Saturday, October 16, 2021
HomeराजनीतिTMC के दोहरे रवैये के कारण ममता पर भड़के ओवैसी, पूछा- बंगाल में कैसे...

TMC के दोहरे रवैये के कारण ममता पर भड़के ओवैसी, पूछा- बंगाल में कैसे होंगे स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव?

"मैं वहाँ सभा करना चाहता हूँ, लेकिन मुझे इजाजत क्यों नहीं दी जा रही है।" गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में अभी आचार संहिता नहीं लगी है। उसके पहले ही सभा की इजाजत नहीं दी जा रही है। ऐसे में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कैसे होंगे?

पश्चिम बंगाल में सभा की इजाजत न मिलने पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ने तृणमूल कॉन्ग्रेस के खिलाफ़ अपनी नाराजगी जाहिर की है। ओवैसी ने कहा है कि टीएमसी के दो चेहरे हैं जो दिल्ली में संसद में अभिव्यक्ति की आजादी, संविधान व सहमति के अधिकार की बात करते हैं लेकिन बात बंगाल की आती है तो उल्टा करते हैं।

उन्होंने अपनी बात रखते हुए पूछा , “मैं वहाँ सभा करना चाहता हूँ, लेकिन मुझे इजाजत क्यों नहीं दी जा रही है।” गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में अभी आचार संहिता नहीं लगी है। उसके पहले ही सभा की इजाजत नहीं दी जा रही है। ऐसे में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कैसे होंगे?

वह आगे पूछते हैं कि नरेंद्र मोदी, अमित शाह, जेपी नड्डा रैली कर सकते हैं, कॉन्ग्रेस, माकपा और टीएमसी खुल कर रैली निकाल सकती है तो आखिर हम क्यों नहीं?

वह बोले टीएमसी सांसद जब भाषण देते हैं तो जो धर्मनिरपेक्ष व उदारवादी लोग तालियाँ बजाते हैं, उन्हें इस पर सोचना चाहिए। रैली की इजाजत नहीं देने से टीएमसी सांसदों का दोमुँहापन व खोखलापन सामने आ गया है। 

गौरतलब है कि AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को अल्पसंख्यक बहुल मेतियाब्रुज इलाके में रैली के जरिए बंगाल विधान सभा चुनाव से पहले पार्टी के प्रचार अभियान की शुरुआत करनी थी, लेकिन प्रदेश सचिव ने बताया कि पुलिस ने उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी।

प्रदेश सचिव ने कहा, “हमने इजाजत के लिए 10 दिन पहले आवेदन दिया था, मगर रैली से ठीक एक दिन पहले पुलिस ने सूचित किया कि वे हमें रैली करने की इजाजत नहीं देंगे। हम टीएमसी के ऐसे हथकंडों के आगे झुकेंगे नहीं। हम चर्चा करेंगे और कार्यक्रम की नई तारीख बताएँगे।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश में 10 साल की हिंदू बच्ची की मौत, जुमे की नमाज के बाद हुआ था गैंगरेप: मौसी और नानी से भी दुष्कर्म, उलटे...

10 साल की मासूम के साथ कट्टरपंथियों की भीड़ ने रेप किया था। अब खबर है कि ज्यादा खून बह जाने से उसकी जान चली गई।

गहलोत सरकार में मदरसों की बल्ले-बल्ले, मिलेगा 25-25 लाख रुपए का ‘दीवाली बोनस’, BJP का तंज – ‘जनता के टैक्स का सदुपयोग’

राजस्थान में मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण योजना के तहत मदरसों के लिए मुस्लिमों को 25 लाख रुपए तक की राशि सरकार देगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,973FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe