Friday, October 22, 2021
Homeबड़ी ख़बरएनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, जाँच जारी

एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, जाँच जारी

दिल्ली पुलिस के संयुक्त कमिश्नर देवेश श्रीवास्तव के मुताबिक मंगलवार को दिन में रोहित की नाक से अचानक खून बहने लगा। उनकी माँ उज्ज्वला पहले ही अपनी मेडिकल जाँच के लिए किसी अस्पताल में भर्ती थीं, और रोहित घर पर अकेले थे।

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। दक्षिण दिल्ली के DCP विजय कुमार ने स्टेटमेंट जारी कर मृत्यु की पुष्टि की। उनके कथन के मुताबिक रोहित को मृत अवस्था में ही साकेत के मैक्स अस्पताल में लाया गया था। मौत के कारणों की जाँच चल रही है, पर अभी तक कोई तस्वीर साफ़ नहीं हो पाई है।

नाक से बहने लगा यकायक खून, माँ पहले ही थीं अस्पताल में भर्ती

दिल्ली पुलिस के संयुक्त कमिश्नर देवेश श्रीवास्तव के मुताबिक मंगलवार को दिन में रोहित की नाक से अचानक खून बहने लगा। उनकी माँ उज्ज्वला पहले ही अपनी मेडिकल जाँच के लिए किसी अस्पताल में भर्ती थीं, और रोहित घर पर अकेले थे। उन्हें एम्बुलेंस से आनन-फानन में मैक्स अस्पताल पहुँचाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। रोहित दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी क्षेत्र के निवासी थे।

पितृत्व की लम्बी लड़ाई, पिछले वर्ष पिता की मृत्यु  

रोहित शेखर ने लम्बी कानूनी लड़ाई के बाद अपने पिता एनडी तिवारी के नाम का हक़ जीता था। एक लम्बी कानूनी लड़ाई के बाद 2014 में जाकर तिवारी ने उन्हें अपने जैविक पुत्र के रूप में स्वीकार किया था। 2014 में ही उन्होंने रोहित की माँ उज्ज्वला से विवाह भी किया था। 18 दिसंबर, 2018 को लम्बी बीमारी के बाद 93 वर्ष की आयु में एनडी तिवारी की मृत्यु हो गई थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंक पर योगी सरकार लगाएगी नकेल: जम्मू-कश्मीर में बंद 26 आतंकियों को भेजा जा रहा यूपी, स्लीपर सेल के जरिए फैला रहे थे आतंकवाद

कश्मीर घाटी की अलग-अलग सेंट्रल जेलों में बंद 26 आतंकियों का पहला ग्रुप उत्तर प्रदेश की आगरा सेंट्रल जेल के लिए रवाना कर दिया गया।

‘बधाई देना भी हराम’: सारा ने अमित शाह को किया बर्थडे विश, आरफा सहित लिबरलों को लगी आग, पटौदी की पोती को बताया ‘डरपोक’

सारा ने गृहमंत्री को बधाई दी लेकिन नाराज हो गईं आरफा खानुम शेरवानी। उन्होंने सारा को डरपोक कहा और पारिवारिक बैकग्राउंड पर कमेंट किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe