Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीतिसंसद की आचार समिति ने बुलाया तो महुआ मोइत्रा ने रख दी कई डिमांड,...

संसद की आचार समिति ने बुलाया तो महुआ मोइत्रा ने रख दी कई डिमांड, बोले निशिकांत दुबे- दुबई दीदी… अखाड़ा की तैयारी है

आचार समिति ने महुआ मोइत्रा को 31 अक्टूबर को पेश होने को कहा था। लेकिन टीएमसी सांसद ने कथित व्यस्तताओं का हवाला दे पेश होने में असमर्थता जताई है। उन उपहारों की सूची उपलब्ध कराने को कहा है जो हीरानंदानी ने उन्हें देने की बात कही है।

पैसे लेकर लोकसभा में सवाल पूछने की आरोपित तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) की सांसद महुआ मोइत्रा ने संसद की आचार समिति (Ethics Committee) से पेश होने के लिए और समय माँगा है। इतना ही नहीं कारोबारी दर्शन हीरानंदानी से जिरह की अनुमति माँगी है। कहा है उनसे आमना-सामना कराया जाना, मेरा अधिकार है। मैं उनसे कुछ जरूरी सवाल पूछूँगी।

हीरानंदानी ने अपने हलफनामे में माना है कि महुआ मोइत्रा उनसे दुबई में आकर मिलती थीं। उन्हें ब्लैकमेल करती थीं। उनका गलत फायदा उठाती थीं। गिफ्ट और पैसा देने की बात भी कही थी। इसको लेकर टीएमसी सांसद का कहना था कि पीएमओ ने हीरानंदानी से जबरन यह हलफनामा दिलवाया है।

इस संबंध में बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा अध्यक्ष से शिकायत की थी। इसके बाद मामला आचरण समिति को भेज दिया गया था। इस पर 26 अक्टूबर 2023 को सुनवाई करते हुए आचार समिति ने महुआ मोइत्रा को 31 अक्टूबर को पेश होने को कहा था। लेकिन अब टीएमसी सांसद ने कथित व्यस्तताओं का हवाला दे 31 अक्टूबर को पेश होने में असमर्थता जताई है। साथ ही उन उपहारों की सूची उपलब्ध कराने को कहा है जो हीरानंदानी ने उन्हें देने की बात कही है।

महुआ मोइत्रा के इस जवाब पर तंज कसते हुए बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने एक्स/ट्विटर पर पोस्ट कर कहा है, “दुबई दीदी ने कुछ लोगों के क्रॉस एक्जामिनेशन के लिए कहा है। लोकसभा के नियमों ख़ासकर कौल-शकधर किताब के पेज 246 के तहत गवाह कोर्ट, कचहरी, हल्ला गुल्ला से सुरक्षित हैं। खाता ना बही, दुबई दीदी जो कहे वही सही। जबाब राष्ट्रीय सुरक्षा व भ्रष्टाचार का चाहिए, यहाँ तो अखाड़ा की तैयारी है।”

आचार समिति के अध्यक्ष विनोद सोनकर को भेजे जवाब में महुआ मोइत्रा टीएमसी सांसद मोइत्रा ने कहा है कि वे 5 नवंबर के बाद ही कमेटी के सामने पेश हो पाएँगी। टीएमसी सांसद का कहना है कि वह 4 नवंबर तक कार्यक्रमों में बिजी है। इसलिए उन्‍हें पेश होने के लिए 5 नवंबर के बाद की तारीख दी जाए।

महुआ मोइत्रा ने लिखा है, “मैं पश्चिम बंगाल राज्य का प्रतिनिधित्व करती हूँ, जहाँ दुर्गा पूजा सबसे बड़ा त्योहार है। मैं पहले से ही 30 अक्टूबर से 4 नवंबर 2023 तक अपने निर्वाचन क्षेत्र में कई पूर्व-निर्धारित विजयादशमी सम्मेलनों/बैठकों (सरकारी और राजनीतिक दोनों) में भाग लेने के लिए प्रतिबद्ध हूँ और मैं 31 अक्टूबर 2023 को दिल्ली में नहीं हो सकती।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

‘लैंड जिहाद और लव जिहाद को बढ़ावा दे रही हेमंत सोरेन की सरकार’: झारखंड में गरजे अमित शाह, कहा – बिगड़ रहा जनसंख्या का...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर 'भूमि जिहाद', 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उन पर तीखा हमला किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -