Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीति'जो मस्जिद शहीद कर रहे, उसी के हाथों बिक गए, 20 दिलवा दूँगा- इज्जत...

‘जो मस्जिद शहीद कर रहे, उसी के हाथों बिक गए, 20 दिलवा दूँगा- इज्जत बचा लो’: सपा सांसद ST हसन का ऑडियो वायरल

"तुम सपा के टिकट पर चुनाव लड़ो। क्या मुसलमानों ने तुम्हें इसलिए वोट दिया था कि तुम उस पार्टी को वोट दो, जो मुसलमानों की मस्जिदों को शहीद कर रही है, जो मुसलमानों की पहचान मिटाने पर तुली है देश में। तुम्हें नेता मैंने बनाया, समाजवादी पार्टी के टैग की वजह से तुम जीते हो और अब तुम बिक गए।"

उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष (Zila Panchayat Adhyaksh) की कुर्सी के लिए जोड़-तोड़ का खेल शुरू हो गया है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद डॉ. एस.टी. हसन और सपा के एक जिला पंचायत सदस्य डॉ. रिजवान की बातचीत का ऑडियो सामने आया है।

ऑडियो में सांसद हसन कह रहे हैं, “तुम सपा के टिकट पर चुनाव लड़ो। क्या मुसलमानों ने तुम्हें इसलिए वोट दिया था कि तुम उस पार्टी को वोट दो, जो मुसलमानों की मस्जिदों को शहीद कर रही है, जो मुसलमानों की पहचान मिटाने पर तुली है देश में। तुम्हें नेता मैंने बनाया, समाजवादी पार्टी के टैग की वजह से तुम जीते हो और अब तुम बिक गए।”

खबर के मुताबिक, 10 मिनट 34 सेकंड के इस ऑडियो में सांसद डॉ. एस.टी. हसन कह रहे हैं, “तुम मुझे बेवकूफ समझ रहे हो या तुम अधिक चालाक हो… अगर तुम बिक गए हो तो बताया क्यों नहीं कि मैं भी बिक गया। तुम साफ-साफ बताओ इरादा क्या है? तुमने मेरा नाम मिट्टी में मिला दिया। तुमने वह किया जो मेरा दुश्मन भी नहीं करता। तुमने मुझे धोखा दिया। तुमसे बड़ा एहसान फरामोश कौन होगा।”

वहीं, ऑडियो में जिला पंचायत सदस्य डॉ. रिजवान कह रहे हैं, “डॉक्टर साहब वो (सपा वाले) 10 दे रहे थे। अब उन्होंने बढ़ाकर 20 किया होगा।” इस पर सांसद कहते हैं, “तुम्हें क्या लगता है? भाजपा वाले 30-35 देंगे। वो 20 से ज्यादा बिलकुल नहीं देंगे, तो समाजवादी पार्टी के 20 क्या बुरे थे? जब सपा वाले तुम्हारे घर 20 लेकर पहुँचे थे, तब तो तुमने यह कह दिया कि डॉक्टर साहब (सांसद) को दे दो, मेरे मालिक वही हैं।”

ऑडियो में जिला पंचायत सदस्य को कहते सुना जा रहा है, “डॉक्टर साहब उन्होंने (भाजपा) मेरा लाइसेंस कैंसिल करा दिया था।” इस पर सांसद कहते हैं, “लाइसेंस तो बहाल हो जाता, सपा की सरकार आने पर, लेकिन तुम महज 10 महीने के लालच में फँस गए। तुम क्या समझते हो, समाजवादी पार्टी की सरकार आएगी तो तुम बहुत बड़ी मुसीबत में फँस जाओगे। तुम्हारे सारे लाइसेंस कैंसिल हो जाएँगे।”

वायरल ऑडियो को लेकर सांसद डॉ. एस.टी. हसन का कहना है कि यह बातचीत उन्हीं की है। उन्होंने कहा कि वह अपने जिला पंचायत सदस्य को समझाने के लिए फोन किया था। वह उन्हें समझा रहे थे कि पार्टी से जीते तो पार्टी का साथ दो। किसी लालच में मत आओ। भाजपा ने उन्हें किसी रिसॉर्ट में रखा है, लेकिन वो शायद किसी मोटे लालच में आ गए हैं।

सपा की ओर से भी सदस्यों को 20 लाख रुपए दिए जाने के सवाल पर सांसद ने कहा कि उन्होंने 20 लाख नहीं कहा। 20 की बात हुई है। वो 20 हजार भी तो हो सकता है।

गौरतलब है कि मुरादाबाद जिला पंचायत में कुल सदस्यों की संख्या 39 है, जिनमें बसपा के 12, सपा के 11, भाजपा के 10, आम आदमी पार्टी के 01 और निर्दलीय 05 सदस्य हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,696FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe