Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीतिमहुआ मोइत्रा की बढ़ी मुश्किलें, लोकसभा की आचार समिति ने 31 अक्टूबर को पेश...

महुआ मोइत्रा की बढ़ी मुश्किलें, लोकसभा की आचार समिति ने 31 अक्टूबर को पेश होने को कहा

दर्शन हीरानंदानी दुबई में बैठकर संसद में पूछे जाने वाले सवाल लिखते थे और उसे महुआ पूछती थीं। आचार समिति के अध्यक्ष एवं भाजपा सांसद विनोद सोनकर ने कहा है कि आज दो लोगों को समिति के सामने बुलाया गया था। अब यह निर्णय लिया गया है कि 31 अक्टूबर 2023 को महुआ मोइत्रा को बुलाया जाए।

लोकसभा की आचार समिति ने तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) की सांसद महुआ मोइत्रा (Mahua Moitra) को 31 अक्टूबर 2023 को पेश होने के लिए कहा है। महुआ पर पैसे और महंगे गिफ्ट लेकर संसद में प्रश्न पूछने के आरोप हैं। इस सम्बन्ध में भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा अध्यक्ष को शिकायत भेजी थी।

लोकसभा की आचार समिति ने मौखिक साक्ष्य के लिए 26 अक्टूबर 2023 को सांसद निशिकांत दुबे और सुप्रीम कोर्ट के वकील जय अनंत देहाद्राई को बुलाया था। निशिकांत दुबे ने देहाद्राई के पत्र के आधार पर ही लोकसभा अध्यक्ष से शिकायत की थी। उन्होंने महुआ को संसद से निलम्बित करने की माँग करते हुए एक जाँच समिति गठित करने की माँग की थी।

महुआ मोइत्रा पर आरोप है कि उन्होंने उद्योगपति दर्शन हीरानंदानी से पैसे और महंगे गिफ्ट लेकर अडानी समूह के विरुद्ध संसद में प्रश्न पूछे थे। इतना ही नहीं, महुआ ने अपने संसद पोर्टल का लॉगिन दर्शन हीरानंदानी को दे दिया था। यह मामला तब सामने आया, जब महुआ के पूर्व पार्टनर देहाद्राई ने कु्त्ता हेनरी को लेकर विवाद बढ़ने पर महुआ के खिलाफ सीबीआई को पत्र लिखा था।

महुआ को लेकर भाजपा सांसद निशिकांत दुबे का कहना था कि टीएमसी सांसद ने हाल में संसद में 61 प्रश्न पूछे थे, जिनमें से लगभग 50 अडानी समूह से जुड़े हुए हैं। दर्शन हीरानंदानी ने भी एक पत्र लिखकर यह खुलासा किया था कि महुआ ने उनसे लम्बे खर्चे करवाए। वहीं, देहाद्राई का कहना है कि महुआ ने उनका कुत्ता ‘हेनरी’ चोरी कर लिया है।

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि इस मामले में संसद की वेबसाइट को ऑपरेट करने वाले नेशनल इन्फोर्मेशन सेंटर (NIC) ने भी अपनी जाँच पूरी कर ली है और उसने दुबई से 100 से अधिक बार लॉगइन पाया है। लॉगइन का समय भी महुआ द्वारा सदन में अडानी के संबंध में पूछे गए प्रश्नों से मेल खाता है।

दर्शन हीरानंदानी दुबई में बैठकर संसद में पूछे जाने वाले सवाल लिखते थे और उसे महुआ पूछती थीं। आचार समिति के अध्यक्ष एवं भाजपा सांसद विनोद सोनकर ने कहा है कि आज दो लोगों को समिति के सामने बुलाया गया था। अब यह निर्णय लिया गया है कि 31 अक्टूबर 2023 को महुआ मोइत्रा को बुलाया जाए।

समिति ने यह भी निर्णय लिया है कि वह गृह मंत्रालय और आईटी मंत्रालय से भी इस विषय में जानकारी माँगी जाएगी। वहीं, सांसद निशिकांत दूबे और एडवोकेट देहाद्राई ने कहा कि समिति ने उनसे जो भी सवाल किए, उसका उन्होंने जवाब दिया है। इसके साथ ही आगे भी जानकारी साझा करने की बात कही। वहीं, सांसद दूबे ने कहा कि असली सवाल यह है कि महुआ चोर हैं या नहीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शुक्र है मीलॉर्ड ने भी माना कि वो इंसान हैं! चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने को मद्रास हाई कोर्ट ने नहीं माना था अपराध, अब बदला...

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध नहीं बताने वाले फैसले को मद्रास हाई कोर्ट के जज एम. नागप्रसन्ना ने वापस लिया और कहा कि जज भी मानव होते हैं।

आरक्षण के खिलाफ बांग्लादेश में धधकी आग में 115 की मौत, प्रदर्शनकारियों को देखते ही गोली मारने के आदेश: वहाँ फँसे भारतीयों को वापस...

बांग्लादेश में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के भी आदेश दिए गए हैं। वहाँ हिंसा में अब तक 115 लोगों की जान जा चुकी है और 1500+ घायल हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -