Thursday, July 25, 2024
HomeराजनीतिPM मोदी ने रखी थी 'आत्मनिर्भर भारत' की नींव, 'आत्मनिर्भरता' बना 2020 का ऑक्सफ़ोर्ड...

PM मोदी ने रखी थी ‘आत्मनिर्भर भारत’ की नींव, ‘आत्मनिर्भरता’ बना 2020 का ऑक्सफ़ोर्ड हिंदी शब्द

वर्ष 2017 में 'आधार' को ऑक्सफ़ोर्ड द्वारा हिंदी शब्द चुना गया था। वर्ष 2018 में 'नारी शक्ति' और वर्ष 2019 में 'संविधान' को चुना गया था।

ऑक्सफ़ोर्ड लैंग्वेजेज़ ने ‘आत्मनिर्भरता’ शब्द को वर्ष 2020 के लिए ऑक्सफ़ोर्ड हिंदी शब्द चुना है। कोरोना वायरस महामारी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ‘आत्मानिर्भर भारत’ अभियान के लिए की गई महत्वपूर्ण पहल के बाद यह शब्द, ‘आत्मनिर्भरता’ (Aatmanirbharta) प्रमुखता से इस्तेमाल किया जाता रहा है।

ऑक्सफ़ोर्ड लैंग्वेजेज़ के अनुसार, “साल का शब्द किसी ऐसे शब्द को चुना जाता है, जिससे बीते साल का मूड और लोगों की व्यवस्तता झलकती हो और जिसका आने वाले दौर में भी सांस्कृतिक महत्व होता है। आत्मनिर्भरता शब्द का अर्थ और सोच बीते साल अधिकतर भारतीयों की भावना का हिस्सा रहा है।”

ऑक्सफोर्ड ने वर्ष 2020 के हिंदी शब्द (Hindi word of the year 2020) के चुनाव के लिए समिति का गठन किया था। ‘हिंदी वर्ड ऑफ़ द ईयर’ की सलाहकार समिति की विशेषज्ञ कृतिका अग्रवाल ने कहा कि उन्हें चयन के लिए कई शब्द मिले थे, लेकिन ‘आत्मनिर्भरता’ शब्द को इसलिए चुना गया क्योंकि यह शब्द असंख्य भारतीयों की रोजाना के संघर्ष और कोरोना वायरस महामारी के विरुद्ध उनकी लड़ाई को दर्शाता है।

एक प्रेस रिलीज में ‘ऑक्सफ़ोर्ड लैंग्वेजेज़’ ने कहा, “विगत वर्ष भारत के लिए मुश्किलों से भरा था। कोरोना वायरस महामारी के कारण देशव्यापी कठोर लॉकडाउन लगाया गया। लोगों की आवाजाही को लेकर लगाई गई पाबंदियों का सीधा असर देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ा, जिससे लाखों लोग प्रभावित हुए। इस मुश्किल दौर में लोगों ने अपनी कोशिशें जारी रखीं और आत्मनिर्भरता का प्रमाण दिया।”

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 पैकेज की घोषणा करते हुए ‘आत्मनिर्भरता’ पर विशेष जोर दिया था। आत्मनिर्भर अभियान के तहत ही भारत ने कोविड-19 वैक्सीन निर्माण में बड़ी सफलता हासिल की। एक ओर जहाँ देश में बड़े पैमाने पर कोरोना वैक्सीन का निर्माण हो रहा है, वहीं भारत कई देशों को भी वैक्सीन सप्लाय कर रहा है।

इससे पहले, वर्ष 2017 में ‘आधार’ को ऑक्सफ़ोर्ड द्वारा हिंदी शब्द चुना गया था। वर्ष 2018 में ‘नारी शक्ति’ और वर्ष 2019 में ‘संविधान’ को चुना गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -