Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिपूरे चुनाव में न सोनिया, न ही प्रियंका दिखीं, राहुल मुंबई तक ही सीमित,...

पूरे चुनाव में न सोनिया, न ही प्रियंका दिखीं, राहुल मुंबई तक ही सीमित, हम हारते हैं तो कॉन्ग्रेस जिम्मेदार: NCP

“पूरे चुनाव में न तो कॉन्ग्रेस दिखी, सोनिया गाँधी और न ही प्रियंका गाँधी। राहुल गाँधी ने मुंबई में ही कुछ रैली की। उनके नेता ही उनकी रैली से नदारद थे। अगर हम हारते हैं तो कॉन्ग्रेस के नेताओं के बीच की अंतर्कलह इसकी जिम्मेदार होगी।”

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के परिणामों के ऐलान से पहले ही विपक्ष में हाहाकार मचना शुरू हो गया है। राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (NCP) के नेता माजिद मेमन ने एग्जिट पोल पर सवाल उठाए और साथ ही कॉन्ग्रेस पर हार का ठीकरा भी फोड़ा है। माजिद मेमन ने कहा, “पूरे चुनाव में न तो कॉन्ग्रेस दिखी, सोनिया गाँधी और न ही प्रियंका गाँधी। राहुल गाँधी ने मुंबई में ही कुछ रैली की। उनके नेता ही उनकी रैली से नदारद थे। अगर हम हारते हैं तो कॉन्ग्रेस के नेताओं के बीच की अंतर्कलह इसकी जिम्मेदार होगी।”

मेमन ने कहा कि यदि महाराष्ट्र में गठबंधन हारा तो इसके लिए कॉन्ग्रेस अधिक जिम्मेदार होगी। हालाँकि उन्होंने कहा कि शिकस्त के लिए एनसीपी भी जिम्मेदार होगी। NCP के नेता माजिद मेमन ने कहा कि शरद पवार को काफी अच्छा रिस्पांस मिला है, वहीं उन्होंने अपनी गठबंधन की सहयोगी पार्टी कॉन्ग्रेस को लेकर कहा है कि कॉन्ग्रेस की तरफ से कुछ नर्मी दिखाई दी। कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी ने मुंबई में ही कुछ दौरे किए। कॉन्ग्रेस के नेताओं ने कुछ विशेष मेहनत नहीं की। उन्होंने कहा, “यदि हमें सफलता नहीं मिलती है तो कॉन्ग्रेस जिम्मेदार होगी।”

माजिद मेमन का कहना है कि पूरे प्रचार में सिर्फ शरद पवार ने अकेले मेहनत की है। NCP नेता ने कहा, “हम मानते हैं कि जनता ने हमें सरकार बनाने का आदेश नहीं दिया है। कॉन्ग्रेस के साथ गठबंधन करना हमारी मजबूरी थी। अकेले चुनाव लड़ना संभव नहीं था। इस चुनाव में पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, सीएम फडणवीस और उद्धव ठाकरे ने काफी मेहनत की है।” साथ ही उन्होंने कहा कि हकीकत तो ये है कि जब आँकड़े आएँगे तो तस्वीर साफ होगी। 24 तक प्रतीक्षा करनी होगी। ईडी को अपने अधिकारों का दुरुपयोग नहीं करना चाहिए।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में सोमवार (अक्टूबर 21, 2019) को 288 सीटों पर हुई वोटिंग हुई। चुनाव परिणाम 24 अक्टूबर को आने वाला है। वोटिंग के बाद आए अधिकत एग्जिट पेल में बीजेपी की फिर से वापसी की उम्मीद जताई जा रही है। मीडिया हाउस द्वारा बीजेपी-शिवसेना को 166 से 194 सीटें जीतने की संभावना जता रही है, जिसमें से अकेले बीजेपी के खाते में 109 से 124 सीटें आ सकती है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe