Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिमुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास और उमर भी अपराधी घोषित, सरकारी जमीन कब्जा कर...

मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास और उमर भी अपराधी घोषित, सरकारी जमीन कब्जा कर बनवाई थी मस्जिद

फर्जी दस्तावेज बनाकर मुख्तार के बेटों (अब्बास और उमर) ने सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण कराया। इस जमीन पर इन्होंने दो टावर का निर्माण करवाया था और एक मस्जिद भी बना ली थी।

उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देशों के बाद माफिया मुख्तार अंसारी की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। खबर है कि यूपी पुलिस ने अंसारी की संपत्ति पर ताबड़तोड़ कार्रवाई करने के बाद उसके दोनों बेटों अब्बास और उमर को अपराधी करार देते हुए उन पर 25-25 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया है।

इससे पहले पिछले साल भी लखनऊ पुलिस ने अब्बास अंसारी के घर पर छापेमारी की थी। उस समय उसके घर से 6 बंदूक और 4,431 कारतूस बरामद हुए थे। हालाँकि, ताजा कार्रवाई लखनऊ पुलिस ने मुख्तार और उसके बेटों पर डालीबाग में सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण कराने के मुकदमे में की है। इसके संबंध में जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल ने शिकायत दर्ज कराई थी

अपनी शिकायत में सुरजन लाल ने आरोप लगाया था कि जिस जमीन पर मुख्तार के बेटों ने टावर बनवाए थे, वह मोहम्मद वसीम की थी। वसीम 1952 में पाकिस्तान चले गए तो संपत्ति निष्क्रांत के रूप में दर्ज हो गई। उक्त जमीन के फर्जी दस्तावेज बनाकर मुख्तार के बेटों ने वहाँ कब्जा करके दो टावर का निर्माण करवा लिया और जमीन पर एक मस्जिद भी बना ली।

पुलिस कमिश्नर की ओर से जारी आदेश के मुताबिक मुख़्तार अंसारी के बेटों उमर और अब्बास पर 25-25 हज़ार रुपए का इनाम घोषित किया गया है। दोनों के खिलाफ कुछ दिन पहले अवैध कब्जे के मामले में एफआईआर हुई थी। लखनऊ में उनके अवैध कब्जे वाली दो इमारतों को ढहा भी दिया गया था।

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से यूपी प्रशासन लगातार मुख्तार अंसारी के रसूख को खत्म करने के लिए उसकी संपत्ति और उसके करीबियों की संपत्तियों पर कार्रवाई कर रहा है। 27 अगस्त से लेकर 9 अगस्त यानी मात्र 12 दिनों में मुख्तार अंसारी पर 4 बड़ी कार्रवाई कर चुकी है।

सबसे पहले प्रशासन ने 27 अगस्त को माफिया मुख्तार अंसारी की डालीबाग कॉलोनी में स्थित अवैध संपत्ति को ध्वस्त किया और ऐलान किया कि इमारत ध्वस्त करने में जो खर्चा आया है वह भी मुख्तार अंसारी से वसूला जाएगा। इसके बाद 28 अगस्त को मऊ में उसके करीबी रईस कुरैशी के बूचड़खाने पर प्रशासन ने कार्रवाई की और बुलडोजर चला कर उसे गिरा दिया। खबरों में इस बूचड़खाने की कीमत 40 लाख बताई गई।

फिर 3 सितंबर को मऊ में ही प्रशासन ने अंसारी के वसूली गैंग के गुर्गे सुरेश सिंह की अवैध रूप से कमाई संपत्ति पर शिकंजा कसा और उसकी 1 करोड़ 5 लाख 40 हजार मूल्य की संपत्ति जब्त की गई। इसमें कई वाहन शामिल थे। 9 सितंबर की खबर के मुताबिक ताबड़तोड़ कार्रवाई के चलते उसे 25 वाहन सीज किए जा चुके थे। सभी वाहनों की कीमत 4. 29 करोड़ थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इधर आतंकी गोली मार रहे, उधर कश्मीरी ईंट-भट्टा मालिक मजदूरों के पैसे खा रहे: टारगेट किलिंग के बाद गैर-मुस्लिम बेबस

कश्मीर घाटी में गैर-कश्मीरियों को टारगेट कर हत्या करने के बाद दूसरे प्रदेशों से आए श्रमिक अब वापस लौटने को मजबूर हो रहे हैं।

कश्मीर को बना दिया विवादित क्षेत्र, सुपरमैन और वंडर वुमेन ने सैन्य शस्त्र तोड़े: एनिमेटेड मूवी ‘इनजस्टिस’ में भारत विरोधी प्रोपेगेंडा

सोशल मीडिया यूजर्स इस क्लिप को शेयर कर रहे हैं और बता रहे हैं कि कैसे कश्मीर का चित्रण डीसी की इस एनिमेटिड मूवी में हुआ है और कैसे उन्होंने भारत को बुरा दिखाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,884FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe