पाकिस्तानियों ने सोशल मीडिया में फिर दिखाई नीचता, अरुण जेटली के निधन पर खुशी से बावले हुए

हैरान करने वाली बात यह है कि केवल पाकिस्तानी ही नहीं हैं जो इस मौके पर भी ज़हर उगल रहे हैं। कुछ ‘अमनपसंद’ भारतीय भी पाकिस्तानियों को भाषा बोलते नजर आ रहे हैं।

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को निधन हो गया। उनके निधन पर दुनिया के हर हिस्से से संवेदनाएँ आ रही हैं। पर गम की इस घड़ी में भी पाकिस्तानी अपनी नीचता दिखाने में पीछे नहीं रहे।

जेटली के निधन से बावले हुए पाकिस्तानियों ने खुशी मनाते हुए ट्वीट किए हैं। इससे पहले पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर पाकिस्तानी अपनी ओछी हरकतों से बाज नहीं आए थे।

जेटली के निधन की ख़बर आते ही एक पाकिस्तानी यूज़र ने उनके लिए अपशब्दों का करते हुए लिखा, “आपको नरक में जाना पड़ेगा।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

एक अन्य पाकिस्तानी ने ट्वीट किया, “पहले सुषमा स्वराज और अब अरुण जेटली। इंशाअल्लाह अगले नरेंद्र मोदी और अमित शाह होंगे, क्योंकि इनकी मौत के लिए कश्मीरी दुआ कर रहे हैं। कश्मीर में अत्याचार के लिए ये लोग गुनहगार हैं। इनका अत्याचार जल्द खत्म होगा और ये सब नरक में सड़ेंगे।”

72 हूर की आस में बेगुनाहों का कत्ल करने वाली कौम से जुड़े अधिकांश पाकिस्तानी यूजरों ने जेटली को नरक मिलने की कामना की।

हैरान करने वाली बात यह है कि केवल पाकिस्तानी ही नहीं हैं जो इस मौके पर भी ज़हर उगल रहे हैं। कुछ ‘अमनपसंद’ भारतीय भी पाकिस्तानियों को भाषा बोलते नजर आ रहे हैं। ट्विटर यूजर @ Musanghistani ने जेटली को फासीवादी हिंदुत्ववादी बताते हुए लिखा है एक कम नाजी हमेशा समाज के लिए अच्छा होता है। शायद वो नरक में सड़े।

पूर्व केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर भी उनके ख़िलाफ़ इसी तरह अभद्र टीका-टिप्पणी की गई थी।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सबरीमाला मंदिर
सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के अवाला जस्टिस खानविलकर और जस्टिस इंदू मल्होत्रा ने इस मामले को बड़ी बेंच के पास भेजने के पक्ष में अपना मत सुनाया। जबकि पीठ में मौजूद जस्टिस चंद्रचूड़ और जस्टिस नरीमन ने सबरीमाला समीक्षा याचिका पर असंतोष व्यक्त किया।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,578फैंसलाइक करें
22,402फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: