Monday, June 24, 2024
Homeराजनीतिकोरोना से जंग ने और मजबूत की PM मोदी की साख, 68% के साथ...

कोरोना से जंग ने और मजबूत की PM मोदी की साख, 68% के साथ बने सबसे लोकप्रिय ग्लोबल लीडर

साल की शुरुआत में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेट अप्रुवल रेटिंग 62% के साथ सबसे ऊपर बनी हुई थी। अब वैश्विक नेताओं के बीच उनकी स्थिति और मजबूत हुई है।

कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू पाने के लिए भारत के प्रयासों की दुनियाभर में सराहना हो रही है। इसने पूरी दुनिया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की साख और मजबूत की है। वे सबसे लोकप्रिय ग्लोबल लीडर हैं।

कोरोना से लड़ने के लिए अन्य देशों के मुकाबले भारत की नीति व प्रयास कई मायनों में अभूतपूर्व रहे हैं। इन्हीं कोशिशों का नतीजा है कि 130 करोड़ की जनता वाले देश में ये संक्रमण व्यापक स्तर पर अब तक नहीं फैल पाया। लॉकाडउन जैसे फैसले यहाँ पर स्थिति बिगड़ने से पहले ही ले लिए गए। रोकथाम के उपायों पर भी खूब काम हुआ।

तबलीगी जमात से हॉट्सपॉट बनकर निकले नासूरों का पता लगने के बाद भी देशों ने खुद को बहुत स्तर तक इस महामारी के प्रकोप से बचाया। मगर, कुछ विरोधी फिर भी नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार पर उंगलियाँ उठाते रहे। अब इन्हीं सवालों का जवाब देते हुए एक पोल में दी गई रेटिंग आई है। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विश्व के किसी भी लोकतांत्रिक देश के अन्य नेता से ज्यादा रेटिंग मिली है। इसे पोलस्टर मॉर्निंग कंसल्ट ने जारी किया है।

इस रेटिंग के मुताबिक भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता सबसे अधिक है। जानकारी के अनुसार, साल की शुरुआत में नरेंद्र मोदी की रेटिंग 62% थी जो 14 अप्रैल तक बढ़कर 68% हो गई थी। मोदी के बाद दूसरे नंबर पर मेक्सिको के प्रेसिडेंट एंड्रेस मैनुअल लोपेज ओबराडोर हैं। जनवरी में उनकी रेटिंग 39% थी। उसके बाद थोड़ी गिरावट के साथ 36% पर पहुँच गई है। बावजूद इसके वे दूसरे नंबर पर हैं। लोकप्रियता में सबसे अधिक बढ़त देखने ऑस्ट्रेलियन प्राइम मिनिस्टर स्कॉट मॉरिसन की रेटिंग में देखने को मिली है। साल की शुरुआत में ये -26 थी जो अब 26 तक पहुँच गई है।

Approval ratings of world leaders, where Prime Minister Modi has surged ahead

मॉर्निंग कंसल्ट के डेटा से पता चलता है कि सर्वे किए गए सभी दस देशों में, जापान के पीएम शिंजो आबे की अप्रुवल रेटिंग सबसे कम है (-33 पर), और नेट अप्रुवल में भी ये सबसे खराब गिरावट है। ग्राफ को यदि देखें तो नीली रेखा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अप्रुवल रेटिंग को दर्शाती है और इसका लगातार सबसे ऊपर बने रहना बताता है कि पीएम मोदी इस मामले में किसी भी विश्व के अन्य नेता से ऊपर उठ गए हैं।

Approval ratings of world leaders where PM Modi has surged ahead

दिलचस्प यह है कि केवल कोरोना महामारी के बीच ही नहीं बल्कि साल की शुरुआत में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेट अप्रुवल रेटिंग 62% के साथ सबसे ऊपर बनी हुई थी। मगर अब उनकी ये रेटिंग 68 पहुँचने के बाद उन्हें नेताओं से काफी बढ़त मिली है।

गौरतलब है कि अप्रैल 14 को देश की स्थिति को समझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया था। हालाँकि ये घोषणा करते हुए उन्होंने ये भी कहा था कि 20 अप्रैल तक हर एरिया हर क्षेत्र, हर नगर, हर राज्य पर सख्ती से निगरानी की जाएगी और फिर तय किया जाएगा कि जहाँ पर भी स्थिति सुधरी है वहाँ पर छूट दें। बता दें, 22 अप्रैल तक जो संक्रमितों की संख्या 15, 122 तक पहुँच गई है। वो संख्या 20 अप्रैल तक देश में 14, 175 पहुँच चुकी थी। जिसे देखते हुए कई राज्यों ने अपने यहाँ लॉकडाउन को बढ़ाए रखने का फैसला किए रखा। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार में EOU ने राख से खोजे NEET के सवाल, परीक्षा से पहले ही मोबाइल पर आ गया था उत्तर: पटना के एक स्कूल...

पटना के रामकृष्ण नगर थाना क्षेत्र स्थित नंदलाल छपरा स्थित लर्न बॉयज हॉस्टल एन्ड प्ले स्कूल में आंशिक रूप से जले हुए कागज़ात भी मिले हैं।

14 साल की लड़की से 9 घुसपैठियों ने रेप किया, लेकिन सजा 20 साल की उस लड़की को मिली जिसने बलात्कारियों को ‘सुअर’ बताया:...

जर्मनी में 14 साल की लड़की का रेप करने वाले बलात्कारी सजा से बच गए जबकि उनकी आलोचना करने वाले एक लड़की को जेल भेज दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -