Thursday, August 5, 2021
Homeराजनीतिबॉलीवुड का 'दंगल' छोड़ने पर उमर अब्दुल्ला और फ़ैसल ने ज़ायरा का किया समर्थन

बॉलीवुड का ‘दंगल’ छोड़ने पर उमर अब्दुल्ला और फ़ैसल ने ज़ायरा का किया समर्थन

उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया और लिखा, “ज़ायरा वसीम की पसंद पर सवाल उठाने वाले हम कौन होते हैं? वो जैसे चाहें वैसे अपनी ज़िंदगी जिएँ। मैं बस उन्हें शुभकामना दे सकता हूँ और कामना करता हूँ कि वो जो करें उससे उन्हें ख़ुशी मिले।”

नेशनल अवॉर्ड जीत चुकी एक्ट्रेस ज़ायरा वसीम के बॉलीवुड छोड़ने के फ़ैसले का जम्मू-कश्मीर के नेताओं ने समर्थन किया है। समर्थन के साथ-साथ ज़ायरा को भविष्य के लिए शुभकामनाएँ भी दी हैं। 

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया और लिखा, “ज़ायरा वसीम की पसंद पर सवाल उठाने वाले हम कौन होते हैं? वो जैसे चाहें वैसे अपनी ज़िंदगी जिएँ। मैं बस उन्हें शुभकामना दे सकता हूँ और कामना करता हूँ कि वो जो करें उससे उन्हें ख़ुशी मिले।”

इसके अलावा, भारतीय प्रशासनिक सेवा छोड़कर राजनीति में उतरने वाले शाह फ़ैसल ने शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि वो ज़ायरा वसीम फ़ैसले का सम्मान करते हैं। अपने ट्वीट में फ़ैसल ने लिखा, “मैंने ज़ायरा वसीम के एक्ट्रेस बनने के फ़ैसले का हमेशा सम्मान किया। शायद ही किसी अन्य कश्मीरी ने इतनी कम उम्र में इस तरह की लोकप्रियता और ऐसी सफलता हासिल की हो। आज जब उन्होंने फ़िल्म जगत छोड़ा ही है तो मेरे पास उनके फ़ैसले का सम्मान करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। उन्हें शुभकामनाएँ।”

दरअसल, ज़ायरा वसीम ने यह कहकर बॉलीवुड को बॉय-बॉय कह दिया कि अपने काम से ख़ुश नहीं हैं। अपने फेसबुक पेज पर उन्होंने लिखा कि वो ख़ुश इसलिए नहीं हैं क्योंकि बॉलीवुड उन्हें उनके अल्लाह और उनके मज़हब इस्लाम से दूर कर रहा था। उन्होंने यह भी कहा कि हालाँकि बॉलीवुड ने उन्हें बहुत प्रेम और समर्थन दिया है, लेकिन उनके ईमान से दूर कर दिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टोक्यो ओलंपिक: फाइनल में खूब लड़े रवि दहिया, भारत की चाँदी

टोक्यो ओलंपिक 2020 में पुरुषों की 57 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में रेसलर रवि दहिया ने भारत को सिल्वर मैडल दिलाया है।

जब मनमोहन सिंह PM थे, कॉन्ग्रेस+ की सरकार थी… तब हॉकी टीम के खिलाड़ियों को जूते तक नसीब नहीं थे

एक दशक पहले जब मनमोहन सिंह के नेतृत्व में कॉन्ग्रेस नीत यूपीए की सरकार चल रही थी, तब हॉकी टीम के कप्तान ने बताया था कि खिलाड़ियों को जूते भी नसीब नहीं हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,091FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe