Monday, January 17, 2022
HomeराजनीतिPM मोदी के पुतले में लगाई आग, बुझाने आए पुलिस वालों को कॉन्ग्रेसियों ने...

PM मोदी के पुतले में लगाई आग, बुझाने आए पुलिस वालों को कॉन्ग्रेसियों ने लात-घूँसों से पीटा: विडियो वायरल

"PM मोदी के पुतला दहन में पुलिस वालों ने मेरे साथ धक्का-मुक्की की, जिसमें मेरे बाल जल गए हैं एवं उंगली में हल्की सी चोट आई है। हम शांतिपूर्ण तरीके से अपना प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन पुलिस प्रशासन का यह रवैया हमें पसंद नहीं आया।"

छत्तीसगढ़ में रविवार (मार्च 1, 2020) को प्रधानमंत्री का पुतला फूँकने से रोके जाने पर NSUI कार्यकर्ताओं ने पुलिकर्मियों को पीटा। सूचना मिली कि आयकर विभाग की छापेमारी का विरोध कर रहे NSUI कार्यकर्ता पहले बेटी-बचाओ चौक पर पहुँचे, और फिर वहाँ उन्होंने पुतले में आग लगाई। जब पुलिसकर्मियों ने ऐसा करते कार्यकर्ताओं को देखा तो वो पुतला छीनकर आग बुझाने लगे। बस इसके बाद क्या? कॉन्ग्रेस का छात्र संगठन भड़क गया।

नतीजतन वहाँ मौजूद NSUI के प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश पांडेय ने पहले पुलिस कर्मी को धक्का मारकर गिरा दिया। फिर उसके साथियों ने पुलिस कर्मियों से हाथापाई शुरू कर दी। देखते ही देखते घटना की वीडियो वायरल हो गई। बाद में पुलिस ने शिकायत के आधार पर राकेश समेत अन्य लोगों के ख़िलाफ़ मामले को दर्ज किया। साथ ही
उच्चाधिकारियों ने तत्काल इन कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी कर इन पर कड़ी कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए।

वीडियो में कार्यकर्ता, सुरक्षा की दृष्टि से तैनात पुलिस कर्मियों को एक के बाद एक लात घूँसों से पीटते देखे गए। इतना ही नहीं वीडियो में प्रदेश उपाध्यक्ष पुलिस कर्मी द्वारा NSUI कार्यकर्ताओं की पिटाई की बात कहते भी दिखे।

एक मीडिया पोर्टल के अनुसार, पत्रकारों से हुई बातचीच में राकेश पांडे ने अपने किए अपराध पर कोई अफसोस व्यक्त नहीं किया, बल्कि उल्टा पुलिस पर ही इल्जाम लगाने लगे। उन्होंने कहा, “हमारे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अच्छा काम कर रहे हैं एवं केंद्र की सरकार उन पर लांछन लगाने के लिए जगह-जगह आयकर विभाग के छापे डलवा रही है। आज के हुए पुतला दहन में पुलिस वालों ने मेरे साथ धक्का-मुक्की की, जिसमें मेरे बाल जल गए हैं एवं उंगली में हल्की सी चोट आई है। हम शांतिपूर्ण तरीके से अपना प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन पुलिस प्रशासन का यह रवैया हमें पसंद नहीं आया।”

यहाँ बता दें कि पूर्व सीएस, आईएएस अफसर, कारोबारी और मुख्यमंत्री की उप सचिव के घर आयकर के छापों का कॉन्ग्रेस विरोध कर रही है। इसी विरोध के मद्देनजर उन्होंने प्रधानमंत्री का पुतला फूँका। मगर, आग लगते ही पास मौजूद पुलिस कर्मियों ने पुतला छीन कर पानी डाल आग बुझा दी। इसी बात से नाराज प्रदेश उपाध्यक्ष ने आरक्षक विजय ध्रुव, फैड्रिक कुजूर की लात घूँसों से पिटाई कर दी।

प्रदेश उपाध्यक्ष को पुलिस पर हाथ छोड़ता देख, अन्य कार्यकर्ताओं ने भी पुलिसवालों पर हाथ उठााए। बाद में कोतवाली पुलिस ने आरक्षक विजय ध्रुव की लिखित शिकायत पर एनएसयूआई के प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश पांडेय एवं अन्य पर आईपीसी की धारा 186, 353, 332 एवं 34 के तहत अपराध दर्ज किया। अब पुलिस के साथ मारपीट करने वालों की गिरफ्तारी के लिए दबिशें दी जा रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘रेप कैपिटल बन गया है राजस्थान’: अलवर मूक-बधिर बच्ची से गैंगरेप मामले में पुलिस का यू-टर्न, गहलोत सरकार ने की CBI जाँच की सिफारिश

अलवर में रेप की शिकार मूक-बधिर बच्ची के मामली की जाँच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीबीआई को सौंप दी है। सरकार का काफी विरोध हो रहा है।

CM योगी का UP: 2000 Cr का अवैध साम्राज्य ध्वस्त, ढेर हुए 140 अपराधी, धर्मांतरण और गोकशी पर शिकंजा, महिलाएँ सुरक्षित हुईं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया। गोकशी-धर्मांतरण पर प्रहार किया। उत्तर प्रदेश में माफिया राज खत्म हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,690FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe