Sunday, April 18, 2021
Home राजनीति आखिर क्यों अपनी माँ का नाम बदलवाना चाहती हैं महबूबा मुफ्ती की बेटी ?

आखिर क्यों अपनी माँ का नाम बदलवाना चाहती हैं महबूबा मुफ्ती की बेटी ?

महबूबा मुफ्ती ने साल 1984 में जावेद इकबाल से शादी की थी, लेकिन यह शादी लंबे समय तक नहीं चली और 1987 में दोनों अलग हो गए। फिलहाल, दोनों साथ नहीं रहते हैं। महबूबा और जावेद की दो बेटियाँ हैं, जिनका नाम इर्तिका और इल्तिजा है।

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती की छोटी बेटी अपने पासपोर्ट में माँ का नाम बदलकर महबूबा सैयद कराना चाहती है। इस संबंध में महबूबा मुफ्ती की बेटी इर्तिका जावेद ने एक स्थानीय न्यूज पेपर में नोटिस भी प्रकाशित करवाया है।

इस नोटिस में लिखा गया है, “मैं इर्तिका जावेद, पुत्री जावेद इकबाल शाह, निवासी फेयरव्यू हाउस गुपकर रोड, श्रीनगर, कश्मीर-190001, अपने पासपोर्ट में अपनी माँ का नाम महबूबा मुफ्ती से बदलकर महबूबा सैयद कराना चाहती हूँ।”

नोटिस में आगे लिखा गया है, “अगर किसी को इससे संबंधित कोई आपत्ति है, तो कृपया सात दिनों की अवधि के भीतर संबंधित अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं। उसके बाद कोई आपत्ति दर्ज नहीं की जाएगी।”

बता दें कि महबूबा मुफ्ती ने साल 1984 में जावेद इकबाल से शादी की थी, लेकिन यह शादी लंबे समय तक नहीं चली और 1987 में दोनों अलग हो गए। फिलहाल, दोनों साथ नहीं रहते हैं। महबूबा और जावेद की दो बेटियाँ हैं, जिनका नाम इर्तिका और इल्तिजा है। 

महबूबा की बड़ी बेटी इल्तिजा अपनी माँ के नक्शेकदम पर चली और उसने अपने नाम के पीछे मुफ्ती लगाने का फैसला किया। इर्तिका अपने पिता के काफी करीब है और उसने पिता के सरनेम को चुना।

खैर राजनीति की बात करें तो इन दिनों महबूबा मुफ्ती अपने आधिकारिक आवास में नजरबंद हैं। पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती की नजरबंदी को सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत तीन महीने के लिए बढ़ा दिया गया। अब वे 5 नवंबर तक हिरासत में रहेंगी। उल्लेखनीय है कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही वे नजरबंदी में हैं। पिछले महीने पूर्व मंत्री और पीपुल्स काॉन्फ्रेंस प्रमुख सज्जाद गनी लोन को 360 दिनों बाद नजरबंदी से रिहा कर दिया गया।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधान खत्म करने के दिन 5 अगस्त 2019 को सरकार ने तमाम राजनेताओं को हिरासत में लिया था। इस दौरान पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, डॉ. फारूख अब्दुल्ला सहित कई अन्य राजनेता भी हिरासत में लिए गए थे। बीते दिनों उमर, फारूक समेत कई नेताओं को रिहा कर दिया गया था, लेकिन महबूबा व शाह फैसल अब भी हिरासत में ही हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र में रेप के कई आरोप… लेकिन कॉन्ग्रेसी अखबार के लिए UP में बेटियाँ असुरक्षित?

सच्चाई ये है कि कॉन्ग्रेस के लिए दुष्कर्म अपराध तभी तक है जब तक वह उत्तर प्रदेश या भाजपा शासित प्रदेश में हो।

जिसके लिए लॉजिकल इंडियन माँग चुका है माफी, द वायर के सिद्धार्थ वरदाराजन ने फैलाई वही फेक न्यूज: जानें क्या है मामला

अब इसी क्रम में सिद्धार्थ वरदाराजन ने फिर से फेक न्यूज फैलाई है। हालाँकि इसी फेक न्यूज के लिए एक दिन पहले ही द लॉजिकल इंडियन सार्वजनिक रूप से माफी माँग चुका है।

कोरोना संकट में कोविड सेंटर बने मंदिर, मस्जिद में नमाज के लिए जिद: महामारी से जंग जरूरी या मस्जिद में नमाज?

मरीजों की बढ़ती संख्या के चलते बीएमसी के प्रमुख अस्पतालों में बेड मिलना एक बड़ी चुनौती बन गई है। मृतकों का आँकड़ा भी डरा रहा है। इस बीच कई धार्मिक स्थल मदद को आगे आ रहे हैं और मुश्किल समय में इस बात पर जोर दे रहे हैं कि मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं होता।

‘Covid के लिए अल्लाह का शुक्रिया, महामारी ने मुसलमानों को डिटेन्शन कैंप से बचाया’: इंडियन एक्सप्रेस की पूर्व पत्रकार इरेना अकबर

इरेना अकबर ने अपने बयान कहा कि मैं इस तथ्य पर बात कर रही हूँ कि जब ‘फासीवादी’ अपने प्लान बना रहे थे तब अल्लाह ने अपना प्लान बना दिया।

PM मोदी की अपील पर कुंभ का विधिवत समापन, स्वामी अवधेशानंद ने की घोषणा, कहा- जनता की जीवन रक्षा हमारी पहली प्राथमिकता

पीएम मोदी ने आज ही स्वामी अवधेशानंद गिरी से बात करते हुए अनुरोध किया था कि कुंभ मेला कोविड-19 महामारी के मद्देनजर अब केवल प्रतीकात्मक होना चाहिए।

TMC ने माना ममता की लाशों की रैली वाला ऑडियो असली, अवैध कॉल रिकॉर्डिंग पर बीजेपी के खिलाफ कार्रवाई की माँग

टीएमसी नेता के साथ ममता की बातचीत को पार्टी ने स्वीकार किया है कि रिकॉर्डिंग असली है। इस मामले में टीएमसी ने पश्चिम बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखकर भाजपा पर गैरकानूनी तरीके से कॉल रिकॉर्ड करने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

‘वाइन की बोतल, पाजामा और मेरा शौहर सैफ’: करीना कपूर खान ने बताया बिस्तर पर उन्हें क्या-क्या चाहिए

करीना कपूर ने कहा है कि वे जब भी बिस्तर पर जाती हैं तो उन्हें 3 चीजें चाहिए होती हैं- पाजामा, वाइन की एक बोतल और शौहर सैफ अली खान।

सोशल मीडिया पर नागा साधुओं का मजाक उड़ाने पर फँसी सिमी ग्रेवाल, यूजर्स ने उनकी बिकनी फोटो शेयर कर दिया जवाब

सिमी ग्रेवाल नागा साधुओं की फोटो शेयर करने के बाद से यूजर्स के निशाने पर आ गई हैं। उन्होंने कुंभ मेले में स्नान करने गए नागा साधुओं का...

’47 लड़कियाँ लव जिहाद का शिकार सिर्फ मेरे क्षेत्र में’- पूर्व कॉन्ग्रेसी नेता और वर्तमान MLA ने कबूली केरल की दुर्दशा

केरल के पुंजर से विधायक पीसी जॉर्ज ने कहा कि अकेले उनके निर्वाचन क्षेत्र में 47 लड़कियाँ लव जिहाद का शिकार हुईं हैं।

ऑडियो- ‘लाशों पर राजनीति, CRPF को धमकी, डिटेंशन कैंप का डर’: ममता बनर्जी का एक और ‘खौफनाक’ चेहरा

कथित ऑडियो क्लिप में ममता बनर्जी को यह कहते सुना जा सकता है कि वो (भाजपा) एनपीआर लागू करने और डिटेन्शन कैंप बनाने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

रोजा-सहरी के नाम पर ‘पुलिसवाली’ ने ही आतंकियों को नहीं खोजने दिया, सुरक्षाबलों को धमकाया: लगा UAPA, गई नौकरी

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले की एक विशेष पुलिस अधिकारी को ‘आतंकवाद का महिमामंडन करने’ और सरकारी अधिकारियों को...

जहाँ इस्लाम का जन्म हुआ, उस सऊदी अरब में पढ़ाया जा रहा है रामायण-महाभारत

इस्लामिक राष्ट्र सऊदी अरब ने बदलते वैश्विक परिदृश्य के बीच खुद को उसमें ढालना शुरू कर दिया है। मुस्लिम देश ने शैक्षणिक क्षेत्र में...
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,230FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe