Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिबिना पेड़ काटे 'मोन शुगु' कागज, खराब सब्जियों से बिजली: Mann Ki Baat में...

बिना पेड़ काटे ‘मोन शुगु’ कागज, खराब सब्जियों से बिजली: Mann Ki Baat में PM मोदी को तिरंगे की चिंता

बोयिनपल्ली सब्जी मंडी ने तय किया है कि बचने वाली सब्जियों को फेंका नहीं जाएगा, बिजली बनाई जाएगी। पहाड़ी इलाके में ‘मोन शुगु’ पेपर बनाया जाता है, इसके लिए पेड़ों को काटा नहीं जाता।

किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (जनवरी 31, 2021) को ‘मन की बात’ के जरिए लोगों को सम्बोधित किया। इस दौरान उन्होंने अपने कार्यक्रम के बारे में बताते हुए कहा कि हमारी छोटी-छोटी बातें, जो एक-दूसरे को कुछ सिखा जाए, जीवन के खट्टे-मीठे अनुभव जो, जी-भर के जीने की प्रेरणा बन जाएँ – बस यही तो है ‘मन की बात’। उन्होंने कहा कि जब वो ‘मन की बात’ करते हैं तो ऐसा लगता है, जैसे लोगों के बीच, उनके परिवार के सदस्य के रूप में उपस्थित हैं। उन्होंने लाल किला से लेकर चिली तक की बातें की।

उन्होंने पिछले दिनों संपन्न हुए त्योहारों का जिक्र करते हुए कहा कि कुछ दिन पहले की ही तो बात लगती है, जब हम एक दूसरे को शुभकामनाएँ दे रहे थे, फिर हमने लोहड़ी मनाई, मकर संक्रांति मनाई, पोंगल, बिहु मनाया। देश के अलग-अलग हिस्सों में त्योहारों की धूम रही। 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिन को ‘पराक्रम दिवस’ के तौर पर मनाया गया और 26 जनवरी को ‘गणतंत्र दिवस’ की शानदार परेड भी सबने देखी।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की सीरीज जीत पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इस महीने, क्रिकेट पिच से भी बहुत अच्छी खबर मिली, जहाँ हमारी क्रिकेट टीम ने शुरुआती दिक्कतों के बाद, शानदार वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीती। पीएम मोदी ने कहा कि हमारे खिलाड़ियों की कड़ी मेहनत और टीमवर्क प्रेरित करने वाला है। लेकिन, उन्होंने याद दिलाया कि इन सबके बीच दिल्ली में 26 जनवरी को तिरंगे का अपमान देख देश बहुत दुखी भी हुआ।

पीएम मोदी ने कहा कि हमें आने वाले समय को नई आशा और नवीनता से भरना है और हमने जिस तरह पिछले साल असाधारण संयम और साहस का परिचय दिया था, इस साल भी हमें कड़ी मेहनत करके अपने संकल्पों को सिद्ध करना है। उन्होंने याद दिलाया कि कैसे पद्म पुरस्कारों के लिए जमीनी स्तर पर काम करने वाले छिपे हुए नायकों को सम्मान देने का जो क्रम शुरू हुआ था, वो इस वर्ष भी जारी रहा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस साल की शुरुआत के साथ ही कोरोना के खिलाफ हमारी लड़ाई को भी करीब-करीब एक साल पूरा हो गया है। जैसे कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई एक उदाहरण बनी है, वैसे ही, अब, हमारा टीकाकरण अभियान भी दुनिया में एक मिसाल बन रहा है। उन्होंने जानकारी दी कि हम सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के साथ ही दुनिया में सबसे तेज गति से अपने नागरिकों का वैक्सीनेशन भी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भारत के हर हिस्से में, हर शहर, कस्बे और गाँव में आजादी की लड़ाई पूरी ताकत के साथ लड़ी गई थी। भारत भूमि के हर कोने में ऐसे महान सपूतों और वीरांगनाओं ने जन्म लिया, जिन्होंने राष्ट्र के लिए अपना जीवन न्योछावर कर दिया। उन्होंने मैं सभी देशवासियों को और खासकर के युवाओं को आह्वान किया कि वो देश के स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में लिखें। अपने इलाके में स्वतंत्रता संग्राम के दौर की वीरता की गाथाओं के बारे में किताबें लिखें। उन्होंने कहा:

“हैदराबाद के बोयिनपल्ली में एक स्थानीय सब्जी मंडी किस तरह अपने दायित्व को निभा रही है, ये पढ़ कर भी मुझे बहुत अच्छा लगा। बोयिनपल्ली की सब्जी मंडी ने तय किया है कि बचने वाली सब्जियों को ऐसे फेंका नहीं जाएगा, इससे बिजली बनाई जाएगी। पहाड़ी इलाके में सदियों से ‘मोन शुगु’ नाम का एक पेपर बनाया जाता है। इसके लिए पेड़ों को नहीं काटना पड़ता है। अमेरिका के सन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु के लिए एक नॉन-स्टॉप फ्लाइट की कमान भारत की चार महिला पायलट्स ने संभाली। दस हजार किलोमीटर से भी ज्यादा लंबा सफ़र तय करके ये फ्लाइट सवा दो-सौ से अधिक यात्रियों को भारत लेकर आई।”

प्रधानमंत्री ने देश को बताया कि पिछले दिनों झाँसी में एक महीने तक चलने वाला ‘स्ट्रॉबेरी फेस्टिवल’ शुरू हुआ। कानून की छात्रा गुरलीन ने पहले अपने घर पर और फिर अपने खेत में स्ट्रॉबेरी की खेती का सफल प्रयोग कर ये विश्वास जगाया है कि झाँसी में भी ये हो सकता है। पश्चिम बंगाल के वेस्ट मिदनापुर स्थित ‘नया पिंगला’ गाँव के एक चित्रकार सरमुद्दीन की रामायण पर बनाई पेंटिंग 2 लाख रुपए में बिकी, जिस पर पीएम मोदी ने ख़ुशी जताई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को बड़ी जानकारी दी कि चिली की राजधानी सैंटिगो में 30 से ज्यादा योग विद्यालय हैं। चिली में न सिर्फ अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस भी बड़े ही उत्साह से मनाया जाता है, बल्कि ‘हाउस ऑफ़ डेप्यूटीज’ में योग दिवस को लेकर बहुत ही गर्मजोशी भरा माहौल होता है। उन्होंने जनता को याद दिलाया कि इसी महीने 18 जनवरी से 17 फरवरी तक, हमारा देश ‘सड़क सुरक्षा माह’ यानी ‘Road Safety Month’ भी मना रहा है। सड़क हादसे आज हमारे देश में ही नहीं पूरी दुनिया में चिंता का विषय है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe