Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'मुशर्रफ से हमेशा मिलने आते थे कैप्टेन अमरिंदर': सिद्धू के लिए Pak से आया...

‘मुशर्रफ से हमेशा मिलने आते थे कैप्टेन अमरिंदर’: सिद्धू के लिए Pak से आया समर्थन, मंत्री फवाद हुसैन ने ‘गुरु’ का किया बचाव

फवाद चौधरी ने दावा किया कि अमरिंदर सिंह के भी परवेज मुशर्रफ के साथ संबंध थे, जब वह राष्ट्रपति थे। उन्होंने कहा कि अमरिंदर नियमित रूप से पाकिस्तान जाते थे।

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा वरिष्ठ कॉन्ग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर पाकिस्तानी सेना और इमरान खान से संबंध होने का आरोप लगाने के बाद पाकिस्तान के सूचना और प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी उनके बचाव में सामने आए हैं। बता दें कि अमरिंदर सिंह ने (सितंबर 18, 2021) को इस्तीफा देने के दौरान यह आरोप लगाया था।

फवाद चौधरी ने दावा किया कि अमरिंदर सिंह के भी परवेज मुशर्रफ के साथ संबंध थे, जब वह राष्ट्रपति थे और वह नियमित रूप से पाकिस्तान जाते थे। फवाद चौधरी ने अमरिंदर सिंह से ‘दिल रखने’ और सिद्धू के खिलाफ आपत्ति नहीं जताने के लिए कहा, जो उनके इस्तीफे के बाद सीएम पद पर नजर गड़ाए हुए हैं।

Source: Twitter

शनिवार को अपने इस्तीफे के बाद, सिंह ने दावा किया था कि नवजोत सिंह सिद्धू राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा हैं। उन्होंने कहा कि सिद्धू इमरान खान के दोस्त हैं और पाकिस्तानी जनरल कमर बाजवा के साथ उनके संबंध हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि सिद्धू को इमरान खान के शपथ ग्रहण में शामिल नहीं होने के लिए कहा था, लेकिन सिद्धू शामिल हुए थे। उन्होंने कहा कि अगर कॉन्ग्रेस सिद्धू को अध्यक्ष बनाए तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं, लेकिन अगर उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जाता है तो वो इसका विरोध करेंगे क्योंकि वह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा होगा। उन्होंने कहा कि उनके पाकिस्तानी पीएम इमरान और जनरल बाजवा के साथ घनिष्ठ संबंध हैं, जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए अच्छा नहीं होगा।

सिद्धू की पाकिस्तान यात्राओं के संबंध में सिंह ने सिद्धू से कहा, “यहाँ मेरे सैनिक मारे जा रहे हैं और आप जा रहे हो और पाकिस्तानी प्रमुख जनरल बाजवा को गले लगा रहे हो। फिर आप इमरान खान के पास जा रहे हैं जहाँ हमारे देश के खिलाफ नीतियाँ बनाई जाती हैं। क्या आप जानते हैं कि पंजाब में रोजाना कितने ड्रोन आ रहे हैं? पंजाब में कितना हथियार आया है? कितने आरडीएक्स विस्फोटक, कितने हथगोले, कितने पिस्तौल, 50,000 से अधिक गोला-बारूद, यह सब राज्य में आ रहा है, यह किस लिए आता है?”

शनिवार को की गई टिप्पणियों के बाद फवाद चौधरी सिद्धू के सहयोगी के रूप में सामने आए हैं। पाकिस्तानी मंत्री ने पहले स्वीकार किया था कि पुलवामा आतंकी हमले के पीछे उनका देश था। उन्होंने पाकिस्तान की राष्ट्रीय सभा में कहा था, “हमने हिंदुस्तान को घुस के मारा। पुलवामा में हमारी सफलता, इमरान खान के नेतृत्व में लोगों की सफलता है। आप और हम सभी उस सफलता का हिस्सा हैं।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -