Thursday, February 22, 2024
Homeराजनीतिजेटली के 'उत्तराधिकारी' बन सकते हैं मनोज सिन्हा, मिल सकती है राज्य सभा सीट

जेटली के ‘उत्तराधिकारी’ बन सकते हैं मनोज सिन्हा, मिल सकती है राज्य सभा सीट

अगर मनोज सिन्हा अरुण जेटली की सीट पर काबिज़ होने में सफल रहते हैं तो वे अप्रैल 2024 तक इस पद पर बने रहेंगे। वैसे उत्तर प्रदेश विधानसभा में भाजपा के पास 325 विधायकों के साथ तीन-चौथाई से अधिक बहुमत है। इसलिए वहाँ के भाजपा प्रत्याशी की जीत तय है।

मीडिया खबरों के मुताबिक गाज़ीपुर के पूर्व सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को दिवंगत नेता अरुण जेटली की जगह पर राज्य सभा में भेजा जा सकता है। पूर्व वित्त और कॉर्पोरेट मंत्री जेटली का लम्बी बीमारी के बाद 24 अगस्त को निधन हो गया था। वहीं मोदी सरकार 1.0 में मंत्री रहे मनोज सिन्हा 1.2 लाख मतों से 2019 में बसपा के अफ़ज़ल अंसारी से हार गए थे

2024 तक रहेंगे सांसद

केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने 26 सितंबर को जेटली और पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी के निधन से खाली हुई सीटों पर चुनाव की घोषणा की है। 16 अक्टूबर को यह चुनाव होंगे। अगर मनोज सिन्हा अरुण जेटली की सीट पर काबिज़ होने में सफल रहते हैं तो वे अप्रैल 2024 तक इस पद पर बने रहेंगे। जेटली उत्तर प्रदेश और जेठमलानी बिहार के सांसद थे। मीडिया खबरों के मुताबिक इस बाबत सिन्हा ने भाजपा के पूर्णकालिक अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा से मुलाकात आज (26 सितंबर को) मुलाकात की है।

18 को परिणाम, यूपी में भाजपा प्रत्याशी की जीत तय

उत्तर प्रदेश विधानसभा में भाजपा के पास 325 विधायकों के साथ तीन-चौथाई से अधिक बहुमत है। इसलिए वहाँ के भाजपा प्रत्याशी की जीत तय है

निर्वाचन आयोग के आदेश के अनुसार 27 सितंबर (कल) से चुनाव की घोषणा अधिसूचित मानी जाएगी, और उसी दिन से नामांकन प्रक्रिया भी प्रारंभ हो जाएगी। नामांकन की अंतिम तिथि 4 अक्टूबर है। इसके बाद 5 तारीख को छँटनी होगी, और 9 अक्टूबर तक प्रत्याशी अपना नाम वापिस ले सकते हैं। 16 अक्टूबर को सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक मतदान, और उसके बाद मतगणना कर 18 को परिणाम घोषित कर दिए जाएँगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अलवर में जहाँ कटती थी गाय उस मंडी को चलाता था वारिस, बना रखा था IPS का फर्जी कार्ड: रिपोर्ट में बताया- सप्लाई के...

मकानों को ध्वस्त किया गया है, बिजली के पोल गिरा कर ट्रांसफॉर्मर हटाए गए हैं और खेती भी नष्ट की गई है। खुद कलक्टर अर्पिता शुक्ला ने दौरा किया।

खनौरी बॉर्डर पर पुलिस वालों को घेरा, पराली में भारी मात्रा में मिर्च डाल कर लगा दी आग… किसानों ने लाठी-गँड़ासे किया हमला, जम...

किसानों द्वारा दाता सिंह-खनौरी बॉर्डर पर पुलिसकर्मियों को घेर कर पुलिस नाके के आसपास भारी मात्रा में मिर्च पाउडर डाल कर आग लगा दी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe