Thursday, June 30, 2022
HomeराजनीतिRaGa इधर उद्योगपतियों को कोसते हैं, उधर अंबानी-कोटक युवा कॉन्ग्रेस नेता को सांसद बनाने...

RaGa इधर उद्योगपतियों को कोसते हैं, उधर अंबानी-कोटक युवा कॉन्ग्रेस नेता को सांसद बनाने के लिए लगाते हैं गुहार

मिलिंद देवड़ा 2004 में पहली बार लोकसभा के लिए चुने गए थे, जब उन्होंने भाजपा के जयवंतीबेन मेहता को 10,000 मतों के अंतर से हराया था। 2009 के चुनावों में, उन्होंने...

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमेन मुकेश अंबानी ने मुंबई दक्षिण लोकसभा सीट से कॉन्ग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा की उम्मीदवारी का समर्थन किया है। इस सीट पर 29 अप्रैल को चुनाव होना है। एशिया के सबसे अमीर बैंकर उदय कोटक ने भी देवड़ा को अपना समर्थन देने की घोषणा की है।

हाल ही में, देवड़ा ने अपने ट्वविटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया है। इसमें अंबानी कहते हैं, “मिलिंद दक्षिण मुंबई का आदमी है… 10 साल तक दक्षिण मुंबई का प्रतिनिधित्व करने के बाद, मेरा मानना ​​है कि मिलिंद को दक्षिण मुंबई के सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक पारिस्थितिकी तंत्र का गहन ज्ञान है। उनके नेतृत्व में, छोटे और बड़े उद्यम दक्षिण मुंबई में पनपेंगे।”

एक उम्मीदवार के समर्थन में उद्योगपतियों का खुलकर सामने आना सामान्य नहीं है। इसके अलावा, देवड़ा के लिए अंबानी का समर्थन ऐसे समय में आया है जब कॉन्ग्रेस राफ़ेल सौदे से कथित रूप से लाभ के लिए उनके भाई अनिल अंबानी को लगातार निशाना बना रही है।

मुकेश और अनिल अंबानी अलग-अलग हस्तियाँ हैं: देवड़ा

वीडियो में कोटक कहते हैं, “सही मायने में मुंबई का कनेक्शन देवड़ा है। मेरा मानना ​​है कि मिलिंद दक्षिण मुंबई को समझते हैं, उनका परिवार लंबे समय से मुंबई से जुड़ा हुआ है, उनका परिवार (एक) नई दिल्ली में व्यापार और उद्योग का समर्थक है।” वीडियो में अन्य उद्यमी, व्यापारी और सामान्य नागरिक भी देवड़ा को समर्थन देते दिखाई दे रहे हैं, जिन्हें हाल ही में कॉन्ग्रेस की मुंबई शहर इकाई अध्यक्ष नियुक्त किया गया था।

जहाँ एक तरफ मुकेश अंबानी देवड़ा का समर्थन कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ राहुल गाँधी उनके भाई अनिल अंबानी पर हमलावर रुख़ अपनाते रहे हैं। इस स्थिति को लेकर जब देवड़ा से प्रश्न पूछा गया, तो उन्होंने TOI से कहा, “मुकेश और अनिल अलग-अलग हस्तियाँ हैं, दोनों की एक-दूसरे से तुलना करना अनुचित होगा।” उन्होंने एक टीवी चैनल से कहा कि उन्हें इस बात पर भी समान रूप से ही गर्व है कि उन्हें छोटे व्यापारियों और पानवालों का भी समर्थन मिल रहा है।

दिवंगत कॉन्ग्रेस नेता मुरली देवड़ा के पुत्र, मिलिंद को शिवसेना सांसद अरविंद सावंत के ख़िलाफ़ खड़ा किया गया है, जिन्होंने 2014 में उन्हें 1.28 लाख वोटों के अंतर से हराया था। मिलिंद देवड़ा 2004 में पहली बार लोकसभा के लिए चुने गए थे, जब उन्होंने भाजपा के जयवंतीबेन मेहता को 10,000 मतों के अंतर से हराया था। 2009 के चुनावों में, उन्होंने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के बाला नंदगांवकर को 1.12 लाख मतों के अंतर से हराया था।

देवड़ा को इस समय पूरे दक्षिण मुंबई में व्यापारी वर्ग की तरफ से समर्थन मिल रहा है। स्टेनलेस स्टील मर्चेंट एसोसिएशन, बुलियन, रत्न और ज्वेलरी एसोसिएशन ऑफ ज़ावेरी बाज़ार, डायमंड मर्चेंट्स फेडरेशन और अन्य प्रमुख व्यापारिक समूहों ने उन्हें अपना समर्थन दिया है। भारत डायमंड बोर्स में हाल ही में आयोजित एक कार्यक्रम में, भरत शाह ने देवड़ा की प्रशंसा करते हुए कहा कि मुंबई को उनके जैसे नेता की ज़रूरत थी जो चौबीसों घंटे सुलभ रहें।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कन्हैया लाल के परिजनों के लिए हिन्दुओं ने इकट्ठा किया ₹1 करोड़ का चंदा: BJP ने किया राजस्थान बंद का ऐलान, CM गहलोत की...

कन्हैया लाल की हत्या के बाद भाजपा ने सर्वदलीय बैठक में भाग नहीं लिया और कल राजस्थान बंद का आह्वान किया है। वहीं, कपिल ने चंदा इकट्ठा किया है।

महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे का इस्तीफा: सोनिया गाँधी और शरद पवार को दिया धन्यवाद, कहा – मुझे फ्लोर टेस्ट नहीं खेलना

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सदन में फ्लोर टेस्ट से पहले ही इस्तीफा दे दिया है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उन्होंने इस्तीफे का ऐलान किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
200,786FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe