Monday, May 20, 2024
Homeराजनीतिकमलनाथ ध्यान से सुनो! हाँ, मैं कुत्ता हूँ क्योंकि जनता मेरा मालिक है: ज्योतिरादित्य...

कमलनाथ ध्यान से सुनो! हाँ, मैं कुत्ता हूँ क्योंकि जनता मेरा मालिक है: ज्योतिरादित्य सिंधिया

"कमलानाथ अशोकनगर आते हैं और मुझे कुत्ता कहकर नीचा दिखाने की कोशिश करते हैं।" ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जोर देकर कहा, “कमलनाथ, ध्यान से सुनो। हाँ, मैं कुत्ता हूँ क्योंकि जनता ही मेरा मालिक है, जिसकी मैं ईमानदारी से सेवा करता हूँ।"

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों के लिए 3 नवंबर को होने जा रहे उपचुनाव में नेताओं के बीच जुबानी जंग और तेज होती जा रही है और बयानों का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। वहीं शनिवार (अक्टूबर 31, 2020) को अशोकनगर जिले के शडोरा में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए, भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान को लेकर उन्हें जमकर लताड़ा।

कॉन्ग्रेस नेता की आलोचना करते हुए बीजेपी नेता सिंधिया कहते हैं, “कमलानाथ अशोकनगर आते हैं और मुझे कुत्ता कहकर नीचा दिखाने की कोशिश करते हैं।” ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जोर देकर कहा, “कमलनाथ, ध्यान से सुनो। हाँ, मैं कुत्ता हूँ क्योंकि जनता ही मेरा मालिक है, जिसकी मैं ईमानदारी से सेवा करता हूँ।”

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, “कमलनाथ जी ने मुझे कुत्ता कहा। हाँ, मैं कुत्ता हूँ क्योंकि मेरा मालिक मेरी जनता है और मैं उसकी सेवा करता हूँ। कमलनाथ जी मैं कुत्ता हूँ क्योंकि कुत्ता अपने मालिक और अपने दाता की रक्षा करता है। हाँ, कमलनाथ जी मैं कुत्ता हूँ क्योंकि अगर कोई भी व्यक्ति मेरे मालिक को ऊँगली दिखाए और मालिक के साथ भ्रष्टाचार और विनाशकारी नीति दिखाए तो कुत्ता काटेगा उसे। मुझे गर्व है कि मैं अपने जनता का कुत्ता हूँ।”

रैली के अलावा सिंधिया ने ट्विटर पर भी लिखा, “अशोक नगर मेरे दिल में बसता है, और यहाँ की जनता मेरा परिवार है। यहाँ की माटी से मेरा खून का संबंध है और मैं अपने जीवन के आखिरी सांस तक आप लोगों की सेवा करता रहूँगा।” उन्होंने अशोक नगर के शाडोरा के भाजपा प्रत्याशी श्री जजपाल जज्जी जी को वोट देने की अपील भी की।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं, जिनमें से 22 सीटें कॉन्ग्रेस के बागी विधायकों की थीं, जिन्होंने भाजपा को हराया था। भाजपा को विधानसभा में बहुमत हिस्सेदारी बनाए रखने के लिए सिर्फ 9 सीटों की आवश्यकता है। वहीं 28 में से 16 सीटें ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में आती हैं, जो ज्योतिरादित्य सिंधिया का गढ़ माना जाता है।

बता दें सिंधिया ने कॉन्ग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और इस साल मार्च में भाजपा में शामिल हुए थे। सिंधिया ने कॉन्ग्रेस से अलग होने पर कहा था कि कॉन्ग्रेस अब वह पार्टी नहीं रही जो वह हुआ करती थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -