Saturday, May 15, 2021
Home राजनीति हर क्लास के लिए अलग-अलग TV चैनल, महामारी से लड़ने को तैयार होगा हर...

हर क्लास के लिए अलग-अलग TV चैनल, महामारी से लड़ने को तैयार होगा हर अस्पताल: निर्मला सीतारमण

वर्ग एक से 12वीं तक हर कक्षा के लिए अलग टीवी चैनल का संचालन किया जाएगा। टॉप-100 यूनिवर्सिटी को ऑनलाइन क्लास आयोजित करने के लिए ऑटोमेटिक अनुमति दी जाएगी। विकलांग छात्रों के लिए भी शिक्षा प्लेटफॉर्म की व्यवस्था करने की बात कही गई है।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ‘आत्मनिर्भर भारत’ की दिशा में बड़े आर्थिक सुधर की घोषणा करते हुए आज लगातार पाँचवीं प्रेस कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित किया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान का जिक्र किया, जिसमें उन्होंने आपदा को अवसर में बदलने की ज़रूरत पर बल दिया था। वित्त मंत्री ने बताया कि इस आर्थिक पैकेज में लैंड, लेबर, लॉ और लिक्विडिटी पर बल दिया गया है। उन्होंने प्रधानमंत्री ग़रीब कल्याण योजना के तहत डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर का जिक्र किया।

मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि पिछले कुछ दिनों में सरकार इस चुनौतीपूर्ण समय में योजनाबद्ध तरीके से काम कर रही है। उन्होंने बताया कि 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज में किसान से लेकर मजदूरों और महिलाओं से लेकर उद्यमियों और युवाओं का भी ध्यान रखा गया है। स्वास्थ्य योजनाओं पर ख़ास ध्यान दिया गया है। उन्होंने बताया कि पूरे देश की राज्य सरकारों के माध्यम से 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में चावल, गेहूँ और दाल देने के लिए योजना बनाई गई।

साथ ही 6.81 करोड़ मुफ्त रसोई गैस के सिलिंडर की व्यवस्था की गई। बताया गया कि 8.19 करोड़ किसानों के खतों में पीएम किसान योजना के तहत रुपए ट्रांसफर किए गए। यानी कुल 16,394 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए गए। प्रधानमंत्री जन-धन के खातों में कुल 10,000 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए गए। उन्होंने बताया कि प्रवासी मजदूरों को उनके घर भेजने के लिए गाड़ियाँ उपलब्ध कराई जा रही हैं। मजदूरों को घर भेजने तक हुए ख़र्चों में से 85% रेल किराया केंद्र सरकार ने दिया है।

केंद्रीय वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार ने अब तक कोई कमी नहीं रखी है और संकट की घड़ी में किसी को कोई मुश्किल न आए, इसके लिए क़दम उठाया। 2.2 करोड़ निर्माण मजदूरों के खातों में भी रुपए भेजे गए। स्वास्थ्य क्षेत्र में अब तक 15,000 करोड़ रुपए जारी किए जा चुके हैं। अब तक 4000 करोड़ रुपए राज्यों को दे दिया जा चुका है। टेस्टिंग लैब्स और किट्स के लिए भी फंड जारी किए गए। कोविड-19 वारियर्स के स्वास्थ्य बीमा की व्यवस्था की गई।

वित्त मंत्री ने बताया कि यूपीआई भीम की तरह आरोग्य सेतु काफ़ी सफल रहा है और कोरोना से लड़ने में इसका अहम रोल है। साथ ही डॉक्टरों और पैरामेडिकल कर्मचारियों पर होने वाले हमलों को लेकर सख्त क़ानून बनाया गया। उन्होंने जानकारी दी कि आज भारत में रोज 3 लाख पीपीई किट्स तैयार की जा रही है। आज जिन 7 क्षेत्रों में सुधार की घोषणा की गई, वो हैं- मनरेगा, स्वास्थ्य, व्यापार, कम्पनीज एक्ट को डीक्रिमिनलाइज करना, इज ऑफ डूइंग बिजनेस, पब्लिक सेंटर एंटरप्राइजेज, राज्य सरकारों से सम्बंधित संसाधन।

वित्त मंत्रालय की 5वीं प्रेस कॉन्फ्रेंस

आत्मनिर्भर भारत‘ में शिक्षा के क्षेत्र में भी ‘स्वयंप्रभा’ चैनल और दीक्षा ऐप के माध्यम से व्यवस्था की जा रही है। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने जानकारी दी कि प्रवासी मजदूरों को अनाज देने और उनकी यात्रा के लिए सरकार ने ख़र्च किए, अब उनके लिए 40,000 करोड़ रुपए का अतिरिक्त प्रावधान सरकार ने किया है। घर लौटने वाले मजदूरों को काम की कमी न हो, इसीलिए ये व्यवस्था की गई है। उन्हें मनरेगा के तहत काम दिया जाएगा।

घोषणा की गई कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में जमीनी स्तर पर एक आधारभूत ढाँचा तैयार किया जाएगी, जो महामारी की स्थिति में भी लोगों की मदद करे। साथ ही सभी जिला स्तर के अस्पतालों में संक्रमित रोगों का इलाज हो, ऐसी व्यवस्था की जाएगी ताकि आगे किसी महामारी से लड़ने की व्यवस्था हो। निरमा सीतारमण ने शोध को वृद्धि देने के लिए स्वास्थ्य क्षेत्र में व्यवस्था करने की बात कही।

पीएम ई-विद्या के तहत ‘वन नेशन, वन नेशनल प्लेटफॉर्म’ की व्यवस्था की गई है। वर्ग एक से 12वीं तक हर कक्षा के लिए अलग टीवी चैनल का संचालन किया जाएगा। टॉप-100 यूनिवर्सिटी को ऑनलाइन क्लास आयोजित करने के लिए ऑटोमेटिक अनुमति दी जाएगी। विकलांग छात्रों के लिए भी शिक्षा प्लेटफॉर्म की व्यवस्था करने की बात कही गई है। वित्त मंत्रालय ने बताया कि ये सब टेक्नोलॉजी ड्रिवेन शिक्षा प्रोग्राम के तहत किया जा रहा है।

‘आत्मनिर्भर भारत’ में माध्यम और लघु परियोजनाओं पर भी जोर दिया जाएगा। उन्हें दिवालिया होने से बचाया जाएगा। इन सबके अलावा ‘इज ऑफ डूइंग बिजनेस’ के लिए नई कॉर्पोरेट पॉलिसी की भी कुछ ही दिनों में रूपरेखा तैयार की जाएगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1971 में भारतीय नौसेना, 2021 में इजरायली सेना: ट्रिक वही-नतीजे भी वैसे, हमास ने ‘Metro’ में खुद भेज दिए शिकार

इजरायल ने एक ऐसी रणनीतिक युद्धकला का प्रदर्शन किया है, जिसने 1971 में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए युद्ध की ताजा कर दी है।

20 साल से जर्जर था अंग्रेजों के जमाने का अस्पताल: RSS स्वयंसेवकों ने 200 बेड वाले COVID सेंटर में बदला

कभी एशिया के सबसे बड़े अस्पतालों में था BGML। लेकिन बीते दो दशक से बदहाली में था। आरएसएस की मदद से इसे नया जीवन दिया गया है।

₹995 में Sputnik V, पहली डोज रेड्डीज लैब वाले दीपक सपरा को: जानिए, भारत में कोरोना के कौन से 8 टीके

जानिए, भारत को किन 8 कोरोना वैक्सीन से उम्मीद है। वे अभी किस स्टेज में हैं और कहाँ बन रही हैं।

3500 गाँव-40000 हिंदू पीड़ित, तालाबों में डाले जहर, अब हो रही जबरन वसूली: बंगाल हिंसा पर VHP का चौंकाने वाला दावा

वीएचपी ने कहा है कि ज्यादातार पीड़ित SC/ST हैं। कई जगहों पर हिंदुओं से आधार, वोटर और राशन कार्ड समेत कई दस्तावेज छीन लिए गए हैं।

दिल्ली: केजरीवाल सरकार ने फ्री वैक्सीनेशन के लिए दिए ₹50 करोड़, पर महज तीन महीने में विज्ञापनों पर खर्च कर डाले ₹150 करोड़

दिल्ली में कोरोना के फ्री वैक्सीनेशन के लिए केजरीवाल सरकार ने दिए 50 करोड़ रुपए, पर प्रचार पर खर्च किए 150 करोड़ रुपए

महाराष्ट्र: 1814 अस्पतालों का ऑडिट, हर जगह ऑक्सीजन सेफ्टी भगवान भरोसे, ट्रांसफॉर्मर के पास स्टोर किए जा रहे सिलेंडर

नासिक के अस्पताल में हादसे के बाद महाराष्ट्र के अस्पतालों में ऑडिट के निर्देश तो दे दिए गए, लेकिन लगता नहीं कि इससे अस्पतालों ने कुछ सीखा है।

प्रचलित ख़बरें

हिरोइन है, फलस्तीन के समर्थन में नारे लगा रही थीं… इजरायली पुलिस ने टाँग में मारी गोली

इजरायल और फलस्तीन के बीच चल रहे संघर्ष में एक हिरोइन जख्मी हो गईं। उनका नाम है मैसा अब्द इलाहदी।

दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर के बदले पड़ोसी ने रखी सेक्स की डिमांड, केरल पुलिस से सेक्स के लिए ई-पास की डिमांड

दिल्ली में पड़ोसी ने ऑक्सीजन सिलेंडर के बदले एक लड़की से साथ सोने को कहा। केरल में सेक्स के लिए ई-पास की माँग की।

1971 में भारतीय नौसेना, 2021 में इजरायली सेना: ट्रिक वही-नतीजे भी वैसे, हमास ने ‘Metro’ में खुद भेज दिए शिकार

इजरायल ने एक ऐसी रणनीतिक युद्धकला का प्रदर्शन किया है, जिसने 1971 में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए युद्ध की ताजा कर दी है।

गाजा पर गिराए 1000 बम, 160 विमानों ने 150 टारगेट पर दागे 450 मिसाइल: बोले नेतन्याहू- हमास को बहुत भारी कीमत चुकानी पड़ेगी

फलस्तीन के साथ हवाई संघर्ष के बीच इजरायल जमीनी लड़ाई की भी तैयारी कर रहा है। हथियारबंद टुकड़ियों के साथ 9000 रिजर्व सैनिकों की तैनाती।

जेल के अंदर मुख्तार अंसारी के 2 गुर्गों मेराज और मुकीम की हत्या, UP पुलिस ने एनकाउंटर में मारा गैंगस्टर अंशू को भी

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जेल में कैदियों के बीच गैंगवार की खबर। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस फायरिंग में जेल के अंदर दो बदमाशों की...

‘क्या प्रजातंत्र में वोट की सजा मौत है’: असम में बंगाल के गवर्नर को देख फूट-फूट रोए पीड़ित, पाँव से लिपट महिलाओं ने सुनाई...

बंगाल के गवर्नर हिंसा पीड़ितों का हाल जानने में जुटे हैं। इसी क्रम में उन्होंने असम के राहत शिविरों का दौरा किया।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,349FansLike
94,031FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe