Tuesday, September 28, 2021
Homeराजनीतियोगी सरकार के कोविड मैनेजमेंट ने दिखाया असर, 24 घंटों में 50 जिले से...

योगी सरकार के कोविड मैनेजमेंट ने दिखाया असर, 24 घंटों में 50 जिले से नहीं आया एक भी कोरोना केस, न हुई कोई मौत

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ACS नवनीत सहगल ने कहा, "पिछले 24 घंटों में, उत्तर प्रदेश के 75 में से 50 जिलों में कोविड-19 का कोई नया मामला सामने नहीं आया और राज्य के 10 जिले ऐसे हैं जिनमें कोई सक्रिय मामला नहीं है।"

उत्तर प्रदेश में कोरोना प्रबंधन के लिए हर जगह योगी सरकार की तारीफ हो रही है। इसी बीच राज्य के एडिशनल चीफ सेक्रेट्री (ACS) नवनीत सहगल का ताजा बयान आया है जो बताता है कि राज्य के 75 जिलों में से 50 जिले ऐसे मिले हैं जहाँ आज (8 अगस्त 2021) एक भी कोरोना केस रिपोर्ट नहीं हुआ। इसके अलावा 10 ऐसे जिले भी हैं जहाँ अब एक भी कोरोना का एक्टिव केस नहीं है।  

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ACS नवनीत सहगल ने कहा, “पिछले 24 घंटों में, उत्तर प्रदेश के 75 में से 50 जिलों में कोविड-19 का कोई नया मामला सामने नहीं आया और राज्य के 10 जिले ऐसे हैं जिनमें कोई सक्रिय मामला नहीं है।” उन्होंने कहा कि लोगों को सतर्क रहना चाहिए और COVID प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए। 

सहगल ने जिन 10 जिलों के COVID-19 मामलों से मुक्त होने का उल्लेख किया है, उनमें अलीगढ़, अमेठी, चित्रकूट, एटा, फिरोजाबाद, गोंडा, हाथरस, मिर्जापुर, पीलीभीत और प्रतापगढ़ शामिल हैं। सहगल के अनुसार, ट्रांसमिशन अभी बहुत कम है लेकिन इस समय सावधानी बरतनी आवश्यक है।

यहाँ बता दें कि उत्तर प्रदेश में 8 अगस्त को कुल 58 नए मामले दर्ज किए गए जबकि 49 केस ठीक हुए। इसी के साथ राज्य में आज एक भी मौत दर्ज नहीं की गई। अब वहाँ केवल COVID-19 के 593 सक्रिय मामले हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी आज ‘चिकित्सा सम्मेलन’ में योगी सरकार के मैनेजमेंट की तारीफ की। साथ ही कहा कि यूपी में पीएम मोदी के नेतृत्व में 30 मेडिकल कॉलेज शुरू हो चुके हैं और ‘मिशन इंद्रधनुष’ के तहत लगभग 7.57 करोड़ बच्चों का टीकाकरण किया गया।

गौरतलब है कि कोरोना संकट जब चरम पर था उस समय उत्तर प्रदेश उन राज्यों में से एक था जहाँ कोविड के आँकड़े तेजी से बढ़ते दिखे। बिलकुल महाराष्ट्र और केरल की तरह यहाँ भी केस बढ़ रहे थे। लेकिन योगी सरकार के मैनेजमेंट ने कुछ समय में तस्वीर बदल दी। अब जहाँ यूपी में 593 मामले एक्टिव हैं और एक दिन में सिर्फ 58 मामले आए हैं। वहीं महाराष्ट्र में एक दिन में कोरोना के 5,508 केस आए और 151 मरीजों की मौत हुई। इसी प्रकार केरल में एक दिन में 18, 607 केस रिपोर्ट किए गए और 93 लोगों की मौत हुई।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe