनों पार्टियों से बात करेंगे और बातचीत के माध्यम से इस मुद्दे को हल करने के लिए कहेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अगले चार-पाँच दिनों में दोनों पार्टी उचित निर्णय पर पहुँच जाएगी।

इस बीच, बरसी निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय विधायक राजेंद्र राउत ने फडणवीस से मुलाकात की और भारतीय जनता पार्टी को अपना समर्थन दिया। बीजेपी की बागी विधायक गीता जैन ने भी फडणवीस को अपना समर्थन दिया है। बता दें कि गीता ने ठाणे में भयंदर निर्वाचन क्षेत्र से बीजेपी के उम्मीदवार नरेंद्र मेहता के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीत हासिल की थी।

इसके साथ ही युवा स्वाभिमान पार्टी ने भी फडणवीस को खत लिखकर अपना समर्थन देने की बात कही है। रवि राणा अमरावती के बडनेरा विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। इस चुनाव में उन्होंने शिवसेना के प्रीति संजय को 15 हजार से अधिक वोटों से हराया है।

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भाजपा-शिवसेना गठबंधन को पूर्ण बहुमत है। 288 सीटों पर हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी की 105 और शिवसेना 56 सीटें आई हैं, जबकि कॉन्ग्रेस ने 44 और एनसीपी ने 54 सीटों पर जीत दर्ज की।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस जामनगर में अनंत-राधिका की प्री वेडिंग सेरेमनी, वहाँ अंबानी परिवार ने बनवाए 14 मंदिर: भाटीगल संस्कृति का रखा ध्यान, भित्ति शैली की नक्काशी

गुजरात के जामनगर में मुकेश अंबानी ने अपने छोटे बेटे अनंत अंबानी की शादी से पूर्व 14 मंदिरों का निर्माण करवाया है। ये मंदिर भव्य हैं और इनमें सुंदर नक्काशी का काम हुआ है।

एक्स्ट्रा सीटें जीत BJP ने राज्यसभा का गणित बदला, बहुमत से NDA अब 4 सीट ही दूर: जानिए उच्च सदन में किसकी कितनी ताकत

राज्यसभा चुनाव में बीजेपी ने झंडे गाड़ दिए। देश में कुल 56 सीटों के लिए चुनाव हुए, जिसमें बीजेपी ने 30 सीटें जीत ली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe